पूर्व कलैक्टर डी एस राय की ताप्ती न्यास अध्यक्ष पद पर की गई नियुक्ति


बैतूल जिले के ताप्ती भक्तो का अपमान की गई नियुक्ति बैतूल जिले के ताप्ती भक्तो का अपमान

बैतूल, पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती की जन्मभूमि से लेकर जिले की 250 किमी की प्रवाह सीमा में जन्मे – पले – बढ़े ताप्ती भक्त के बदले किसी अन्य जिले के सरकारी नौकरी में रहे नौकरशाह अधिकारी (पूर्व बैतूल जिला कलैक्टर) डीएस राय को पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती नदी का न्यास अध्यक्ष बनाने का फैसला जिले के बहुसख्ंयक ताप्ती भक्तो का अपमान है. ताप्ती न्यास के अध्यक्ष पद की नियुक्ति में न तो ताप्ती के संग न्याय हुआ है और न ताप्ती भक्तो के संग न्याय हुआ है. ताप्ती नदी के मान – सम्मान से लेकर मध्यप्रदेश गान मे उसका नाम जुड़वाने के लिए डीएस राय कभी सड़क या मैदान में खड़े नहीं हुए. ताप्ती दर्शन यात्रा में एक दिन झण्डा लेकर चलने वाले को यदि ताप्ती न्यास का अध्यक्ष बनाने का फैसला यदि सही है तो फिर दर्शन या परिक्रमा यात्रा से लेकर चुनरी यात्रा में भाग लेने वाले हजारो उन भक्तो का भी तो अधिकार बनता है जो ताप्ती के किनारे जन्मे और पले – पढ़े है.


माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति मध्यप्रदेश के अध्यक्ष रामकिशेार पंवार ने डीएस राय की ताप्ती न्यास अध्यक्ष पद पर नियुक्ति को मेहनत करे मुर्गा अण्डा खाए फकीर वाली कहावत बताया. एक प्रेस विज्ञिप्त में बीते दो दशक से ताप्ती की मान – सम्मान – पहचान की लड़ाई लडऩे वाले रामकिशोर पंवार ने कांग्रेस सरकार के एक केबिनेट मंत्री सुखदेव पांसे को ताप्तीचंल से बाहर के व्यक्ति को ताप्ती न्यास का अध्यक्ष बनवाने के पाप का भागीदार बताया है. श्री पंवार ने इस नियुक्ति का खुल कर विरोध करने का एवं जिले के ताप्ती भक्तो को लेकर एक बड़े जन आन्दोलन की घोषणा की है. श्री पंवार का यह आरोप है कि जिले के केबिनेट मंत्री सुखदेव पांसे नही चाहते थे कि कोई अन्य जिले में पावर सेंटर बने इसलिए पांसे ने जानबुझ कर जिले के आदिवासी विधायको में से एक भी ताप्ती न्यास का सदस्य नही बनने दिया. भैसदेही कें विधायक धरमू सिंह को मंत्री बनवाने की घोषणा करने वाले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उन्हे ताप्ती न्यास का सदस्य तब नही बनने दिया. श्री पंवार ने अपनी विज्ञिप्त में कहा कि भैसदेही विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक ताप्ती जी बहती है उसके बाद भी भैसदेही के विधायक को ताप्ती न्यास का अध्यक्ष तो दूर सदस्य तक बनने नहीं दिया. ताप्ती नदी के अध्यक्ष एवं सदस्य की नियुक्ति से ताप्ती भक्तो की भावनाओ को आघात पहुंचा है उसका खामियाजा जिले के मंत्री और मुख्यमंत्री को आने वाले चुनावो में भुगतना होगा. जिले की 558 ग्राम पंचायतो एवं जनपदो तथा जिला पंचायत , नगरीय निकायो के चुनाव में कांग्रेस का ताप्ती भक्तो के संग जबदस्त विरोध कार्यक्रम होगा.
बैतूल जिले के बारह सौ गांवो में ताप्ती नदी के भक्तो तक ताप्ती न्यास अध्यक्ष की नियुक्ति का विरोध प्रदर्शन करने के लिए जन आन्दोलन की तैयारी की जाएगी जिसको लेकर शीध्र मुलताई में ही कांग्रेस एवं ताप्ती भक्तो की एक बैठक आयोजित की जाएगी. श्री पंवार ने कहा कि डीएस राय की नियुक्ति स्वीकार नहीं की जाएगी भले ही इसके लिए हमें कोई भी परिणाम क्यों न भुगतना पड़े.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s