वर्षगांठ, विवाह के अवसर पर कोरोना का टीका जरूर लगाएं, अभियान की शुरुआत


बैतूल – एससी वेलफेयर एम्पलाई सोसायटी एवं सजाक्स संगठन बैतूल के द्वारा चंद्रशेखर वार्ड निवासी श्री एन डी ब्राह्मणे प्राचार्य आदिवासी विकास बैतूल एवं उर्मिला ब्राह्मणे की 26 वी वैवाहिक वर्षगांठ के अवसर पर लक्ष्मीतरु का पौधा भेंट करते हुए 21 जून से पूरे देश में कोविड-19 वैक्सीनेशन राष्ट्रीय अभियान के पोस्टर्स उनको भेंट करके शपथ दिलवाई गई खुद टीका लगाओ और दूसरों को भी कोरोना का टीका लगवाने का संदेश देने संबंधी शपथ दिलवाई गई।

साथ ही समीप के ग्राम खेड़ी सावलीगढ़ में राठौर परिवार के यहां आयोजित शादी समारोह में वर एवं वधू को सम्मान स्वरूप लक्ष्मीतरु का पौधा भेंट कर उनको भी राष्ट्रीय वैक्सीनेशन जनअभियान के तहत खुद टीका लगाओ और दूसरों को कोविड-19 का टीका लगवाने के लिए प्रेरित करो का संदेश लोगों तक पहुंचाने के लिए शुभकामनाएं स्वरूप कहां गया।

इसी श्रंखला में आज शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गंज बैतूल में राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान के तहत दृष्टि एजुकेशन एकेडमी सदर बेतूल के संचालक श्री कमलेश निरापुरे के नेतृत्व में एकेडमी के छात्र एवं छात्राओं ने इस राष्ट्रीय अभियान में सहयोग करते हुए पहले स्वयं कोरोना टीका लगाया एवं बाद में अन्य लोगों को भी इस अनुकरणीय पहल को अपने जीवन में उतारते हुए टीका लगवाने का संदेश दिया।

इस अवसर पर संगठन के तमाम पदाधिकारियों की ओर से संगठन के प्रांतीय महासचिव श्री आर के विजयकर श्री एस ब्राह्मणे जिला अध्यक्ष सजाक्स दृष्टि एजुकेशन एकेडमी सदर के संचालक श्री कमलेश निरापुरे महिला युवा नेत्री श्रीमती माला खातरकर ,देशभक्ति का अदम्य उदाहरण , निरंतर कोरोना कॉल में मानव सेवा के लिए सदैव तत्पर रहने वाले सहज सरल अदम्य साहस वीरता के परिचायक श्री विजय नरवरे ,श्री हेमराज पाटिल श्रीमती उषा सातनकर, श्रीमती निर्मला भटनाकर ,श्री विनोद खातरकर, श्री गजानन पंडाग्रे श्री खुशराज कापसे आदि पदाधिकारियों की विशेष उपस्थिति मे यह कार्यक्रम संयोजित किए गए।

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल 9584390839

मुलताई मे ठेकेदार की मनमानी काम होने के बाद नही कर रहे सफाई


मुलतापी समाचार

मुलताई मे साई मंदिर के पीछे ठेकेदार द्वारा सडक खुदाई के पश्चात सफाई ना कर के मिट्टी कचरा रोड पर ही बिना सफाई के फेक कर चले गये तथा नाली पूरी जाम हो गई है और नगर पालिका खामोश है।