छतरपुर में खुला महिला पोस्ट ऑफिस, घर-घर डाक भी पहुंचाएगी महिला डाकिया


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

छतरपुर: महिला दिवस पर जिले में महिला पोस्ट ऑफिस का शुभारंभ किया गया! पोस्ट ऑफिस में अनुपमा जैन को पोस्टमास्टर बनाया गया है ,और शिवानी गुप्ता को डाक सहायक बनाया गया है! अनुपमा जैन मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग में नायब तहसीलदार के पद पर चयनित हैं किंतु अभी वे एक्सटेंशन लेकर डाक विभाग में अपनी सेवाएं दे रही हैं!

अधीक्षक पुष्पेंद्र सिंह ने बताया, छतरपुर डाक विभाग के अंतर्गत 4 जिले आते हैं जिसमें निवाड़ी,छतरपुर, पन्ना और टीकमगढ़ है! यह छतरपुर जिले का सौभाग्य है कि छतरपुर में प्रथम महिला डाकघर खुला है! इस डाकघर में सभी कर्मचारी महिलाएं रहेंगी!

मुलतापी समाचार

शास्त्रीय संगीत से गूंज उठे ओरछा के राज महल


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नमस्ते ओरछा महोत्सव के दूसरे दिन शनिवार को सांस्कृतिक संध्या को कंचना घाट पर अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने कार्यक्रम को होस्ट किया! शास्त्रीय गायिका शुभा मुद्गल, नृत्यांगना अदिति मंगलदास की प्रस्तुतियों ने लोगों को ओरछा की प्रसिद्ध नृत्यांगना राय प्रवीण की यादें ताजा कर दी! महा आरती में ओरछा के कलाकार की शामिल हुए! शास्त्रीय गायिका शुभा मुद्गल ने कवि भारतेंदु हरिश्चंद्र के पद कन्हैया घर चलो मोरी गुईया, आज खेले होरी! जब हरी धनुष धरे, डगमग डोल परे धरन! के गायन से समा बांध दिया लाओ नई चतुर केवटवा की शानदार प्रस्तुति से एक बार फिर ओरछा सहित बुंदेलखंड के लोगों का ओरछा के महाकवि केशव दास व राय प्रवीण के शास्त्रीय संगीत की याद दिला दी! कत्थक नृत्य की प्रस्तुति अदिति मंगलदास ने दी! पर्यटन नगरी में ओरछा महोत्सव के दौरान बेतवा किनारे आयोजित शास्त्रीय संगीत व कत्थक नृत्य कार्यक्रम की प्रस्तुति दी!

इसके अलावा देसी व विदेशी पर्यटकों ने ओरछा में शनिवार को सुबह से साइकिलिंग, योग, राफ्टिंग के साथ फोटोग्राफी का आनंद लिया! वही संस्कृति मंत्री डॉ विजयलक्ष्मी साधो ने ओरछा के भ्रमण के दौरान कई स्थानों पर गंदगी देखकर अधिकारियों को फटकार लगाई और साफ सफाई के निर्देश दिए! इसके बाद डॉ विजयलक्ष्मी साधो ने श्री रामराजा सरकार के दर्शन किए, फिर शीश महल में फूड एवं क्राफ्ट मेले का अवलोकन किया तथा मेले में आए शिल्पकारों, कलाकारों व दुकानदारों से चर्चा की!

मुलतापी समाचार

फांसी के फंदे पर झूली सैनिक की पत्नी


मायके पक्ष ने लगाये हत्या के आरोप और उच्च स्तरीय जांच की मांग

मुलतापी समाचार – मुलताई तहसील के मोही गांव में महिला दिवस के एक दिन पूर्व शनिवार को एक महिला अपने ही घर के बेडरूम में फांसी के फंदे पर लटकी मिली । महिला के परिजनों ने प्रताड़ित करने वाले पति पर हत्या का आरोप लगाया है । साथ ही इस संबंध में उच्च स्तरीय जांच की मांग की है । महिला ग्राम धारनी की निवासी थी जिसका विवाह 4 साल पहले आर्मी में पदस्थ मोही के विजय प्रकाश सिसोदिया के साथ हुआ था । जिनका 1 साल का पुत्र भी है। मृतिका दीपिका ने अपनी मां को फोन करके बताया था कि उसका पति उसे मारने की धमकी दे रहा है और तलवार से काट दूंगा, कुएं में फेंक दूंगा जैसी धमकी दे रहा है । उसके बाद सुबह दीपिका फांसी के फंदे पर लटकी पाई गई । इस संबंध में मायके पक्ष में थाने में भी आवेदन दिया है, और उच्च स्तरीय जांच की मांग की है । टीआई मनोज सिंह ने बताया है कि परिजनों के बयान दर्ज कर आगे कार्रवाई की जाएगी।

रोज खेला जा रहा 25 से 50 लाख का जुआं,


पुलिस प्रशासन की लापरवाही के चलते जुवा और सट्टा खुलेआम

मुलतापी समाचार

सारनी । सूत्रों की माने तो बैतूल जिले की घोड़ाडोंगरी विकासखंड के घोड़ाडोंगरी में पाढर के सट्टा तस्करो की दबंगई के साथ पाकर घोड़ाडोंगरी में खुलेआम चल रहा है सट्टा । घोड़ाडोंगरी के रातामाटी के जंगल में बड़े ही निडरता के साथ जूवा (क्लब) चलाया जा रहा है। प्रतिदिन दोपहर 3:00 बजे से शाम 7:00 बजे से 8:00 बजे तक खेला जाता है। सूत्रों की मानें तो कई तरह के शासकीय कर्मचारियों के साथ-साथ खाकी के कर्मचारी भी जुआ खेलने पहुंचते है।

घोड़ाडोंगरी और रातामाटी के जंगल नदिया के किनारे

प्रशासन के कान पर जू तक नहीं रेंगती

क्षेत्रवासियों में है रोष पुलिस प्रशासन के प्रति

अब बात करते हैं कोयलांचल क्षेत्र सारणी की

कोल नगरी के नाम से प्रसिद्ध सारनी मोक्षधाम में जुआ शाम सात बजे सुरु होता है।

कई लाखो के दाव लगाएं जाते हैं।

जैसे जैसे आंधेरा होता चला जाता है।

वैसे वैसे जुआ में दाव बढ़ते चला जाता है मोक्ष धाम सारणी में

अब बात करते हैं सट्टे की नगर पालिका क्षेत्र सारणी में सारणी में दमुवा बैरियर, से लेकर हर चौक चौराहे पर,

पाथाखेड़ा मे पाथाखेडा बस स्टॉप से लेकर हर चौक चौराहे पर शोभापुर, काली माई, मैं सट्टा कुछ सुभाष नगर के सट्टा माफिया द्वारा चलाया जा रहा है।

अब चलते हैं बगडोना इन दिनों बगडोना में 52 पत्तों का खेल के साथ ही सट्टा प्रशासन से बे खौफ बड़े ही निडरता के साथ खेला जा रहा है।

इस खेल को बढ़ावा देने के लिए आमला, मुलताई, दमुआ, पाढर,शाहपुर छिंदवाड़ा जिले एवं अन्य जगहों के खिलाड़ी आ रहे हैं।

सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि रोजाना कम से कम 25 लाख से लेकर 50 लाख तक 52 पत्तों का खेल खेला जाता है।

पुलिस प्रशासन की ओर से अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया ।

और जिले के प्रशासनिक सक्षम अधिकारीयो के क्या कहने

हम मुलतापी समाचार पत्र एवं वेब चैनल के माध्यम से कुंभक रनिया नींद से प्रशासन को जगाने की कोशिश कर रहे हैं।

अब देखना यह होगा कि कब तक कुंभकरण की नींद से जागे गा प्रशासन।

डॉ जाकिर शेख सब एडिटर मध्य प्रदेश।