हिंदी पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष पर विशेष लेख- उमर 1 दिन


चलता हूँ इसलिये कि जीना है, एक दिन।

कमबख्त जीने की चाह ने, दौड़ना सिखा दिया।।

मुलतापी समाचार

                 सारे दिन की भाग-दौड़ के साथ उत्‍तर-दक्षिण पूरब-पश्चिम की सारे जहाँ से कुछ खट्टी कुछ मीठी नरम-गरम कच्ची-पक्की बुलवाकर चुनिंदा हाथों से जब मेरा अंग-अंग तैयार किया जाता है और जैसे ही रात्रि के पहले पहर के अंतिम चरणों में समय के प्रहरी आपस में आलिंगन कर एक होते हैं तभी ठीक रात्रि के बारह बजे मेरा जन्म होता है।

               in the morning  वाह रे मेरी किस्मत तो देखो, मेरे बाहर आते ही मेरा मालिक मेरा सम्राट मेरा जन्मदाता गौर से ऊपर से नीचे तक मुझे निहारता है, कि मुझमें कोई कमी तो नहीं, फिर क्या पूछना जैसे ही मै अपने वास्तविक रूप में आता हॅू मेरी सेवा में मेरे ही घरों के सामने एक से एक गाड़ियाँ मेरी प्रतिक्षा में खडी रहती है कोई में लिखा होता है- रोको मत जाने दो और कोई में नान स्टाप कार्ड लगाये मेरा इंतजार करते रहती हैं, जैसे ही मै उस पर सवार होता हूं

                 गाड़ियाँ बिना रोक-टोक सुनसान सड़कों पर रातों-रात मेरी मंजिल की ओर लेकर मुझे लेकर दौड़ने लगती, कोई मुझे बस में बैठाता, कोई टेन में तो कोई एरोप्लेन में। मेरे पहुँचते ही सुबह-सुबह ब्रह्म मुहुर्त में सूरज की पहली किरणों के साथ लोग मुझे दोनों हाथों में लेकर मेरा स्वागत करते मुझे बहुत आनंद आता है। वैसे मुझे आग-पानी से डर लगता है हवा सहन नहीं होती, फिर भी जब सुबह-सुबह चाहे ठण्डी हो या गर्मी या हो बरसात लोग मुझे साईकल/मोटर साईकल में कोई हाथ पकड़कर मेरे चाहने वाले के घर छोड़कर आते हैं। मुझे अपने आप पर गर्व है कि मैं कितना खुशनसीब हू कि मुझे बिना किसी पास के राष्ट्रपति/ प्रधानमंत्री/ मुख्यमंत्री आई.ए.एस. आई.पी.एस. एवं सभी VIP के घरों में आफिसों में डायरेक्ट एन्ट्री मिलती है। मेरे पहुँचते ही इन लोगों के पास किसी से मिलने के लिये समय हो या न हो इतनी व्यस्तता के बाद भी रोज सुबह मेरे लिये अपना अमूल्य समय निकालकर चाय नाश्ते के साथ मुझे भरपूर समय देते हैं तब मेरा सर गर्व से और भी ऊँचा हो जाता है।

                 मुझे हिन्दू मुस्लिम सिक्ख ईसाई अमीर-गरीब महल हो या अटारी या हो झुग्गी-झोपड़ी किसी के भी घर में जाने में मुझे कोई शर्म नहीं आती क्योंकि मुझे मालूम है मेरी उम्र सिर्फ एक दिन है। फिर अमीर-गरीब छोटा-बड़ा ऊँच-नीच जात-पात में अन्तर करने में अपना समय क्यों गवाऊँ मेरा उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों से मिलूँ इतनी छोटी सी उम्र में मैं जितने अधिक से अधिक लोगों से मिलूँगा उतनी ही तृप्ती मुझे मिलेगी।

                 जब मैं ट्रेनों में बसों में सफर करता हूँ तो लोग मेरी दोनों बाहें पकड़े कोई मेरी कमर पकड़े कोई मुझे गोदी में बिठाये अपना मनोरंजन करते हैं समय काटते हें और मैं कभी इसके पास कभी उसके पास मुझे तो बहुत मजा आता है।

कोई-कोई तो मुझे देखने के बाद मेरे हाथों में गरम-गरम जलेबी-समोसे रखकर मुझे जायका दिलाते हैं।

                 मुझे उस समय बेहद शर्म आती है जब घरों में लोग दिन में अपना सारा काम करने के पश्चात् दोपहर में पलंग पर लेटकर अपने कोमल-कोमल हाथों से कोई मेरी बांहें पकड़े कोई कमर पकड़े मुझे निहारती हैं और थोड़ी देर बाद निहारते-निहारते मुझे अपने ऊपर लिटाये और खुद सो जाती है मुझे घबराहट और बेचैनी होती है, मैं सोचता हूं- हे भगवान कोई कब जल्दी आये और मुझे इनसे छुड़ा के ले जायें।

                 मेरा हृदय जब गद्-गद् हो जाता है, देश की सीमा पर तैनात भारत माँ के सपूत मुझे देखते हैं दौड़ पड़ते हैं उनके हाथों के स्पर्श से मैं धन्य हो जाता हूं और सोचता हूं कि मेरा जीवन धन्य हो गया।

                 मजे की बात तो यह है मि मेरे मालिक मेरे ’’सम्राट’’ के हाथ में जो (कलम) तलवार है वो लकड़ी की है जिससे बिना खून-खराबे के सिर्फ चारों तरफ घुमाने से ही लोगों के रूके हु काम होने लगते हैं तभी तो मैं नेता-अभिनेता की शान और गरीबों का मसीहा माना जाता हूँ।

                 मुझे उन दरिंदों पर बेहद ख़ौफ आता है जो मेरे नाम पर अपनी (कलम) तलवार को बेच देते हैं अपना वज़ूद गिरवी रख देते हैं मेरी भावनाओं से खिलवाड़ करते हैं अपना उल्लू सीधा करते हैं ऐसे मालिक से तो मन करता है इनकी गुलामी से बंद हो जाना या बलिदान हो जाना बेहतर होगा।

                 लोग मेरी उम्र बढ़ाने की बहुत कोशिश करते हैं कोई सोचता है 7 दिन तो कोई सोचता 15 दिन हो जाये, लेकिन मुझे मालूम है मेरी उम्र सिर्फ एक ही दिन की है। कल फिर मेरा ही मालिक किसी दूसरे को जन्म देगा उसकी भी यही आत्मकथा होगी। मैं लम्बी उम्र के बजाय एक दिन की शान की जिन्दगी जीना ज्यादा बेहतर मानता हूंं।

                 मेरे मालिक मेरी रोज की रंगीन/ब्लेक एण्ड व्हाईट तस्वीरें इतिहास के झरोखों में दिखाने के लिये संजो कर रखते हैं। मैंने अपनी आत्मकथा सुना डाली लेकिन अपना नाम नहीं बताया मैं आपकी बाहों में समाया हूं आप मुझे सम्हालिये फिर मैं आपको अपना नाम बताता हूँ। मुझे याद है सबसे पहले मैं बनारस में आज के नाम से निकला फिर अब तो क्या पूछना कोई मुझे मुलतापी समाचार, भास्कर, नवभारत, कोई लोकमत कोई नई दुनिया से पुकारता है।अंग्रेजी में मेरा नाम है- क्रानिकल टाईम्स आफ इण्डिया उर्दू में हितवाद और पंजाब में पंजाब केसरी उजाला सहारा। हर प्रान्त में वहां का लाड़ला माना जाता हूँ। अब यह आपकी मर्जी कि आप मुझे क्या नाम क्या ईनाम देते हैं।

                 आपको मालूम है मेरी उम्र सिर्फ एक दिन है मुझे आपके हाथों में देखते हुये मुझे बड़ा फक्र महसूस हो रहा है, लेकिन मुझे जब ज्यादा तृप्ती मिलेगी, मेरी आस्था और बढ़ेगी जब आप मुस्कुराकर मुझे सुरक्षित किसी और के हाथों में दे दें।

लेखक – अशोक श्री , बैतूल

Braking News:- 1 से 5 जून तक अनलॉक आदेश, जिले में रात्रि कालीन कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा


अनलाॅक होगा बैतूल: जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समूह की बैठक में विचार विमर्श करते हुए बैतूल कलेक्टर, सांसद एवं अन्य अधिकारी गण

दिन में विभिन्न गतिविधियों में दी गई छूट

एक जून से लागू होंगे छूट के आदेश

मुलतापी समाचार

1 जून से जिले में अनलॉक की प्रक्रिया नियमों एवं शर्तों के तहत शुरू की जा रही है यह पहले पांच दिन ट्रायल रहेगा फिर धीरे धीरे बढ़ाया जाएगा
शतर्क रहे, घर मे रहे ,  बहुत जरूरत हो तो ही घर से बाहर माक्स लगाकर निकले

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री अमनबीर सिंह बैंस ने जिले में कोरोना संक्रमण के चलते प्रभावशील कोरोना कर्फ्यू में विभिन्न गतिविधियों के तहत छूट के आदेश जारी किए हैं। जिले में रात्रि कालीन कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। यह आदेश 01 जून 2021 प्रात: 6 बजे से प्रभावशील होकर 05 जून 2021 सायं 4 बजे तक प्रभावशील रहेगा।

जारी आदेशानुसार जिला बैतूल की समस्त राजस्व सीमाओं में प्रत्येक रविवार को जनता कर्फ्यू रहेगा। जनता कर्फ्यू शनिवार रात्रि 10 बजे से सोमवार प्रात: 06 बजे तक प्रभावी रहेगा।

जिला बैतूल में रात्रि 10 बजे से प्रात: 06 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा।

जिले में समस्त सामाजिक/राजनैतिक/ खेलकूद/मनोरंजन/सांस्कृतिक/धार्मिक आयोजन/ मेले आदि जिनमें जनसमूह एकत्र होता है, प्रतिबंधित रहेंगें।

स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक/ प्रशिक्षण/ कोचिंग संस्थान बंद रहेंगें। ऑनलाइन क्लासेस चल सकेंगी।

सभी सिनेमाघर, शॉपिंगमॉल/शापिंग काम्प्लेक्स, स्वीमिंगपूल, थियेटर, पिकनिक स्पॉट, आडिटोरियम, सभागृह बंद रहेंगे।

जिले के सभी धार्मिक/पूजा स्थलों पर केवल पुजारी, मौलवी, ग्रन्थी, पादरी द्वारा सांकेतिक पूजा की जा सकेगी। आमजन का धार्मिक स्थल पर एकत्रित होना प्रतिबंधित होगा।

महाराष्ट्र राज्य से जिला बैतूल में सार्वजनिक परिवहन प्रतिबंधित होगा ।

अनुमत्य गतिविधियों के अलावा किसी भी स्थान पर 06 से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने पर प्रतिबंध रहेगा।

उक्त प्रतिबंध से निम्नलिखित गतिविधियों हेतु छूट रहेगी

अत्यावश्यक सेवाएं देने का कार्य करने वाले कार्यालयों को छोडक़र शेष कार्यालय 100 प्रतिशत अधिकारियों एवं 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ संचालित किये जावे। अत्यावश्यक सेवाओं में जिला कलेक्टोरेट, पुलिस, आपदा प्रबंधन, फायर, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा जेल, राजस्व, पेयजल आपूर्ति, नगरीय प्रशासन, ग्रामीण विकास, विद्युत प्रदाय, सार्वजनिक परिवहन, कोषालय, पंजीयन सम्मिलित है।

समस्त प्रकार के उद्योग एवं औद्योगिक गतिविधियां संचालित हो सकेगी। इस कार्य हेतु उद्योग से जड़े अधिकारियों /कर्मचारियों/ श्रमिकों को वैध आई.डी. कार्ड के साथ आने-जाने की अनुमति रहेगी।

उद्योगों के कच्चा माल/ तैयार माल के आवागमन पर किसी प्रकार की रोक नहीं होगी ।

अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लीनिक, मेडिकल इन्श्योरेंस कम्पनीज, अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेंवाएँ, पशु चिकित्सा अस्पताल चालू रहेंगे।

केमिस्ट, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन दुकानें, पूरे दिन के लिये खुली रखी जा सकेगी।

आटा चक्की, पशु आहार की दुकानें सायं 04 बजे तक खोली जा सकेगी।

किराना, फल और सब्जियां, डेयरी एवं दूध की पूर्ववत् होम डिलेवरी के माध्यम से जारी रहेगी।

पेट्रोल/ डीजल पम्प / गैस स्टेशन, रसोई गैस सेवाएं पूरी तरह से चालू रहेगी।

सभी कृषि गतिविधियों की अनुमति होगी। कृषि उपज मण्डी, खाद/बीज/ कृषि यंत्र की दुकान खुली रहेगी।

जिले के समस्त बैंक, बीमा कार्यालय एवं एटीएम खुले रहेंगे।

प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा केबल आपरेशन्स को अनुमति रहेगी।

बैंक, इन्श्योरेन्स, एनबीएफसी से जुड़े संस्थानों के एमपीएलएस, को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसायटिस, केश मैनेजमेंट एजेन्सीज संचालन एवं आवागमन की अनुमति रहेगी।

सभी प्रकार के सामानों और माल की आवाजाही बिना किसी रोक टोक के जारी रहेगी।

महाराष्ट्र राज्य को छोडक़र सार्वजनिक परिवहन, निजी बसों, ट्रेनों के माध्यम से कोविड-19 के दिशा निर्देशों के अंतर्गत अनुमति रहेगी ।

ऑटो, ई-रिक्शा में दो सवारी, टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्रायवर तथा दो पैसेंजरों को (मास्क के साथ) यात्रा करने की अनुमति होगी।

अंतर्राज्यीय मार्ग से जिले की सीमा में प्रवेश कर रहे नागरिकों को थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य होगी।

मोहल्लों/कॉलोनियों/ग्रामों में एकल दुकानें सायं 4 बजे तक खोली जा सकेगी।

ऑटोमोबाइल रिपेयरिंग, मोबाइल रिपेयरिंग, कृषि उपकरणों की मरम्मत, हार्डवेयर, बिल्डिंग निर्माण संबंधी सामग्री की दुकाने सायं 04 बजे तक खोली जा सकेगी। शेष दुकाने बंद रहेगी।

कोल्ड स्टोरेज एवं वेयर हाउसिंग की सर्विसेज को अनुमति होगी।

सम्पूर्ण प्रदेश में ई-कॉमर्स कम्पनियों से तथा अत्यावश्यक वस्तुओं की दुकानों से होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

येलो एवं ग्रीन जोन के ग्रामों में मनरेगा कार्य, ग्रामीण विकास कार्य एवं अन्य विभागों के निर्माण कार्य तथा तेन्दूपत्ता संग्रहण के कार्य कोविड-19 महामारी की रोकथाम के एस.ओ.पी. का पालन करते हुये जारी रहेंगे।

जिला स्तर पर परम्परागत रूप से लेबर मार्केट कोविड प्रोटोकॉल का पालन की शर्त पर चालू रह सकेंगे।

थोक सब्जियां/ फल/ फूल के बाजार प्रशासन द्वारा निर्धारित स्थान पर ही चल सकेंगें।

एम्बुलेंस, ऑक्सीजन टैंकर्स का आवागमन निर्बाध रहेगा।

अस्पताल/नर्सिंग होम और टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिकों / कर्मियों को छूट रहेगी।

मेन्टेनेंस सर्विस देने वाले यथा इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, कापरेंटर, मोटर मेकेनिक, आईटी सर्विस प्रोवाइडर आदि के आवगमन पर रोक नहीं होगी।

परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले परीक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़ेकर्मी/अधिकारीगण के आवागमन पर छूट रहेगी।

उपार्जन गतिविधियों पर कोई रोक नहीं होगी तथा सतत् रूप से उपार्जन संचालित किया जावेगा।

निजी सुरक्षा सेवाओं को अनमुति रहेगी ।

घरेलू सेवा देने वाले यथा धोबी, ड्रायवर, हाउस हेल्प/ मेड, कुक आदि के आवागमन पर रोक नहीं होगी।

फायर बिग्रेड, टेलीकम्युनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोईगैस,पेट्रोल / डीजल / केरोसीन टैंकर, होम डिलेवरी सेवाएं, दूध एकत्रीकरण / वितरण, फल-सब्जी के परिवहन, डाक एवं कोरियर सेवाओं के आवागमन पर कोई बाधा नहीं होगी।

जिले के समस्त रेस्टोरेन्ट एवं भोजनालय केवल टेक होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्तियों को सम्मिलित होने की अनुमति रहेगी।

विवाह में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 20 लोगों के साथ ही अनुमति रहेगी। इस प्रयोजन के लिए आयोजक को संबंधित अनुविभागीय मजिस्ट्रेट /कार्यपालिक मजिस्ट्रेट सह इंसीडेन्ट कमांडर को अतिथियों के नाम की सूची आयोजन से पूर्व प्रदाय करना आवश्यक होगा।

कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं बचाव हेतु केन्द्र शासन/राज्य शासन तथा जिल्ला प्रशासन द्वारा समय- समय पर जारी निर्देशों)। आदेशों का कडाई से पालन किया जाना बंधनकारी होगा । प्रत्येक व्यक्ति दवारा कोविड उपयुक्त व्यवहार -फेस मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा।

यह आदेश आम जनता को संबोधित है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के साथ ही भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 तथा एपिडेमिक एक्ट 1897 के तहत मप्र शासन द्वारा जारी किए गए विनियम दिनांक 23 मार्च 2020 की कंडिका-10 के अंतर्गत उल्लेखित विधि प्रावधानों अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

यह आदेश 01 जून 2021 प्रात: 6 बजे से प्रभावशील होकर 05 जून 2021 सायं 4 बजे तक प्रभावशील रहेगा।

भाजयुमों ने मुलताई विकासखण्ड में चलाया मास्क वितरण अभियान


मुलतापी समाचार

सेवा ही संगठन के तत्वावधान में
भारत के प्रधानमंत्री मा.नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने सफलता पूर्ण 7 वर्ष पूरे किए जाने पर मुलताई एवम प्रभात पत्तन विकास खंड के ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में भाजयुमों मुलताई ग्रामीण ने चलाया मास्क वितरण एवम् जागरुकता अभियान। भाजयुमों के द्वारा थाना मासोद, सर्रा, हेटी, सांईखेड़ा पोहर जामगांव टेमझिरा, खेडीकोर्ट, निमनवाड़ा सोपई, बानूर में मास्क वितरित किया गया तथा कोविड टीकाकरण के बारे में जागरुकता अभियान चलाया। तथा टीकाकरण ही एक मात्र उपाय के बारे में जानकारी दी तथा टीकाकरण के बारे में फैली भ्रांतियो को दुर किया गया।

जिसमें सेवा ही संगठन के तहत मुलताई विकास खंड में अलग अलग जगह जिसमे मुलताई ग्रामीण एवं नगर अध्यक्षों ने, भाजपा दुनाव मंडल के कार्यर्ताओं ने, भाजपा मासोद मंडल ग्राम प्रधान भास्कर मगरदे एवं जनपद सदस्य कविता कटारे द्वारा सहभागिता निभायी इसी के साथ भाजयुमों महामंत्री विशाल डोंगरे नितिन सोनी, योगेश सातव, चेतन पवांर, अरुण पवांर, सौरभ पवांर, शैलेस राणे,विशाल लोखंडे आदि पदाधिकारी उपस्थित थे

1 जून से प्रदेश में हो रहे अनलॉक हेतु विधायक, SDM एवं पार्षदो सहित क्राइसिस ग्रुप की बैठक सम्पन्न


विधायक पांसे ने बैठक मैं उठाए मुद्दे

विधायक ने उठाई गरीबों के हित की आवाज

मुलतापी समाचार

मुलताई। आज 1 जून से प्रदेश में हो रहे अनलॉक की तैयारियों को लेकर अयोजित वार्ड स्तरीय क्राइसिस ग्रुप की बैठक में शामिल हुआ एवं अनलॉक को लेकर आवश्यक सुझाव देते हुए कहा कि अनलॉक के दौरान नगरीय क्षेत्र में सभी दुकानों को निश्चित समय मे कोविड नियमों के पालन के साथ खोलने की अनुमति दी जाए।

क्षेत्र के सभी कोविड सेंटर में जिनकी मृत्यु हुई है अनिवार्य रूप से उन सभी के मृत्यु प्रमाण पत्र में कोरोना से मृत्यु अंकित किया जाए जिससे उनके परिवारों को शासन की योजनाओं का लाभ मिल सके।

गौनापुर चौकी पर रेपिड एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था की जाए ।

ताप्ती घाट पर सीमित संख्या के साथ लोगो को दशक्रिया की अनुमति दी जाए ।

बैंड बाजे वालों को सीमित संख्या के साथ कार्यक्रमों में बजाने की अनुमति दी जाए ।

ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र में वैक्सीनशन के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाए ।

क्षेत्र में आए बढ़े हुए बिजली बिलों को माफ कर जनता को राहत दे

लॉकडाउन के कारण लंबित पड़े विकास कार्यो को गति प्रदान करे ।

आगामी समय के बोहनी के सीजन को ध्यान में रख प्रशासन खाद एवं बीज की व्यवस्था सुनिश्चित करे ।

कोरोना को हराने और वैक्सीनेशन के लिए जनप्रतिनिधि और प्रशासनीक अधिकारी मैदान में


मुलतापी समाचार, किल्लोद

ग्रामीण अंचलों में किल कोरोना के माध्यम शेखपुरा नाम उक्त करने तथा ग्रामीणों को वैक्सीनेशन कराने के लिए शासन प्रशासन एवं जनप्रतिनिधि मैदान में उतर आए गांव में जनप्रतिनिधि और अधिकारियों द्वारा लोगों को समझाइश दी जा रही है और अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है इसी कड़ी में किल्लेद जनपद पंचायत के अध्यक्ष पंकज पटेल एवं

नायब तहसीलदार सहदेव मौर्य द्वारा 18 प्लस के युवा साथियों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र किल्लोद मैं कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण प्रारंभ किया गया जिसमें ग्राम किल्लोद मैं संपूर्ण ग्राम के युवाओं से नाय तहसीलदार सहदेव मौर्य एवं पंकज सिंह पटेल जनपद अध्यक्ष किल्लोद के द्वारा पूरे गांव में भ्रमण कर माई के द्वारा ग्रामीणों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया। साथ ही किल्लोद विकासखंड वासियों से टीकाकरण अवश्य से अवश्य लगाने हेतु आव्हान किया

नायब तहसीलदार सहदेव मौर्य ने ग्रामीणों को समझाइश देते हुए बताया है कि करोना गाइडलाइन का पालन करके एवं करोना का टीका लगवाकर हम अपने अपने परिवार मोहल्ले और गांव को कोरोना वायरस से बचा सकते हैं इसलिए शासन द्वारा टीकाकरण अभियान पर जोर दिया जा रहा है और

इस समय सभी ग्रामीणों को सहयोग करना है एक एक परिवार एक मोहल्ला और एक गांव कोरोना वायरस मुक्त होगा, तो पूरे प्रदेश में कोरोनावायरस की महामारी से हम जीत सकते हैं जनपद पंचायत अध्यक्ष पंकज पटेल ने भी खुद आगे रहकर ग्रामीण युवाओं को टीकाकरण के लियें प्रेरित किया।

आज हिंदी पत्रकारिता दिवस है। आज ही के दिन पहला हिंदी अख़बार उदन्त मार्तण्ड प्रकाशित किया गया था


भारतीय संविधान के चौथे स्तंभ समाज के दर्पण कड़कड़ाती धूप, छांव एवं भयानक बारिश और सर्दी मैं अपने प्राणों की बिना चिंता करे, खबर एकत्रित करके समाज के सामने प्रस्तुत करते हो, जिससे शासन प्रशासन और अन्य संवैधानिक संस्थाओं से जनमानस को बिना किसी परेशानी के लाभ मिलता है, ऐसे सभी पत्रकार साथियों को आज *हिंदी_पत्रकारिता_दिवस* के शुभ अवसर पर बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित करता हूँ …

*बेवाक कलम*..!!*
*मुलतापी समाचार*
मनमोहन पंवार

भारत की प्रथम हिंदी अखबार उदंत मार्तंड की छाया प्रति

आज ही के दिन 1826 में पंडित युगुल किशोर शुक्ल ने प्रथम हिन्दी समाचार पत्र ‘उदन्त मार्तण्ड’ का प्रकाशन व संपादन आरम्भ किया था। इस प्रकार भारत में हिंदी पत्रकारिता की आधारशिला पंडित जुगल किशोर शुक्ल ने डाली थी। वे कानपुर संयुक्त प्रदेश (कानपुर उस समय एक संयुक्त प्रदेश था) के निवासी थे।

उदंत मार्तण्ड हिंदी का प्रथम समाचार पत्र था जिसका प्रकाशन 30 मई, 1826 को कलकत्ता से एक साप्ताहिक पत्र के रूप में आरंभ हुआ था। उस समय अंग्रेज़ी, फारसी और बांग्ला में तो अनेक पत्र निकल रहे थे किंतु हिंदी में एक भी पत्र प्रकाशित नहीं होता था। प्रारंभिक रूप में इसकी केवल 500 प्रतियां ही मुद्रित हुई थीं पर इसके पाठक कलकत्ता से बहुत दूर होने के कारण इसका प्रकाशन लम्बे समय तक न चल सका क्योंकि उस समय कलकत्ता में हिंदी भाषियों की संख्या बहुत कम थी व डाक द्वारा भेजे जाने वाले इस पत्र के खर्चे इतने बढ़ गए कि इसे अंग्रेज़ों के शासन में चला पाना असंभव हो गया। अंतत: 4 दिसम्बर 1826 को इसके प्रकाशन को विराम देना पड़ा।

सेवा की मिसाल- स्वयं सेवकों ने कोविड सेंटर में मृत बुजुर्ग महिला का विधिवत अंतिम संस्कार कराया


राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिला मुलतापी

मुलतापी समाचार

नगर मुलताई आज संघ की उत्कृष्ट सेवा का भी प्रत्यक्ष दर्शन हुआ जिसमें आज कोविड केयर सेंटर पर एक ग्रामीण इलाके की बुजुर्ग महिला इलाजरत थी दुर्भाग्य से उनका निधन हो गया एवं उनके साथ परिवार में सिर्फ उनकी पोती अकेली थी

जिलाप्रचारकजी के मार्ग दर्शन में स्वयंसेवको ने कोविड केयर सेंटर से ले जाकर स्वयं पीपीई किट पहनकर लकडी बुलवाकर विधिवत पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार स्थानीय श्मशान घाट में व्यवस्था करा कर किया अंतिम संस्कार उनकी उतराधिकारी पोती के दारा संपन्न कराया धन्य भारत माता के लाल
महामारी ने बढ़ाई दूरियां …
स्वयं सेवको ने बढ़ाए हाथ…

विकासखंड मुलताई के 2240 एवं प्रभात पट्टन में 1700 परिवारों ने किया ग्रह ग्रह है.. यज्ञ


मुलतापी समाचार

अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के आवाहन पर कोवातावरण के परिशोधन कोरोना महामारी के निवारण एवं विश्व शांति की भावना से बुद्ध पूर्णिमा को एक साथ एक समय पर विश्व के लगभग 200 देशों में गायत्री महायज्ञ संपन्न करने का आव्हान किया गया था

जिसमें मोबाइल एवम् मोबाइल एवम् व्हाट्सएप से प्राप्त जानकारी एवम् सूची के आधार परमुलताई विकासखंड एवम् प्रभात पट्टन विकासखंड के मुलताई सहित लगभग 70ग्राम के 3940 परिवारों ने एक साथ एक समय पर गायत्री महामंत्र एवं महामृत्युंजय मंत्र सहित सूर्य गायत्री मंत्र से आहुतिया समर्पित कर इस महायज्ञ में अपनी भागीदारी की साथ ही इस महायज्ञ को संपन्न करने एवं सफल करने के लिए मुलताई सहित मुलताई विकासखंड एवम् प्रभात पट्टन विकास खंड के ग्रामों के लगभग 300 साधकों ने गायत्री मंत्र लेखन की साधना की एवं अक्षय तृतीया से बुद्ध पूर्णिमा तक लगभग मुल्ताई के 160 कार्यकर्ताओं ने 12 घंटे का अखंड जप साधना भी की इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु किया उपजोन समन्वयक एवं जिला समन्वय समिति के विशेष मार्गदर्शन पर गायत्री परिवार मुलताई गायत्री परिवार ट्रस्ट मुल्ताई विकासखंड मुलताई व प्रभात पट्टन के समस्त शक्तिपीठ एवं प्रज्ञा पीठों के सक्रिय कार्यकर्ता भाई बहनों सहित नवचेतना केंद्र केंद्रों एवं महिला मंडल प्रज्ञा मंडल युवा मंडल मंडलों संस्कृति मंडल के भाई बहनों के अथक प्रयासों से यह कार्यक्रम सफल हुआ साथ ही इस कार्यक्रम को सफल बनाने में गायत्री परिवार ही नहीं बल्कि नगर सहित क्षेत्र की समस्त धार्मिक संगठनों ने भी इस कार्यक्रम को सफल बनाने एवं

मानव जाति के उत्थान वातावरण के परिशोधन एवं विश्व कल्याण की भावना से इस महायज्ञ में अपनी भागीदारी निभाई एवं इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष सहयोग प्रदान किया इसके लिए गायत्री परिवार समस्त,साधकों का , कार्यकर्ता एवं परिजनों का ,धार्मिक संगठनों का ह्रदय से आभार व्यक्त करता है ,एवं आशा करता है की आगामी समय में भी इसी प्रकार सहयोग प्रदान करते रहे।।

कोरोना कील करने हेतु सोडियम हाईपोक्लोराइड की 5 लीटर की 250 बोटल SDM को सौपा


मुलताई और प्रभातपट्टन के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र को कोरोना मुक्त करने हेतु हेमंत देशमुख जी द्वारा एक और पहल।

आज मुलताई में श्री हेमंत विजयराव देशमुख जी द्वारा श्रीमती हरसिमरन प्रीति कौर की उपस्तिथि में मुलताई एवं प्रभात पट्टन ग्रामीण और नगर के मंदिर, शासकीय भवन, उपस्वास्थ्य केंद्र, मंडी ,कोविड केअर सेंटर , पंचायत भवन कोरोना मुक्त करने हेतु आज सोडियम हाईपोक्लोराइड की 5 लीटर की 250 बोतल (1250 लीटर) प्रशासन को दिया गया जिसका उपयोग नगर एवं ग्रामीण क्षेत्रो में कोरोना मुक्त करने हेतु छिड़काव किया जायेगा
हेमंत विजयराव देशमुख ने बताया कि ..सोडियम हाइपोक्लोराइट एक क्लोरीन यौगिक है, जिसे अक्सर एक निस्संक्रामक या विरंजन एजेंट के रूप में उपयोग किया जाता है। सोडियम हाइपोक्लोराइट संक्रमित क्षेत्र या जगह को साफ करने के लिए एक डिसइन्फेक्टेंट के रूप में उपयोग किया जाता है। , ये एक कीटाणुनाशक के घटक हैं। वर्तमान में हॉस्पिटलों से लेकर घरों में इसका इस्तेमाल किया जाता है। सोडियम हाइपोक्लोराइड का इस्तेमाल बेहतर होता है, ये किटाणुरोधी होता है, इसे घर से लेकर हॉस्पिटल में इस्तेमाल करने से संक्रमण का खतरा कम हो जाता है। इस अवसर पर भवानी गावंडे भाजयुमो अध्यक्ष, हरीश कापसे, जीएस बारस्कर, विश्व हिंदू परिषद जिला मंत्री उदय जोशी, भाजयुमों मुलताई महामंत्री विशाल डोंगरे, तपन खंडेलवाल आदि उपस्थित थे।

कोचिंग व सिनेमा घर रहेंगे बंद…


(म.प्र) मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान इस बात के संकेत भी दिए की एक जून से सब कुछ नहीं खुलेगा बल्की अनलॉक के बाद अधिका भीड़ न जुटे इस बात का पूरा ध्यान रखा जायेगा अनलॉक शुरू होने के बाद भी पार्क कोचिंग सेंटर शैक्षणिक संस्थान सिनेमा घर अभी बंद रहेंगे हालात पूरी तरह सामान्य होने पर ही इन्हे धीरे धीरे खोलने की अनुमति दी जा सकती है इसी तरह शराब दुकानों व बाजार दुकानों को खोला जा सकता है यह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने पर निर्भर होगा…

जारी रहेगा किल कोरोना अभियान मुख्यमंत्री ने कहा की ग्रामीण इलाकों मे संक्रमण की रोकथाम के लिए किल कोरोना अभियान निरंतर जारी रहेगा इसके लिए सरकारी अमले के साथ ही वालंटियर की टीम गाँव -गाँव पहुंचकर लोगों का स्वास्थय परिक्षण करेंगी संधिग्द पाए जाने पर उन्हें कोविड केयर सेंटर या होम आइसोलेट किया जायेगा…