पुलिस विभाग में फिर फेरबदल, कई एसआई और एएसआई इधर से उधर


बैतूल। एसपी सिमाला प्रसाद ने लगभग 1 दर्जन उप निरीक्षक और सहायक उपनिरीक्षकों के तबादले किये हैं। इनकी पदस्थापना नए थानों में की गई है। बैतूलबाजार में पदस्थ उपनिरीक्षक वाहिद खान को लाइन अटैच कर दिया है। जारी सूची के अनुसार उप निरीक्षक वहीद खान को बैतूल बाजार से रक्षित केंद्र, फतेह बहादुर को सारणी से बैतूल बाजार, रवि शाक्य को घोड़ाडोंगरी चौकी से मुलताई, नन्दकिशोर पाल को रानीपुर से शाहपुर, उत्तम मस्तकार को मासोद से पुलिस सहायता केंद्र प्रभात पट्टन, विजय सिंह ठाकुर को मुलताई से चौकी प्रभारी मासोद, सहायक उप निरीक्षक गोपाल पाल को कोतवाली से आठनेर, दिलीप टांडेकर को कोतवाली से झल्लार, युगल किशोर को थाना गंज से आमला, शेरसिंह परते को आमला से शाहपुर, रामस्वरूप रघुवंशी को आमला से थाना गंज, संतोष सिंह नागवे को भैंसदेही से चोपना, अवधेश वर्मा को आठनेर से कोतवाली, राममूरत को झल्लार से आमला, जयपाल सिंह को मोहदा से रक्षित केंद्र बैतूल, विनोद मालवीय को शाहपुर से चोपना, रमेश कुमार धुर्वे को शाहपुर से भैंसदेही, प्रेमलाल परते को बीजादेही से सारणी, गयाप्रसाद बिल्लोरे को सारणी से कोतवाली बैतूल, अर्जुन सिंह को घोड़ाडोंगरी से मोहदा, बृजमोहन पठारिया को चोपना से बीजादेही और विनायक राव कासदेकर को आठनेर से रक्षित केंद्र बैतूल स्थानांतरित किया गया है।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सरपंच तथा पंच पद के नाम निर्देशन ऑनलाइन प्राप्त नहीं किए जाएंगे


भोपाल। उप जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) से प्राप्त जानकारी के अनुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन 2021-22 के लिए आयोग द्वारा सरपंच पद तथा पंच पद के नाम-निर्देशन ऑनलाइन प्राप्त नहीं किए जाने का निर्णय लिया गया है तथा नाम निर्देशन की प्रक्रिया जैसे- नाम निर्देशन पत्रों की प्रविष्टि, संवीक्षा, नाम वापसी, क्रम निर्धारण एवं प्रतीक चिन्ह का आवंटन आईईएमएस सॉफ्टवेयर से नहीं किया जाकर पारंपरिक पद्धति (ऑफलाइन) से किया जाएगा।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जनपद एवं जिला पंचायत सदस्यों को ऑनलाइन नाम-निर्देशन भरने की होगी सुविधा


भोपाल। उप जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) से प्राप्त जानकारी के अनुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन 2021-22 के लिए आयोग द्वारा जनपद सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्यों के अभ्यर्थियों को ऑनलाइन नाम-निर्देशन एप्लीकेशन के माध्यम से नाम-निर्देशन भरने की अतिरिक्त सुविधा प्रदान की गई है।

ऑनलाइन नाम-निर्देशन पत्र प्राप्त करने के लिए मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा विस्तृत निर्देश जारी किए गए हैं। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने तहसीलदारों, नायब तहसीलदारों एवं रिटर्निंग अधिकारी (पंचायत) को राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार अभ्यर्थियों को ऑनलाइन सुविधा प्रदान करने के लिए रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय में कम से कम दो सुविधा केन्द्र स्थापित किए जाने तथा स्थापित सुविधा केन्द्रों में पर्याप्त स्टाफ, इंटरनेट कनेक्टिविटी एवं कम्प्यूटर, प्रिंटर, स्कैनर आदि की व्यवस्था की जाकर स्थापित केन्द्रों की जानकारी 11 नवंबर 2021 के प्रात: 11 बजे तक कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) कार्यालय को अनिवार्य रूप से भेजने के निर्देश दिए हैं।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में अभ्यर्थी को विद्युत देयताओं का अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा अनिवार्य


भोपाल। त्रि-स्तरीय पंचायत के आम निर्वाचन में अभ्यर्थी के लिए नाम-निर्देशन पत्र के साथ विद्युत देयताओं के संबंध में अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। यदि नाम-निर्देशन प्रस्तुत करने वाले अभ्यर्थी के नाम से विद्युत कनेक्शन नहीं है तो उसे विद्युत वितरण कंपनी के संबंधित वितरण केन्द्र से ‘वितरण केन्द्र के रिकार्ड अनुसार आवेदक का कोई विद्युत कनेक्शन होना नहीं पाया गया है’ ऐसा पत्र जारी किया जाएगा। इस कार्य हेतु प्रत्येक रिटर्निंग अधिकारी के कार्यालय में बिजली कंपनी रिकार्ड के साथ अपना व्यक्ति नामांकन से संवीक्षा की अवधि तक उपलब्ध भी कराएंगे, जिससे सहजता से ऐसा पत्र जारी हो सके।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सदस्य अभ्यर्थियों को नाम-निर्देशन पत्र के साथ प्रस्तुत करना होगा अदेय प्रमाण पत्र


पंच, सरपंच, जनपद पंचायत तथा जिला पंचायत सदस्य के अभ्यर्थियों को नाम-निर्देशन पत्र के साथ प्रस्तुत करना होगा अदेय प्रमाण पत्र

भोपाल। मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा लिए गए निर्णय अनुसार त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन के लिए पंच, सरपंच, जनपद पंचायत तथा जिला पंचायत सदस्य के अभ्यर्थियों को अपने नाम-निर्देशन पत्र के साथ पंचायत को देय समस्त शोध्यों का अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। नाम निर्देशन पत्र के साथ अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं करने वाले नाम-निर्देशन पत्र निरस्त कर दिया जाएगा। अदेय प्रमाण पत्र, नाम-निर्देशन पत्रों की संवीक्षा के लिए निर्धारित तिथि एवं समय तक संबंधित रिटर्निंग अधिकारी को प्रस्तुत किए जा सकते हैं।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार अदेय प्रमाण पत्र निर्वाचन घोषणा के पूर्व के वित्तीय वर्ष तक का प्रस्तुत करना होगा। अर्थात यदि माह दिसंबर 2014 में निर्वाचन की घोषणा होती है तो 31 मार्च 2014 की स्थिति में अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। निर्धारित प्रारूप में अदेय प्रमाण पत्र ग्राम पंचायत के लिए सचिव द्वारा, जनपद पंचायत के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत द्वारा और जिला पंचायत के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा जारी किया जाएगा।

अभ्यर्थी द्वारा जिस पंचायत के लिए नाम-निर्देशन पत्र भरा जा रहा है, उस पंचायत का अदेय प्रमाण पत्र, नाम-निर्देशन पत्र के साथ संलग्न करना अनिवार्य होगा। यदि अभ्यर्थी पूर्व में किसी अन्य पंचायत का पदाधिकारी/सदस्य रहा है तो उसे पूर्व पंचायत का भी अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। अर्थात यदि कोई अभ्यर्थी पूर्व में सरपंच रहा है और अब जनपद/जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लडऩा चाहता है तो उसे जनपद/जिला पंचायत के साथ-साथ ग्राम पंचायत का भी अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। इसी प्रकार यदि कोई पूर्व जनपद सदस्य या जिला पंचायत सदस्य, ग्राम पंचायत के सरपंच का चुनाव लड़ना चाहता है तो उसे ग्राम पंचायत के साथ-साथ संबंधित जनपद/जिला पंचायत का भी अदेय प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।

बैतूल में कोरोना की वापसी


बैतूल। (मुलतापी समाचार) स्वास्थ्य विभाग की मीडिया अधिकारी कोरोना के कहर में आने से एक बार फिर स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। सीएमएचओ कार्यालय में पदस्थ मीडिया अधिकारी श्रुति गौर कोरोना पॉजीटिव आने के बाद कार्यालय को सेनेटाईज किया है। मीडिया अधिकारी श्रुति गौर को दोनों वैक्सीन लगे चुके है फिर भी वे पॉजिटिव आई है। इससे स्वास्थ्य विभाग में ही हड़कम्प है।

कोरोना नोडल अधिकारी सौरभ राठौर ने बताया कि मीडिया अधिकारी का पिछले एक सप्ताह से स्वास्थ्य ठीक नही होने के कारण वह छुट्टी पर थी। इसलिए किसी प्रकार की कांटेक्ट रिपोर्ट नही है। परिवारजनों के कोरोना सेम्पल ले लिए गए है।

युवा आदिवासी गायकी समाज ने मनाया दीपावली मिलन समारोह।


युवा आदिवासी गायकी समाज ने मनाया दीपावली मिलन समारोह।

चिखली कलां में युवा आदिवासी गायकी समाज संगठन ने प्रतिवर्षानुसार दीपावली मिलन समारोह (मंडई) का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें गायकी समाज के लोगों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। आराध्य देव मुठ्या बड़ा देव की पूजा करने के पश्चात लोक संगीत व नृत्य करते हुये कार्यक्रम की शुरुआत कि गयी। युवा संगठन के अध्यक्ष मुकेश घोनाड़े जी ने बतलाया की। यह कार्यक्रम प्रतिवर्ष किया जाता है। जिसमें सभी आदिवासी गायकी समाज सह परिवार उपस्थित होता है। जिस कार्यक्रम में प्रमुख रुप से जिला पंचायत सदस्य राजा पवार जी, भाजयुमों जिलाध्यक्ष भवानी गावंडे जी, भाजपा नेता नारायण रघुवंशी जी, भाजयुमों जिला उपाध्यक्ष कमलेश रघुवंशी जी, भाजयुमों मुलताई महामंत्री विशाल डोंगरे, चंदु सरोदे जी, कमलेश पटेल जी, रामदास रघुवंशी जी, हनुमंत साबले, एवं युवा आदिवासी गायकी समाज से अध्यक्ष मुकेश घोनाड़े, उपाध्यक्ष राजु राऊत, सचिव प्रवीण निवारे, राजु निवारे, जिवतिया निवाटे, बंटी बंधिये, ब्रिजेश नेवारे, राकेश बंधिये, एवं समस्त गायकी समाज की माता बहने बच्चे उपस्थित रहे।