दो नाबालिग बच्चों की निर्मम हत्या, परिजनों ने शवों को सड़क पर रखकर किया चक्काजाम, हत्‍यारों को बीच सड़क फांसी की सजा की मांग की गई


मुलतापी समाचार

परिजनों द्वारा कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर हागमा नारे लगाए शासन को शाेपा ज्ञापन मांग में कहा बीच चौराहे पर आरोपी को फासी दो या हमको शोप दो

परिजनों द्वारा कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर हागमा नारे लगाए शासन को शाेपा ज्ञापन मांग में कहा बीच चौराहे पर आरोपी को फासी दो या हमको शोप दो

जैसे को तेशी तेसी सजा दो या हमको सौंप दो अग्नि संस्कार कर पुनः पहुंचे परिजन और आक्रोशित जनता बैतूल कलेक्ट्रेट शोपा ज्ञापन, आरोपी बीच चौराहे पर भरी सभा में फाशी दो या हमको शोप दो माग की , कलेक्टर सर ऑफिस न होने पर अन्य अधिकारियों ने परिजनों से बात करी और समझाइश दी न्याय प्रकिया जारी है और बच्चों की मृत्यु करने वालो को सजा जल्द से जल्द सुनाई जाएगी।

दो बच्चों की निर्मम हत्या करने वाले के ख़िलाफ़ परिजन और आक्रोशित लोगों द्वारा बच्चे के शव रख कर किया हाईवे पर चक्का जाम, और जल्द से जल्द फासी दो मांग की बात करते हुए पुलिस अधिकारीयों से

बैतूल। जिले में हत्या और गैंगरेप जैसी वारदाते कम होने का नाम नहीं ले रही है। जिले में घटित तीन बड़ी वारदातों ने जिलेवासियों को दहला दिया है। गत दिनों नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप और खेड़ीसावलीगढ़ के पास हुई युवक की हत्या का मामला शांत भी नहीं हुआ कि जिला मुख्यालय पर फिर दो बच्चों की हत्या कर दी और शव को चिखलार के पास झरने के पानी मेंं ले जाकर डाल दिया। बच्चों की हत्या से आक्रोशित लोगों ने बैतूल, खेड़ी मार्ग स्थित डॉन बास्कों के पास चक्काजाम कर दिया। लगभग देड़ से दो घंटे तक चक्काजाम किया। मौके पर पहुंची एएसपी श्रद्धा जोशी ने आक्रोशित लोगों को समझाईश दी और कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद चक्काजाम खुला। हत्या की घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने दबोच लिया है। इस मामले में दो पुलिस कर्मियों को लाईन हाजिर कर दिया है।  एएसपी श्रीमती जोशी ने बताया कि 9 मार्च होली दहन के दिन सदर बैल बाजार निवासी इंद्रपाल उर्फ गड्डी सलूजा डॉन बास्कों क्षेत्र की एक महिला को बर्तन साफ करने के लिए अपने घर लेकर गया। महिला के साथ उसकी 11 वर्षीय बालिका और 4 वर्षीय बालक गया था। महिला बर्तन घर में साफ कर रही थी और इंद्रपाल दोनों बच्चों को ऑटो में बिठाकर आईस्क्रीम खिलाने के बहाने वह लेकर गया। घंटो बाद दोनों बच्चे और इंद्रपाल वापस नहीं आया। कुछ घंटे बितने के बाद इंद्रपाल तो वापस आ गया, लेकिन बच्चे उसके साथ नहीं थे। महिला ने बच्चों की जानकारी पूछी तो उसने संतोष जनक जवाब नहीं दिया। इसकी शिकायत कोतवाली थाने में दर्ज कराई। शिकायत के आधार पर पुलिस ने इंद्रपाल को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। इस दौरान इंद्रपाल ने अपने एक साथी श्याम उर्फ बारिक पिता राजाराम सरनेकर निवासी गेंदा चौक के साथ मिलकर दोनों बच्चों की हत्या करने की बात कबूल की। पुलिस ने आरोपियों के बताएं गए स्थान पर जाकर दानोंं बच्चों के शव बरामद किए। 

घटना को अंजाम की समीक्षा

पुलिस के मुताबिक होली दहन के दिन आरोपी इंद्रपाल सिंह और श्याम सरनेकर दोनों बच्चों को ऑटो में बैठाया और वह चिखलार लेकर गए। बालिका और बालक की पत्थर मारकर और गला घोटकर हत्या कर दी। शव को झरने के पानी में फेक दिया। शिकायत के बाद जब पुलिस ने आरोपियों से कड़ी पूछताछ की तो उन्होंने हत्या करने की बात कबूल की। मंगलवार 10 मार्च को आरोपी द्वारा बताए गए घटना स्थल पर पुलिस ने पहुंचकर बालिका और बालक के शव को बरामद किया। मंगलवार शाम को जिला अस्पताल में दोनों शव का पोस्टमार्टम किया। शार्ट रिपोर्ट पीएम में दोनों बच्चों की हत्या होने की जानकारी सामने आई है। 

सड़क पर शव रखकर चक्काजाम किया

दो बच्चों की हत्या से आक्रोशित लोगों ने बैतूल-खेड़ीसावलीगढ़ मार्ग डॉन बास्कों के पास सड़क पर दोनों बच्चों के शव रखकर चक्काजाम कर दिया। बुधवार सुबह 9.30 बजे से चक्काजाम किया। लगभग 2 घंटे तक चक्काजाम चलते रहा। सूचना मिलते ही एएसपी श्रीमती जोशी सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। परिजनों की मांग थी कि हत्या करने वाले दोनों आरोपियों को दिन दहाड़े चौक पर फांसी के तख्ते पर लटकाया जाए। एएसपी ने चक्काजाम कर रहे आक्रोशित लोगों को समझाईश दी। इसके बाद मामला शांत हुआ। आरोपी के किसी महिला के साथ अवैध संबंध पुलिस के मुताबिक हत्या के आरोपी इंद्रपाल सिंह के किसी महिला के साथ अवैध संबंध थे। इसकी जानकारी बालिका को थी। बालिका अवैध संबंध में किसी को जानकारी न बता दे, जिसकी वजह से बालिका की हत्या करने की बात सामने आई है। हालांकि पकड़े गए आरोपियों से पुलिस कड़ी पूछताछ कर रही है। पूछताछ पूरी होने के बाद ही घटना के संबंध में और भी जानकारी सामने आएगी। 

दो पुलिस कर्मियों का लाईन अटेच किया

बच्चों के गायब हो जाने की रिपोर्ट दर्ज कराने परिजन कोतवाली गए थे। पुलिस कर्मियों ने इनकी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया और जल्द रिपोर्ट दर्ज नहीं की। परिजनों से अभद्रता की गई। पुलिस की लापरवाही को देखते हुए कोतवाली थाने के प्रधान आरक्षक शेख रफीक कुरैशी और एएसआई भाऊराव गावंडे को तत्काल लाईन हाजिर कर दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। 

दो बच्चों की हत्या कर शव को चिखलार के पास झरने के पानी में फेकने का मामला सामने आया है। दोनों बच्चों के शव को बरामद कर लिया है। आक्रोशित लोगों ने चक्काजाम किया। परिजनों की जो मांगे थी, उन्हें पूरा करने का आश्वासन दिया है। दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिनसे कड़ी पूछताछ कर रही है।  श्रद्धा जोशी, एएसपी बैतूल  

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s