All posts by pramodpal350

इंदौर के निजी अस्पताल में मरीज की मौत के बाद तोड़फोड़


File photo

Multiple Samachar

मरीज की मौत

इंदौर । शहर के भंवरकुआं क्षेत्र में संचालित दशमेश अस्पताल में मरीज की मौत के बाद उसके परिजन ने तोड़फोड़ की। शव को अस्पताल में रखकर अस्पताल के दरवाजे, खिड़की, काउंटर आदि को तोड़ दिया। अस्पताल का स्टाफ और डॉक्टर यह देखकर वहां से भाग गए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक के स्वजन को समझाइश दी और शिकायत दर्ज की।

परिजन ने आरोप लगाया कि अस्पताल की लापरवाही व गलत इंजेक्शन देने से मौत हुई है। रविवार रात लगभग डेढ़ बजे युवक गोकुल डिवाइडर से टकराकर घायल हो गया था। उसे भोलाराम उस्ताद मार्ग स्थित दशमेश अस्पताल में भर्ती किया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान कोई इंजेक्शन लगाया गया।

रात को ही मरीज की मौत हो गई। जब परिजन को इसकी सूचना दी गई तो वे भड़क गए। उन्होंने सुबह डॉक्टर से बात करनी चाही तो मौके पर कोई नहीं मिला। इससे उनका गुस्सा भड़क गया। परिजन ने शव को बाहर लाकर रखा और विरोध प्रदर्शन करते हुए कार्रवाई की मांग की। इससे स्टाफ व मरीज दोनों ही घबरा गए।

कुछ देर बाद भंवरकुआं पुलिस पहुंची व शिकायत के बाद मामले की जांच शुरू की। शव को पीएम के लिए एमवाय अस्पताल भेजा गया। मृतक के दोस्त संजय ने बताया कि रात को दुर्घटना के बाद अस्पताल पहुंचे थे। नर्स ने कोई इंजेक्शन लगाया आधे घंटे बाद मौत की जानकारी दी।

तल मंजिल पर की तोड़फोड़

स्वजन ने अस्पताल की तल मंजिल पर तोड़फोड़ करते हुए दरवाजे, खिड़की तोड़ दिए। इसके बाद अस्पताल के अंदर पहुंचे और कांच, अलमीरा व काउंटर भी तोड़ दिया। पुलिस के पहुंचने के बाद मामला शांत हुआ।

प्रमोद पाल , न्यूज़ एडिटर, इंदौर

मुलताई समाचार