इंदौर में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज 5.75 लोगों को बांट रहा संक्रमण


Multapi samachar

इंदौर के कोरोना पॉजिटिव मरीज देश के औसत से डेढ़ गुना अधिक लोगों को संक्रमित कर रहे हैं। एक अध्ययन के मुताबिक, इंदौर में एक कोरोना पॉजिटिव 5.75 लोगों को संक्रमित कर रहा है, जबकि देश का औसत 3.7 है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री का विश्लेषण करने पर यह बात सामने आई है। हालांकि अध्ययन जारी है और यह ट्रेंड आगे बदल सकता है।

स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को शहर के 116 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के प्रारंभिक संपर्कों का विश्लेषण किया। इसमें पाया कि इन लोगों के संपर्क में आए 668 लोगों को भी कोरोना संक्रमण हो गया। इस तरह एक पॉजिटिव मरीज ने औसत 5.75 लोगों को संक्रमित किया। यह तस्वीर आंकड़ों के फौरी विश्लेषण से सामने आई है, लेकिन पूरी हकीकत तब सामने आएगी जब सभी पॉजिटिव मरीजों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री पता करने के बाद इसका अध्ययन किया जाएगा।

यह प्रारंभिक रुझान

अध्ययन में शामिल एमजीएम मेडिकल कॉलेज के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के प्रभारी डॉ. सलिल साकल्ले ने बताया कि यह सब प्रारंभिक आकलन है। इससे हम किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते। एक बार स्थिति सामान्य होने के बाद इस पर अध्ययन करेंगे। हाल ही में इंदौर आए भारत सरकार के केंद्रीय दल में शामिल विशेषज्ञ सदस्य और दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के डायरेक्टर प्रोफेसर और कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के प्रमुख डॉ. जुगलकिशोर ने भी पुष्टि की कि इंदौर का यह आंकड़ा राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है। जिला प्रशासन ने एप के जरिए कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का काम शुरू किया है, जिससे पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने वालों की पकड़ आसानी से हो सकेगी। इधर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया का कहना है कि इंदौर में अभी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के आंकड़े स्पष्ट नहीं हैं। हम ज्यादा सैंपलिंग कर रहे हैं इसलिए पॉजिटिव व निगेटिव दोनों मिलेंगे।

हम कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का एक राउंड कर चुके हैं और अब दूसरा राउंड शुरू कर रहे हैं। साथ ही बफर जोन में भी सर्वे किया जा रहा है। यह सब कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग और सैंपल की जांच पर निर्भर करता है। कुछ लोगों ने 10-12 तक तो कुछ ने एक-दो लोगों को ही संक्रमित किया है। हमारी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग हिस्ट्री में कुछ केस ऐसे भी आए हैं जिसमें एक पॉजिटिव मरीज से 13 लोगों तक संक्रमण फैलने की चेन मिली है। – आकाश त्रिपाठी, कमिश्नर

3.7 हो गया राष्ट्रीय औसत देश में कोरोना

संक्रमण शुरू होने से लेकर अब तक कांटेक्ट ट्रेसिंग (एक व्यक्ति कितने व्यक्ति को संक्रमित कर रहा है) दर के तीन आंकड़े सामने आ रहे हैं। मार्च में यह दर 1.7 थी जबकि अप्रैल के शुरुआती दौर में यह 2.3 फीसदी थी। वहीं अब यह बढ़कर 3.7 फीसदी माना जा रहा है। इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज के पीएसएम विभाग ने 3.7 फीसदी के हिसाब से आकलन कर ही इसे डेढ़ गुना माना है। सीएमएचओ ने इसकी पुष्टि की।

इंदौर में यह है कांटेक्ट ट्रेसिंग की बानगी

1. इंदौर के चंदन नगर में पुलिस पर हमला करने वाले नासिर खान को सेंट्रल जेल में रखा। बाद में जांच में वह कोरोना पॉजिटिव निकला। नासिर के साथ रहने वाले कैदियों की जांच हुई तो वे भी संक्रमित पाए गए। साथ ही नासिर के संपर्क में आए दो जेल प्रहरी भी संक्रमित मिले। नासिर ने करीब 10 लोगों में संक्रमण फैला दिया।

2. इंदौर के सैफी होटल में काम करने वाला एक व्यक्ति लॉकडाउन के दौरान खरगोन जिला स्थित अपने गांव बड़गांव के लिए निकला। रास्ते में वो कसरावद में रिश्तेदार के घर ठहर गया। बाद में वह पॉजिटिव पाया गया। उसने कसरावद के रिश्तेदारों और बड़गांव में भी परिवार में संक्रमण फैला दिया। इस पूरी कड़ी में लगभग 10 लोग संक्रमित हो गए।

पीले रंग का पाइनएप्पल फ्लेवर का तरबूज मचा रहा धूम बैतूल जिले में, श्याम पवार


ग्राम मंडई , बैतूल के श्री श्याम पवार 5 वर्षों से कर रहें फलों की खेती

उगाया लाल अनार और पीले रंग का पाइनएप्पल फ्लेवर का तरबूज

मध्‍यप्रदेश बैतूल। ऑनलाइन जानकारी उठाकर और बीज मंगा कर खेती कर रहे हैं श्री श्याम पवार

हर कोई इस तरबूज का स्‍वाद चखने को उत्‍साहति है भोपाल तक से डीमांड आ रही है पहुंचानेे की

मुलतापी समचार


बैतूल। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में एक विशेष तरह का तरबूज खाने को मिल रहा है जो बाहर से तो हरा है पर काटने पर अंदर से पीले रंग का है और इसका स्वाद मीठा और थोड़ा पाइनएप्पल के फ्लेवर का है। यह तरबूज श्याम पवार द्वारा 5 एकड़ में तीन प्रकार के वेेेेेेेरायटी वाले तरबूज उगाया गया है। इसके पूर्व ढेड़ एकड़ में 5 वर्षों से अनार की खेती करने वाले श्री श्याम पवार द्वारा पिछले 2 वर्षों से तरबूज की खेती की जा रही है। श्री श्याम पवार ग्रेजुएट है जो ऑनलाइन जानकारी उठाकर और बीज मंगा कर खेती कर रहे हैं।

इस खास तरह के तरबूज को खाने के लिए लोग इतने लालायित है कि बैतूल से 10 किलोमीटर दूर खेत पर खुशी-खुशी लेने पहुंच जाते हैं।
धीरे-धीरे इस तरबूज की मांग बढ़ती जा रही है।

मंडी और बाजार बंद होने से श्री पवार अपने खेत से ही फल बेचकर इसकी लागत निकालने का प्रयास कर रहे हैं।

मुलतापी समाचार मनमोहन पवार (संपादक) मुलताई।

covid 19 Update 30 April : 24 घंटों में 1718 नए केस, 67 की मौत, पढे़ राज्यवार रिपोर्ट


Coronavirus Update 30 April :

कोरोना चेक करते हुए लेब में लेबटेक्‍नीशीयन फाइल फोटो

मुलतापी समाचार

देश में कोरोना कहर बरपा रहा है। संक्रमितों व मृतकों की संख्‍या में रोज इजाफा हो रहा है। गुरुवार को जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटों में 1718 नए केस सामने आए हैं और 67 लोगों की मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या 33,050 पहुंच गई है। इनमें 23,651 एक्टिव केस हैं। 1074 की मौत हो चुकी है, वहीं 8325 ठीक हो चुके हैं। इससे पहले, बुधवार को करीब 13 सौ नए मामले सामने आए हैं और 60 लोगों की मौत भी हुई थी।

1299 नए केस सामने आए

राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों से मिले आंकड़ों के मुताबिक बुधवार को 1,299 नए मामले सामने आए और संक्रमितों की संख्या 32,523 पर पहुंच गई। अब तक 1065 लोगों की जान जा चुकी है। बुधवार को 60 लोगों की मौत हुई, जिसमें महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 32, गुजरात में 16, उत्तर प्रदेश में पांच, राजस्थान में तीन, तमिलनाडु में दो और मध्य प्रदेश व कर्नाटक में एक-एक मौत शामिल है। महाराष्ट्र में एक दिन में मरने वालों की यह सबसे बड़ी संख्या है। इससे पहले मंगलवार को इस महामारी से 31 लोगों की जान गई थी।

महाराष्‍ट्र और गुजरात को काबू में करना अब बड़ी चुनौती

महाराष्ट्र एक बार फिर बुधवार को एक दिन में देश में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव के मामले सामने आए और राज्य में संक्रमितों की संख्या 10 हजार के करीब पहुंच गई। 32 लोगों की मौत भी हुई, जो एक दिन में मरने वालों की सबसे बड़ी संख्या है। गुजरात भी महाराष्ट्र की राह पर है। पिछले 10 दिनों के बाद एक बार फिर सबसे ज्यादा नए मामले सामने आए और राज्य में चार हजार से ज्यादा संक्रमित हो गए हैं। करीब दो सौ लोगों की अब तक जान भी जा चुकी है।

आज ये रहे देश के आंकड़े

कुल मौतें 1065

कुल संक्रमित 32,523

स्वस्थ हुए 7,796

देश में कुल संक्रमित जानिये राज्‍यवार

राज्य संक्रमित

महाराष्ट्र – 9,915

गुजरात – 4,082

दिल्ली – 3,314

राजस्थान – 2,393

मध्य प्रदेश – 2,528

तमिलनाडु – 2,162

उत्तर प्रदेश – 2,134

आंध्र प्रदेश – 1,259

तेलंगाना – 1009

बंगाल – 663

जम्मू-कश्मीर – 581

कर्नाटक – 535

केरल – 495

पंजाब – 374

हरियाणा – 314

बिहार – 392

ओडिशा – 125

झारखंड – 108

उत्तराखंड – 54

हिमाचल प्रदेश – 41

छत्तीसगढ़ – 38

असम – 37

अंडमान-निकोबार -33

चंडीगढ़ – 68

लद्दाख – 22

मेघालय -12

गोवा – 7

पुडुचेरी – 4

मणिपुर – 2

त्रिपुरा – 2

मिजोरम – 1

नगालैंड – 1

महाराष्ट्र में 597 नए मामले आए

महाराष्ट्र में बुधवार को भी देश में सबसे ज्यादा 597 नए केस सामने आए और संक्रमितों की संख्या बढ़कर 9,915 हो गई। जबकि, 32 लोगों की जान गई है, जिसमें से अकेले 26 मौतें मुंबई में ही हुई हैं। राज्य में अब तक 432 लोगों की जान जा चुकी है। मुंबई की धारावी बस्ती ने राज्य की चिंता बढ़ा दी है। दो वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैली इस बस्ती में करीब 15 लाख लोग रहते हैं। अब तक 344 संक्रमित मामले मिले हैं और 18 लोगों की मौत हो चुकी है। बुधवार को भी 14 नए माले सामने आए।

गुजरात में 308 नए केस आए

गुजरात में 308 नए मामले मिले, जो पिछले नौ दिनों में सबसे ज्यादा हैं। राज्य में संक्रमितों की संख्या चार हजार से ज्यादा 4,082 हो गई है। महाराष्ट्र के बाद सबसे ज्यादा गुजरात में ही संक्रमित हैं। मरने वालों की संख्या भी 197 हो गई है, जो महाराष्ट्र के बाद दूसरे नंबर है। गुजरात में अहमदाबाद की स्थिति चिंताजनक बन गई है। महानगर में और नौ लोगों की मौत हुई है और मरने वालों की संख्या 137 हो गई है। 234 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या भी 2,777 हो गई है।

मध्य प्रदेश में ढाई हजार से ज्यादा हुए संक्रमित

देश के उन राज्यों में मध्य प्रदेश भी शामिल हैं, जहां संक्रमण तेजी से फैल रहा है। अब तक ढाई हजार से ज्यादा संक्रमित मामले मिल चुके हैं। बुधवार को भी 61 नए मामले मिले। बिहार का हाल भी कुछ ऐसा ही है। लंबे समय तक बिहार में संक्रमण के बहुत कम मामले मिले थे, लेकिन अचानक अब संक्रमण का प्रभाव बढ़ने लगा है। 28 नए मामलों के साथ राज्य में संक्रमितों की संख्या 392 हो गई है। पंजाब में भी 29 नए केस मिले हैं, इसमें महाराष्ट्र से लाए गए सिख श्रद्धालु भी शामिल हैं। राज्य में अब तक कोरोना के 374 मरीज मिले हैं।

उत्तर प्रदेश में संक्रमित दो हजार पार

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी से अब तक 39 लोगों की मौत हुई है, बुधवार को पांच लोगों की जान गई। 81 नए मामले भी सामने आए और संक्रमितों की संख्या 2,134 पर पहुंच गई। राजस्थान में भी और तीन लोगों ने दम तोड़ दिया है। जबकि, 29 ने केस के साथ कुल 2,393 संक्रमित हो चुके हैं।

तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक में बढ़ा संक्रमण

तमिलनाडु में और 104 लोग संक्रमित पाए गए हैं और इनकी संख्या 2,168 हो गई है। राज्य में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने हालात को नियंत्रण में बताया है। केरल और कर्नाटक में भी स्थिति नियंत्रण में लग रही है। यहां रोजाना नए मामलों में कमी आ रही है। कर्नाटक में 12 नए मामले मिले हैं और कुल संक्रमित 535 हो गए हैं, जबकि केरल में 10 नए केस सामने आए हैं। अभी तक 495 संक्रमित मामले सामने आए हैं, जिनमें से साढ़े तीन सौ से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं।

MP News : 15 लाख किसानों को मिलेंगे फसल बीमा के 2990 करोड़ रुपये


Madhya Pradesh News :

Multapi Samachar

भोपाल। मध्‍य प्रदेश में 15 लाख किसानों को फसल बीमा के 2990 करोड़ रुपये मिलेंगे। मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार रात खुद ट्वीट कर यह जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि यह राशि एक मई को किसानों को मिल जाएगी।

कोरोना संकट के बीच शिवराज सरकार किसानों के खातों में यह राशि जमा करेगी। यह राशि प्रधानमंत्री फसल बीमा के उन दावों की दी जाएगी, जो कमल नाथ सरकार के बीमा कंपनियों को दो हजार 200 करोड़ रुपये का राज्यांश नहीं देने की वजह से दो साल से अटके थे।

मुख्यमंत्री ने बुधवार को देर शाम बैठक करके यह राशि तत्काल किसानों को देने का निर्णय लिया है। प्रदेश में किसानों को खरीफ 2018 और रबी 2018-19 का फसल बीमा अभी तक नहीं मिला है। दरअसल, कमल नाथ सरकार ने बीमा कंपनियों को राज्यांश, दो हजार 200 करोड़ रुपये नहीं दिया था।

इसके कारण कंपनियां किसानों की फसल खराब होने के बाद भी दावों को अंतिम रूप नहीं दे पा रही थीं। केंद्र सरकार ने इसको लेकर पत्र भी लिखा था पर सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया। सत्ता परिवर्तन के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जब इसकी समीक्षा की तो वित्त विभाग को निर्देश दिए कि तत्काल बीमा कंपनियों को लंबित राशि दी जाए।

इसके बाद 15 लाख से ज्यादा किसानों के दावों को अंतिम रूप मिला गया और उन्हें दो हजार 990 करोड़ रुपये से ज्यादा फसल बीमा के मिलेंगे। यह राशि एक मई को उनके खातों में मुख्यमंत्री सिंगल क्लिक पर जमा करेंगे।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 23 लाख मीट्रिक टन गेहूं की रिकॉर्ड खरीदी का कार्य पूरा किया जा चुका है। किसानों के लिये न्यूनतम समर्थन मूल्य का कवच भी उपलब्ध है। एक माह पूर्व किसानों को यह चिंता थी कि खरीदी होगी अथवा नहीं। राज्य में गेहूं खरीदी का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग का यहां भी ध्यान रखा जा रहा है।

सीएम ने कहा कि लॉकडाउन के कारण जूट के बारदानों की उपलब्धता की समस्या आई थी, जिसे दूर किया गया है। इसमें केन्द्र का सहयोग भी मिल रहा है। चना, मसूर और सरसों की खरीदी की भी समुचित व्यवस्थाएं की गई हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि किसानों को अधिकतम सुविधाएं देकर उन्हें किसी भी तरह के शोषण से बचाना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इसी उद्देश्य से प्रति हेक्टेयर उत्पादन के आधार पर सीमा तय कर किसानों को लाभान्वित किया जाएगा। पूर्व सरकार ने जो सीमा कम की थी, उसे बढ़ाने की कार्रवाई की जा रही है।

अभिनेता ऋषि कपूर का जबलपुर से था गहरा नाता


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

जबलपुर: दुनिया को अलविदा कह चुके हिंदी सिनेमा के ग्रेट सोमेन राज कपूर के होनहार पुत्र सुप्रसिद्ध अभिनेता ऋषि कपूर का जबलपुर से गहरा नाता रहा है! जबलपुर उनकी ननिहाल थी! उनके पिता राज कपूर का विवाह जबलपुर निवासी दमदार अभिनेता प्रेम नाथ की बहन कृष्णा से हुआ था! मां के साथ बचपन में ऋषि कई बार जबलपुर और रीवा आए थे! प्रेमनाथ के पिता रायबहादुर करतारनाथ तत्कालीन रीवा रियासत विंध्यप्रदेश में पुलिस के आला अधिकारी थे!

मामा प्रेमनाथ और भांजे ऋषि के बीच खूब मस्ती होती थी! इस तरह ऋषि का अपनी ननिहाल जबलपुर से खासा लगाव रहा! प्रेमनाथ की जबलपुर कैंट स्थित एंपायर टॉकीज में ऋषि ने फिल्म भी देखी थी! साथ ही उससे लगे बंगले के गार्डन में जमकर मस्ती करते थे! मामा प्रेमनाथ के साथ वे जिलहरीघाट के मौलश्री वृक्ष के तले ध्यान भी लगाते थे! ऋषि कपूर का निधन अपूरणीय क्षति है! प्रेमनाथ और राज कपूर की साले बहनोई की रिश्तेदारी के कारण जबलपुर और रीवा ऋषि के नजदीक रहे!

मुलतापी समाचार

युवती हवस का शिकार, भाई को कुए में फेंककर किया गैैंगरेप, पांच पकड़ाए, दो फरार


मुलतापी समाचार

बैतूल भाई के साथ पेट्रोल लेने आयी एकायुवती से गैंगरेप और उसके भाई को कुप में फेंकने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। घटना पाढर की बताई जा रही है। पुलिस ने इस दुष्कर्म में शामिल। 5 आरोपियों को हिरासत में लिया है। जबकि 2 की तलाश जारी है।

सूत्रों के मुताबिक पाढर के करीबी गांव से अपने भाई के साथ बाइक पर सवार होकर आयी युवती को पाढर में 7 लोगो ने अपनी हवस का शिकार बनाया है। बताया जा रहा है कि आरोपियों ने पहले युवती के भाई के साथ मारपीट की और फिर उसे पास ही एक कुए में फेंक दिया। इसके बाद सालों ने युवती के साथ गैंग रेप किया। ये पूरी घटना पाढर।की शराब दुकान के पीछे अंजाम। दिया जाना बताया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक श्री डीएस भदौरिया ने बताया कि युवती के बयानों के आधार पर 5 लोगो को हिरासत में लिया गया है।बाकी दो की तलाश की जा रही है। युवती व उसका भाई स्वस्थ्य है। इधर घटना के बाद लॉकडाउन के दौरान हुए इस रेप कांड से इलाके में सनसनी फैल गयी है। यह सवाल भी उठ रहे है कि जब लाकडाउन हे तो सात लोग शराब दुकान तक कैसे पहुंच गए। फिलहाल पुलिस इसकी भी जांच कर रही है।

covid 19 – रघुराम राजन ने Rahul Gandhi से कहा, गरीबों की मदद के लिए 65 हजार करोड़ की जरुरत


Multapi Samachar

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते पूरी की दुनिया की अर्थव्यवस्था चौपट होने लगी है। भारत की इकोनॉमी भी बेपटरी हो रही है। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश की अर्थव्यवस्था को लेकर गुरुवार को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन से चर्चा की। इस दौरान जाने माने अर्थशास्त्री रघुराम राजन ने लॉकडाउन के बाद आर्थिक गतिविधियों को जल्द खोले जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने के साथ ही लोगों के रोजगार की सुरक्षा भी करनी होगी। राहुल गांधी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पू्र्व गवर्नर से संवाद स्थापित किया था।

राहुल, राजन के बीच हुई ये चर्चा

राहुल गांधी के साथ हुई चर्चा के दौरान रघुराम राजन ने यह भी कहा कि लॉकडाउन ने देश के निम्न तबके की हालत खराब कर दी है। देश के गरीबों, मजदूरों और किसानों को वित्तीय मदद करनी होगी जिसमें 65 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था 200 लाख करोड़ से ज्यादा की है ऐसे में हम 65 हजार करोड़ का भार उठा सकते हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि इस मुश्किल समय में साम्प्रदायिक सौहार्द बनाए रखने में ही भलाई है। हम एक दूसरे से अलग रहकर इस मुश्किल स्थिति का सामना नहीं कर सकते हैं।

कोरोना की ज्यादा जांचें हों

चर्चा के दौरान कोरोना मरीजों की पहचान के लिए की जा रही जांचों की संख्या को कम बताते हुए रघुराम राजन ने कहा कि अमेरिका में जहां रोजाना लाखों लोगों की कोरोना जांच हो रही है वहीं भारत में यह आंकड़ा 20 से 30 हजार से बीच सीमित है। जितनी ज्यादा जांचें होंगी उतना जल्द ही देश कोरोना संक्रमण से मुक्त होने की ओर कदम आगे बढ़ाएगा। हमें बड़े पैमाने पर जांच करना होगी।

हमारी एक हो प्राथमिकता

राहुल गांधी से संवाद के दौरान रघुराम राजन ने कहा कि हमारे देश की क्षमताएं सीमित हैं। ऐसे में हमारी एक प्राथमिकता होना चाहिए। हमें यह तय करने की जरूरत है कि हम अर्थव्यवस्था को एक साथ कैसे रखें कि जब लॉकडाउन से बाहर निकलें तो हम वापस अपने आप चलने में सक्षम हों और उस वक्त हम कमजोर नहीं पड़े।

मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में हुई अनोखी शादी


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

नरसिंहपुर: मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में lockdown के बीच एक अनोखी शादी हुई, जिसमें वर-वधू पक्ष को fere कराने के लिए जब कोई पंडित नहीं मिला तो गश्त पर निकली महिला एसआई ने शादी के मंत्र पढ़े और और दिया जलवाकर सात fere लगवाए! एसआई ने वर-वधू को सात वचनों के साथ कानून की जानकारी भी दी!

ताजा किस्सा मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले के गोटेगांव तहसील के गांव झोतेश्वर का है! जिले के श्रीनगर के लक्ष्मण पुत्र टीकाराम चौधरी का अक्षय तृतीया पर इतवारा बाजार निवासी रितु पुत्री राजाराम चौधरी से विवाह तय था! इसके लिए दोनों पक्षों के 8 सदस्य झोतेश्वर के शिव पार्वती मंदिर की परिक्रमा में मौजूद थे! लेकिन विवाह कराने के लिए उन्हें कोई पंडित ही नहीं मिला! अब विवाह हो तो कैसे! इसी बीच झोतेश्वर चौकी प्रभारी एसआई अंजलि अग्निहोत्री गस्त करती हुई जब मंदिर पहुंची तो वर वधु ने समस्या बताइ! इस पर वह खुद पंडित की भूमिका अदा करने को तैयार हो गई!

दूल्हे लक्ष्मण का परिवार पूजन में लगने वाली सामग्री भी नहीं ला पाया था! बताशे तक नहीं थे! उनके पास सिर्फ नारियल ही थे!ऐसे में एस आई अंजलि अग्निहोत्री ने कहीं से शक्कर मंगवा कर मिष्ठान की कमी पूरी की! जब मंत्र पढ़ने की बारी आई तो कुछ मंत्र अंजलि ने पढ़ना शुरू किए और फिर गूगल के सहारे विवाह पद्धति सर्च कर शेष मंत्रों को पढ़कर विवाह संपन्न कराया!

मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर का निधन


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

अलविदा ऋषि कपूर

ऋषि कपूर के परिवार का बयान, ‘आखिरी सांस तक अस्‍पताल के स्‍टाफ को हंसाते रहे थे वो’

मुलतापी समाचार

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर का निधन हो गया है! एक दिन पहले ही इरफान का निधन हुआ और आज ऋषि कपूर ने भी इस दुनिया को अलविदा कह दिया!

दिग्‍गज एक्‍टर ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) ने गुरुवार सुबह 8.45 मिनट पर अपनी आखिरी सांस ली. वह 67 साल के थे. उनके निधन की जानकारी अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने ट्वीट कर के दी. अमेरिका में कैंसर का उपचार कराने के बाद पिछले साल सितंबर में भारत लौटे अभिनेता ऋषि कपूर का स्वास्थ्य खराब होने के कारण वे पिछले कुछ दिनों से मुंबई के एच एन रिलायंस अस्पताल में भर्ती थे. उनके गुजर जाने के बाद अब ऋषि कपूर के परिवार ने अपना बयान जारी

ऋषि कपूर की तबीयत बहुत ज्यादा खराब चल रही थी, बुधवार सुबह मुंबई के एनएच रिलायंस अस्पताल में भर्ती कराया गया था!ऋषि कपूर पिछले 2 साल से कैंसर से पीड़ित थे! करीब 1 साल तक अमेरिका में इलाज कराने के बाद कुछ महीने पहले ही वह भारत लौटे थे! बताया जा रहा है कि कुछ दिन से उनकी सेहत ठीक नहीं थी और बुधवार को परेशानी ज्यादा बड़ी तो उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा!

परिवार द्वारा जारी बयान में आगे कहा गया, ‘वह पूरी दुनिया से अपने फैंस के द्वारा भेजे गए प्‍यार से अभिभूत थे. उनके इन आखिरी दिनों में हमें एक ही बात समझ आई कि वह चाहते हैं कि हम उन्‍हें हमेशा हंसते हुए और मुस्‍कुराहट के साथ ही याद रखें न कि आंसुओं के साथ. में व्‍यक्गित तौर पर क्षति हुई है. साथ ही हम समझते हैं कि पूरी दुनिया एक भयानक संकट से जूझ रही है. ऐसे में कई तरह की पाबंदियां हैं. हम उनके सभी फैंस और चाहने वालों से बस यही प्रथर्ना करते हैं कि वह इस समय में भी नियमों के पालन का ध्‍यान रखें और लो पाबंदियां लगी हैं उन्‍हें समझें. वह भी ऐसा ही चाहते होंगे…’

मुलतापी समाचार परिवार की तरफ से ऋषि कपूर को विनम्र” श्रद्धांजलि”