कोलगांव में महात्मा गाँधी ग्राम सेवा केंद्र का शुभारंभ


मुलतापी समाचार

घोड़ाडोंगरी |ग्राम पंचायत कोलगांव ब्लॉक घोड़ाडोंगरी जिला बैतूल में महात्मा गाँधी ग्राम सेवा केंद्र का शुभारंभ ग्रामीण मंडल अध्यक्ष मोहन मोरे , जनपद पंचायत उपाध्यक्ष मिश्रीलाल परते, ग्राम पंचायत के सरपंच शिवदियाल उइके द्वारा किया गया  जिसमें सचिव  प्रह्लाद सराठे ब्लॉक इंचार्ज रितेष कुमार धाकड़ महात्मा गाँधी ग्राम सेवा केंद्र कोलगाव के vle राजेंद्र यादव और अन्य सम्मानीय लोग उपस्थित रहे।

जिसमे ब्लॉक इंचार्ज द्वारा केंद्र से दी जाने वाली सेवाओं के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान की गईं
ग्राम पंचायत भवन में संचालित इस महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र का संचालन CSC VLE राजेंद्र यादव द्वारा किया जाएगा, इस केंद्र पर ग्रामीणों को महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र की सेवाएं प्राप्त होगी ब्लाक इंचार्ज रितेष कुमार धाकड ने बताया कि ग्रामीणों को इस केंद्र पर आय प्रमाण पत्र, मूल निवासी प्रमाण पत्र, खसरा, खतौनी की प्रमाणित नकल, पेन कार्ड, पासपोर्ट, आयुष्मान भारत कार्ड, टेलीमेडिसिन, पीएमजीडिशा, बैंकिंग एवं आधार सर्विस उचित दामों पर मिलेगी इसी के साथ ही CSC VLE द्वारा ग्राम पंचायत का डाटा एंट्री ऑपरेटर का कार्य भी किया जाएगा ।

ग्राम कोलगांव के ग्रामीणों ने महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र के प्रारंभ होने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि उन्हें छोटे.छोटे कामों के लिए शहर एवं तहसील जाना पड़ता था लेकिन अब गांव में ही उन्हें सभी सेवाएं मिलेगी तो उनका समय और पैसा दोनों ही बचेगा

मुलताई की पंचायत में फर्जी तरीके से निकाली मजदूरों की मजदूरी की राशि


शासकीय राशि की बंदरबांट कर विकास कार्यों को भी छोड़ा अधूरा।

सरपंच-सचिव, रोजगार सहायक ने पंचायत सदस्यों के साथ मिलकर निर्माण कार्य में किया भ्रष्टाचार।

मुलतापी समाचार

बैतूल। मुलताई तहसील के ग्राम रिधोरा के ग्रामीणों ने सरपंच सचिव व रोजगार सहायक के खिलाफ पंचायत सदस्यों के साथ मिलकर निर्माण कार्यों में भारी भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया है। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने जिला मुख्यालय पहुंचकर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से की है। शिकायतकर्ता ग्रामीण सुभाष पवार हिंगवे, देवेंद्र डोंगरदिए, विनोद कुमार डोंगरदिए, उपसरपंच राधेलाल पवार नवीन गोहते ने सरपंच श्रीमती कलाबाई परिहार, सचिव परसराम डोंगरदिए, रोजगार सहायक राधेश्याम पवार के कार्यकाल में निर्माण कार्यों भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। शिकायतकर्ता ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत रिधोरा में विगत 11 वर्षों से सरपंच श्रीमती कलाबाई परिहार, सचिव परसराम डोंगरदिए, रोजगार सहायक राधेश्याम पवार ने पंचायत सदस्यों के साथ मिलकर निर्माण कार्यों में जमकर भ्रष्टाचार किया। जो मजदूर कार्य करने नहीं गए उनके नाम से मजदूरी की राशि उनके बैंक खाते में ट्रांसफर करके गबन किया गया। इनके परिवार के एवं करीबी लोगों के नाम से राशि का गबन किया गया। जिन सामग्रियों को निर्माण कार्यों में नहीं लगाया गया उनके विभिन्न लगाए गए एवं उनका भुगतान किया गया, जो कार्य को किया उनमें सरकारी नियमों की अनदेखी की गई, वहीं कई कार्य अधूरे पड़े हैं, कार्यों में घटिया निर्माण सामग्रियों का उपयोग किया गया, जिससे ओसी रोड एवं कार्य डैमेज हो गए हैं। विगत 11 वर्षों में जो कार्यों को किया उनके एवं उनसे संबंधित बिल, सीसी, व्यक्तियों, एजेंसियों, कांट्रैक्टर सभी की गहनता की जांच की जाए लगभग आधा सैकड़ा कार्य अधूरे है।
अधूरे पड़े विकास कार्य।
शिकायतकर्ता ग्रामीणों ने बताया कि सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक व पंचायत सदस्यों ने शासकीय राशि की बंदरबांट करने विकास कार्यों को भी अधूरा छोड़ दिया है, उन्होंने बताया स्कूल ग्राउंड, चौपाले, सार्वजनिक शौचालय, पेयजल, सार्वजनिक कूप, निर्माण मढ़ी चौक, रिधोरा नल जल योजना नवीन, पौधारोपण, नल जल योजना के सारे कार्य, सामुदायिक भवन निर्माण एवं मरम्मत, ग्राम की सभी सीसी रोड एवं नालिया, बस स्टैंड से गुलाब परिहार के घर तक सीसी रोड में घटिया सामग्री का उपयोग होने से उखड़ रही है। कपिल धारा कूप निर्माण, शाला की बाउंड्री वाल निर्माण, ग्रामीण नल जल योजना द्वारा ग्रामीण जल प्रदाय योजना निर्माण, प्रधान मंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना, ट्रांसफार्मर की स्थापना, शाला भवन मरम्मत, घाट निर्माण, शाला में अतिरिक्त कक्ष, सार्वजनिक चबूतरा निर्माण, कन्वर्ट पुलिया निर्माण, पनघट से चक्कर डोह सुदूर ग्राम सड़क, श्मशान घाट, पनघट रोड, चुरनी डोल श्मशान घाट सड़क निर्माण, रिधोरा से कप्पी रोड निर्माण, ग्राम की सभी सीसी रोड एवं नालिया मदन डहारे के घर के सामने से नाली नहीं बनी, सभी पुलिया निर्माण अधूरी है।

भागवत कथा के समापन पर बांटे पौधे एवम साथ ही गीता पुराण का किया वितरण- मुलतापी



मुलताई। नगर के पारेगाव रोड स्थित मुलताई मे अजय भोयरे के निवास स्थान पर चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा का वाचन करते हुए पंडित घनश्याम बन गोस्वामी ( काजली ) ने राधा कृष्ण की करूणामई और रमनिय कथा का वर्णन करते हुए कथा का समापन किया और समापन अवसर पर आये अतिथियो को नगर के अनुसया सेवा संगठन द्वारा पौधे वितरण किये गये जिसमे विभिन्न गावो से आये अतिथि को संगठन द्वारा पौधे भेट किये गये साथ हि भागवताचर्य द्वारा सभी को अधिक से अधिक हर शुभ कार्य पर पौधा लगाने का संकल्प दिलाया व पौधे से होने वाले अनेको लाभ बताए व सभी के द्वारा पौधे को रोपित कर पालने का संकल्प लिया कृष्णा साहू ने बताया कि पौधारोपण बहुत ज़रूरी है, पर्यावरण सुरक्षित रहेगा तो हम भी सुरक्षित रहेंगे
जब से दुनिया शुरू हुई है, तभी से इंसान और क़ुदरत के बीच गहरा रिश्ता रहा है। पेड़ों से पेट भरने के लिए फल-सब्ज़ियां और अनाज मिला। तन ढकने के लिए कपड़ा मिला। घर के लिए लकड़ी मिली। इनसे जीवनदायिनी ऑक्सीज़न भी मिलती है, जिसके बिना कोई एक पल भी ज़िन्दा नहीं रह सकता। इनसे औषधियां मिलती हैं। पेड़ इंसान की ज़रूरत हैं, उसके जीवन का आधार हैं। अमूमन सभी मज़हबों में पर्यावरण संरक्षण पर ज़ोर दिया गया है। भारतीय समाज में आदिकाल से ही पर्यावरण संरक्षण को महत्व दिया गया है। भारतीय संस्कृति में पेड़-पौधों को पूजा जाता है। विभिन्न वृक्षों में विभिन्न देवताओं का वास माना जाता है। पीपल, विष्णु और कृष्ण का, वट का वृक्ष ब्रह्मा, विष्णु और कुबेर का माना जाता है, जबकि तुलसी का पौधा लक्ष्मी और विष्णु, सोम चंद्रमा का, बेल शिव का, अशोक इंद्र का, आम लक्ष्मी का, कदंब कृष्ण का, नीम शीतला और मंसा का, पलाश ब्रह्मा और गंधर्व का, गूलर विष्णू रूद्र का और तमाल कृष्ण का माना जाता है। इसके अलावा अनेक पौधे ऐसे हैं, जो पूजा-पाठ में काम आते हैं, जिनमें महुआ और सेमल आदि शामिल हैं। वराह पुराण में वृक्षों का महत्व बताते हुए कहा गया है- जो व्यक्ति एक पीपल, एक नीम, एक बड़, दस फूल वाले पौधे या बेलें, दो अनार दो नारंगी और पांच आम के वृक्ष लगाता है, वह नरक में नहीं जाएगा।
कार्यक्रम मे अनुसया सेवा संगठन अध्यक्ष कृष्णा साहू, सदस्य दुर्गेश भोयरे, राजेश साहु, गुलसन वाघमारे, गगन चन्द्र जायसवाल, प्रकाश साहु अजय साहु, मोरेश्वर साहु अभिषेक साहू ,ने शामिल होकर कार्यक्रम मे योगदान दिया और भोयरे परिवार द्वारा पाच भगवत गीता पुराण का भी वितरण किया गया ।