दीपयज्ञ से श्रीमद् भागवत कथा का समापन


धर्म की पताका को समाज मे बढाने हेतू प्रेरित किया

मुलतापी समाचार

मुलताई तहसील के ग्राम खेडीकोर्ट मे चल रही सप्त दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा का समापन किया गया। कथावाचक संजय गुरूजी ने कथा के माध्यम से लोगो को पुज्य गुरदेव के विचारो को और धर्म की पताका को समाज मे बढाने हेतू प्रेरित किया। और कथा मे सप्त ऋषियो की कथा का विस्तार से वर्णन किया । इसके साथ ही रविवार शाम को बाल संस्कार शाला वायगाव से आये बच्चो ने भव्य और विशाल दीप महायज्ञ का संगीतमय कार्यक्रम किया। दुर्गेश भोयरे ने बताया कि क्षेत्र के विभिन्न गावो मे बडे जोरो शोरो से धार्मिक एकता और अखंडता को मजबूत बनाने के लिए भगवान की कथाओ का क्रियान्वयन हो रहा है ।

गायत्री परिवार द्वारा के बालको मे दीप यज्ञ का संचालन प्रज्ञापुत्र प्रशांत ,विशाल एवं तनुश्री ,निकिता,पल्लवी ने किया और लोगो को नशा नही करने का संकल्प दिलाते हुए कहा अगर बडे ही नशा करेगे तो आज की भावी पीढ़ी भी नशा करेगी इसलिए हमे नशा नही करना होगा ।

कार्यक्रम मे कथा समापन पर कुशल कथावाचक अविनाश खण्डाग्रे ,श्रावण धोटे, दुर्गेश भोयरे, राजेन्द्र पंडाग्रे , सोनी जी ,चिन्धया गावडे, विभिन्न गावो से आये सभी परिजनो की गरिमामय उपस्थिति मे सम्पन्न हुआ ।

संतृप्त एवं खुशहाल जीवन हेतु अभियान चलाया


दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम आरम्भ किया प्रजापिता ब्रह्माकुमारी

मुलतापी समाचार

बेतुल जिला के ग्राम डहर गांव में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय द्वारा संतृप्त एवं खुशहाल जीवन अभियान के अंतर्गत समाज मे व्याप्त व्यसन ,तनाव,भय ,चिंता और अनेक प्रकार की मानसिक बुराइयों को दूर कर एक सशक्त मानव बनने ,शास्वत शांति और प्रेम के संसार को पाने हेतु आध्यात्म की ओर जाने का संदेश ब्रह्मकुमारी सुनीता दीदी,पूनम दीदी ,पूर्णिमा दीदी,श्रद्धा दीदी एवं नंदकिशोर भाई जी द्वारा दिया गया।

इस कार्यक्रम में जनपद अध्यक्ष पूर्णिमा पाठा, सरपंच प्रताप यादव,कंचना मालवी, मंडल अध्यक्ष जुबेर पटेल, कॉपरेटिव उपाध्यक्ष सुदामा पाटणकर,अजय नावँगे ,नितिन नावँगे, सुदामा कारे, संदीप कारे एवं ग्रामीण जन उपस्थित थे।