मध्यप्रदेश में डॉक्टरों और नर्सों की जल्द होगी भर्ती-


मंत्री सिलावट की स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक

मध्यप्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा है कि पिछले छः महीने में निलंबित किए गए डॉक्टरों को बहाल किया जाएगा। इसके अलावा मध्यप्रदेश में 1700 डॉक्टरों की भर्ती के लिए जल्द प्रकिया शुरू होगी। जिससे स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी हद तक सुधार हो पाएगा।

मंत्री ने समीक्षा बैठक में अधिकारियों को शिशु और मातृ मृत्यु दर कम करने के लिए जिलेवार कार्य योजना बनाने को भी कहा है। इसके अलावा अस्पतालों की हालत को बेहतर बनाने के लिए राज्य के सभी अफसर हफ्ते में एक दिन सरकारी अस्पतालों का निरीक्षण करेंगे।

बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने कहा कि 722 मेडिकल ऑफिसर, 900 से अधिक विशेषज्ञों, 5000 नर्सों, 620 लैब टेक्नीशियन व 4000 कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसरों की भर्ती भी जल्द शुरू होगी।

मुलतापी समाचार

खुद जागरूक हो और दुसरों को भी करें – बी एल पवार


मुलतापी समाचार बैतूल – 15 फरवरी को संतुलन संस्था द्वारा आयोजित स्व. मधुलिका अग्रवाल की स्मृति में कैंसर शिविर का आयोजन सुबह 10 बजे न्यू बैतूल स्कूल परिसर में किया जा रहा है। इस घातक बीमारी से पीड़ित मरीजों को उपचार देने के साथ-साथ जागरूक करने के सार्थक प्रयास किए जा रहे है।

जिला क्षत्रिय पवार समाज संगठन बैतूल के अध्यक्ष बी. एल. पवार ( कालभोर ) ने अपील की है कि शिविर में पहुंचकर कैंसर के बारे में विस्तृत जानकारी ले, जिससे कैंसर के शुरुआती लक्षणों के बारे में पता चल सके और समय पर उसका उपचार किया जा सके।

मुलतापी समाचार

मूंगफली के अंदर छिपाए 45 लाख के विदेशी नोट सुरक्षाकर्मी भी हैरान


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नई दिल्ली इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल  ने आरोपी के सामान की तलाशी ली तो  उसने देखा कि विदेशी नोट को बहुत ही छोटे आकार में मोड़ कर मूंगफली के अंदर भरा गया है ! इतना ही नहीं आरोपी बिस्किट और मिठाई के अंदर भी विदेशी मुद्रा छुपा कर अपने साथ ले जा रहा था! पूछताछ में पता चला कि आरोपी यह सभी सामान दुबई ले जा रहा था! आरोपी की पहचान मुराद आलम के रूप में की गई है! सभी जरूरी जानकारी ले लेने के बाद सीआईएसएफ के अधिकारियों ने उसे कस्टम विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया है!

UIDAI ने बच्चों के लिए पेश किया बाल आधार कार्ड, जानें इसके बारे में


Baal Aadhaar: देश के हर नागरिक के लिए आधार कार्ड अनिवार्य हो गया है क्योंकि कई सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए इसकी जरुरत पड़ती है। बैंकों में भी इसका उपयोग होता है। 5 साल से कम उम्र के बच्चों का भी आधार कार्ड बनवाया जा सकता है। आधार कार्ड की मॉनिटरिंग करने वाली संस्था UIDAI ने 12 फरवरी को नीले रंग का ‘बाल आधार’ कार्ड पेश किया है जो 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए इस्तेमाल होगा। UIDAI ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के जरिये Baal Aadhaar कार्ड के बारे में घोषणा की है।UIDAI द्वारा जारी किए गए ट्वीट में कहा गया है ‘नीले रंग के बाल आधार कार्ड का इस्तेमाल सिर्फ 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए ही किया जा सकता है।

5 साल के बाद यह कार्ड Invalid हो जाएगा। 5 साल की उम्र के बाद इस कार्ड को रिएक्टिव कराने के लिए बच्चे का बायोमैट्रिक अपडेशन जरूरी है।’
UIDAI ने यह कदम बच्चों को मिलने वाली सरकारी योजनाओँ के लाभ के मद्देनजर उठाया है। नीले रंग का यह कार्ड मां-बाप के साथ ही बच्चों को भी योजनाओं का लाभ दिलाने में मददगार साबित होगा। पूर्व में UIDAI 5 साल से कम उम्र के बच्चों के बायोमैट्रिक डिटेल स्वीकार नहीं करते थे। 5 साल की उम्र पार होने के बाद कार्ड अपडेशन के लिए मां-बाप के बायोमैट्रिक अथेंटिकेशन की जरुरत पड़ती थी।


बाल आधार बनाने यह स्टेप्स करें फॉलो

  • UIDAI आधार सेंटर में appointments.uidai.gov.in/bookappointment.aspx?AspxAutoDetectCookieSupport=1; लिंक की मदद से अपाइंटमेंट बुक करें
  •  अपाइंटमेंट बुकिंग के बाद तय तारीख एवं समय पर बच्चे के साथ आधार सेंटर पहुंचे
  • आधार कार्ड रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरें
  •  आधार कार्ड रजिस्ट्रेशन फॉर्म के साथ बच्चे का जन्म प्रमाणपत्र संलग्न करें
  • आधार कार्ड रजिस्ट्रेशन फॉर्म के साथ मां-बाप के आधार कार्ड की कॉपी भी लगाएं
  • फॉर्म में जरूरी जगहों पर फोटोग्राफ्स भी लगाएं
  •  इस फॉर्म को आधार कार्ड सेंटर के कर्मचारी को सबमिट करें
  • आधार कार्ड सेंटर का कर्मचारी बाल आधार को पेरेंट्स के आधार कार्ड से लिंक करेगा
  •  इसके बाद पेरेंट्स के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक कन्फर्मेंशन मैसेज आएगा
  • कन्फर्मेंशन मैसेज आने के 60 दिनों के भीतर बाल आधार कार्ड मेलिंग एड्रेस पर डिलीवर हो जाएगा

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

जनपद कार्यालय हटा में 27 लाख रुपए से ज्यादा का गबन तीन आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज.        मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल


हटा: जनपद पंचायत कार्यालय हटा के अंतर्गत राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना में हुए गबन के मामले में  हटा पुलिस ने 3 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है! उपनिरीक्षक अभिषेक चौबे ने बताया कि जनपद सीईओ आशीष अग्रवाल ने प्रतिवेदन दिया है जिसमें जनपद पंचायत हटा मैं 1 अक्टूबर 2018 से 8 जनवरी 2020 तक की अवधि में आरोपियों सोहित कटारिया सहायक ग्रेड 3  कोषालय हटा कुंजीलाल पटेल सहायक ग्रेड 3 कोषालय दमोह एवं धर्मेंद्र लोधी पूर्व अकाउंटेंट ने सीईओ के आईडी पासवर्ड का उपयोग करके 110 लोगों के खातों में लगभग 25 से 30 लाख रुपए ट्रांसफर कर दिए! इसकी न तो जनपद सीईओ को भनक लगी ना ट्रेजरी को!

उन्होंने बताया कि 110 हितग्राहियों में से 53 बार एक ही हितग्राही के खाते में राशि ट्रांसफर कर गबन किया गया! नियमानुसार जावक में भी बिलों की  प्रविष्टि नहीं की गई! सीधे कोषालय बिल भेज कर राशि ऑनलाइन ट्रांसफर कर दी गई!   बिलों  पर प्रभारी अधिकारी के रूप में सीईओ के हस्ताक्षर भी नहीं कराए और धर्मेंद्र लोधी के पास पूर्व से उपलब्ध डिजिटल हस्ताक्षर का उपयोग कर  फर्जी तरीके से बिल कोषालय भेजकर शासकीय राशि का गबन कर दिया गया!

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

MP भोपाल रेलवे स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का स्लोप ढहा, करीब 5 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका


Multapi samachar

Breaking news

  • भोपाल स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 2-3 पर हादसा हुआ।
  • मलबे से निकाले गए लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।
  • घटना के कारण गाड़ियों को रोका गया आउटर पर

हादसा 2-3 नंबर प्लेटफॉर्म पर हुआ, तब तिरुपति निजामुद्दीन एक्सप्रेस खड़ी हुई थीएफओबी से प्लेटफॉर्म की ओर जाने वाला स्लोप गिरा, नीचे बैठे कई लोग चपेट में आए

मुलतापी समाचार

भोपाल मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पुराने स्टेशन पर गुरुवार को फुटओवर ब्रिज (एफओबी) के स्लोप का एक हिस्सा ढह गया। घटना के वक्त स्टेशन पर काफी लोगों की भीड़ थी। इसके मलबे में करीब 5 लोगों के दबे होने की आशंका है। पुलिस और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी राहत-बचाव कार्य में जुटे हैं। कुछ घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सूत्रों के मुताबिक, हादसा 2-3 नंबर प्लेटफॉर्म पर हुआ। उस वक्त तिरुपति निजामुद्दीन एक्सप्रेस खड़ी हुई थी। फुटओवर ब्रिज के नीचे कुछ स्टॉल भी लगे हुए थे। हादसे के बाद रेलवे प्रशासन ने आम यात्रियों के लिए एफओबी को बंद कर दिया।

भोपाल रेलवे स्टेशन, फुटओवर ब्रिज का हिस्सा गिरा


मध्यप्रदेश: भोपाल रेलवे स्टेशन पर ढहा फुटओवर ब्रिज का एक हिस्सा, 6 लोग घायल 1 की मौत

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुराने रेलवे स्टेशन पर गुरुवार सुबह फुटओवर ब्रिज का एक हिस्सा ढह गया। जिसके कारण लगभग छह लोग घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि घटना के समय स्टेशन पर काफी लोगों की भीड़ थी। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस और दमकल विभाग के कर्मचारी राहत-बचाव कार्य में जुट गए हैं। सूत्रों के अनुसार यह हादसा प्लेटफॉर्म नंबर 2-3 पर हुआ।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

एनेस्थिसिया का आपरेशन कर युवक की जान बचाई


डॉक्टरों की मेहनत रंग लाई

बैतूल सरकारी अस्‍पताल

बैतूल। आपरेशन करके युवक की जान बचाने में एनेस्थिसिया डॉक्टर चित्रा पाटिल, डॉॅ. रजनीकांत परते और जनरल सर्जन डॉ. रंजीत राठौर की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। डॉ. राठौर ने बताया कि युवक के आत में आधा सेंटीमीटर का छेद हो गया था। जिसकी वजह से पेट में मवाद और खाना एकत्रित होने लग गया और युवक का आपरेशन भी बहुत जरूरी हो गया था उसे बहुत पीड़ा हो रही थी। आपरेशन के बाद युवक के पेट में दो ड्रेन डाले गए। एक डे्रन को आपरेशन के पांचवे दिन निकाला और दूसरे को छंटवें दिन निकाल लिया गया। कुछ दिनों तक खाली पेट रहने के बाद युवक अब आसानी से  भोजन करने लग गया है और उसे कोई दिक्कत भी नहीं है। बुधवार को जिला अस्पताल में भर्ती युवक को छुट्टी भी दे दी गई। 

बैतूल जिला अस्पताल के अक्सर यही मामले सामने आते हैं कि जिला अस्पताल में उपचार नहीं मिलता, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने सीमित संसाधनों के बावजूद एक युवक के आत (छिद्रण पेरिटोनिटिस)का आपरेशन कर उसकी जान बचाई है। इस तरह से आपरेशन करना कोई आसान नहीं है, लेकिन समय और बीमारी को देखते हुए डॉक्टरों ने आपरेशन कर युवक को नई जिंदगी दी। जानकारी के मुताबिक घोड़ाडोंगरी के चारगांव निवासी सुनील पिता भंगूलाल कवड़े उम्र 26 वर्ष के आत में छेद हो गया था। जिससे मवाद निकलने लगा और भोजन भी पेट में ही एकत्रित होने लगा था, जिससे युवक के पेट में दर्द की पीढ़ा अधिक हो गई। युवक एक निजी अस्पताल में पहुंचा जहां आपरेशन के लिए अधिक राशि बताने पर परिजन उसे जिला चिकित्सालय लेकर आए। डॉक्टरों ने युवक की सोनाग्राफी और एक्सरे करवाए, जिसमें पता चला कि युवक के आत में छेद है। डॉक्टरों ने क्षण भर की देरी किए बिना आपरेशन शुरू कर दिया। आपरेशन पूरी तरह से सफल रहा। 

आयुष्मान भारत योजना के तहत आपरेशन

आयुष्मान निरामयम भारत  योजना पर कई लोग सवाल भी उठाते हैं, लेकिन गरीबों को इसका लाभ भी मिल रहा है। युवक के आत का आपरेशन आयुष्मान निरामय भारत योजना के तहत ही हुआ है। उल्लेखनीय है कि युवक की माली हालत ठीक नहीं है। जिसका आयुष्मान कार्ड बना है वह आपरेशन के लिए एक निजी अस्पताल  गया था। जिसे आपरेशन करने की राशि 50 हजार रूपए से अधिक बताई गई।  परिजन इतने सक्षम नहीं थे कि वह इतनी राशि दे पाते और युवक को निजी चिकित्सालय से जिला अस्पताल लाया। जहां आयुष्मान भारत योजना के तहत नि:शुल्क एवं सफल आपरेशन हो गया।  इनका कहना…. युवक के आत में छेद हो गया था। जिसका आपरेशन करना जरूरी था। आयुष्मान भारत योजना के तहत आपरेशन    हुआ है अब युवक की हालत पूरी तरह से ठीक है और उसे छुट्टी दे दी गई है।  डॉ. रंजीत राठौर, जनरल सर्जन जिला चिकित्सालय बैतूल।   

मुलतापी समाचार न्यूज़ नेटवर्क