Category Archives: कोरोना कॉविड 19 हेल्थ बुलिटिन अपडेट

समस्त प्रकार की दुकाने, निजी कार्यालय प्रातः 09:00 बजे से रात्रि 08:00 बजे तक खुल सकेंगे- कलेक्टर आदेश


रात्रिकालीन कर्फ्यू जारी रहेगा रात 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक

(पारित आदेश दिनांक 16 जून 2021)

सभी कर्मचारियों को 10 दिवस के भीतर कोविड-19 से सुरक्षा हेतु टीकाकरण करना अनिवार्य होंगा

मुलतापी समाचार

जिले में समस्त सामाजिक /राजनैतिक / खेल मनोरंजन / सांस्कृतिक / धार्मिक आयोजन मेले आदि जिनमें जनसमूह एकत्र होता है प्रतिबंधित रहेंगें ।

जिले में स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक / प्रशिक्षण / कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। ऑनलाईन क्लासेस चल सकेंगी ।

जिले में सभी धार्मिक पूजा स्थल खुल सकेंगे किंतु एक समय में 06 से अधिक व्यक्ति उपस्थित नहीं रहसकेंगे तथा उपस्थित जनो को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना बंधनकारी होगा ।

जिले के समस्त शासकीय अर्ध शासकीय, निगम, मण्डल के कार्यालय 100% अधिकारियों 100% कर्मचारियों की उपस्थिति में खुलेंगे ।

जिले के समस्त प्रकार की दुकाने, व्यवसायिक प्रतिष्ठान तथा निजी कार्यालय प्रातः 09:00 बजे से रात्रि 08:00 बजे तक खुल सकेंगे शॉपिंग मॉल, जिम भी उक्त समय में खुल सकेंगे तथापि सभी सिनेमाघर, थियेटर, स्वीमिंग पूल बंद रहेंगे । दुकान एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठान के संचालक एवं कार्यरत सभी कर्मचारियों को 10 दिवस के भीतर कोविड-19 से सुरक्षा हेतु टीकाकरण कराया जाना अनिवार्य होगा ।

जिले के समस्त वृहद, मध्यम, लघु एवं सूक्ष्म उद्योग अपनी पूर्ण क्षमता पर कार्य कर सकेंगे तथा निर्माण गतिविधियाँ सतत चल सकेंगी। 7 जिले के समस्त जिम एवं फिटनेस सेंटर रात्रि 08:00 बजे तक 50% कैपेसिटी पर कोविड प्रोटोकॉल की शर्त का पालन करते हुए खुल सकेंगे ।

जिले में समस्त खेलकूद के स्टेडियम खुल सकेंगे किन्तु खेल आयोजनों में दर्शक शामिल नहीं हो सकेंगे ।

जिले के समस्त रेस्टोरेंट एवं क्लब 50% केपेसिटी से रात्रि 10:00 बजे तक खुल सकेंगे। समस्त होटल एवं लॉज पूर्ण क्षमता अनुसार खुल सकेंगे ।

विवाह आयोजनों में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 50 लोगों की उपस्थिति की ही अनुमति होगी। इस प्रयोजन के लिए आयोजक द्वारा विवाह कार्यक्रम में सम्मिलित होने वाले व्यक्तियों की सूची आयोजन से पूर्व संबंधित अनुविभागीय मजिस्ट्रेट /कार्यपालिक मजिस्ट्रेट सह इन्सीडेन्ट कमाण्डर को प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।

अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्तियों को सम्मिलित होने की अनुमति रहेगी ।

रूल ऑफ सिक्स: अनुमत्य गतिविधियों के अलावा किसी भी स्थान पर 06 से अधिक व्यक्तियों के एक होने पर प्रतिबंध रहेगा ।

अन्तराज्यीय (inter state) तथा राज्यांतरित (intra state) माल (goods) एवं सर्विसेज का आवागमन निर्बाध रहेंगा ।

जिन ग्रामों में कोविड-19 के Active Cases पॉच या पाँच से अधिक है उन्हें रेड ग्राम के रूप में चिन्हांकित किया गया है। रेड ग्रामों में तथा नगरीय क्षेत्रों में माइक्रो कन्टेनमेंट जोन/कन्टेनमेंट जोन में कोविड-19 संक्रमण के संबंध में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी दिशा निर्देशों (guidelines) के अनुसार ही गतिविधियाँ संचालित हो सकेंगी

संपूर्ण बैतूल जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों में प्रत्येक रविवार जनता कर्फ्यू रहेगा, जो शनिवार रात्रि 10:00 बजे से सोमवार प्रात: 06:00 बजे तक प्रभावी रहेगा

संपूर्ण बैतूल जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों में रात्रि 10:00 बजे से प्रातः 06:00 बजे तक नाईट कर्फ्यू रहेगा । 17 परिशिष्ट-1 में संलग्न कोविड उपयुक्त व्यवहार (Covid Appropriate Behaviour) का समस्त जन द्वारा पालन किया जाना आवश्यक होगा।

यह आदेश आम जनता को सम्बोधित है। चूंकि, वर्तमान में ऐसी परिस्थितियाँ नहीं हैं, और ना ही यह सम्भव है कि इस आदेश की पूर्व सूचना प्रत्येक व्यक्ति या समूह को दी जाकर सुनवाई की जा सके। अतः दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 (2) के अंतर्गत यह आदेश एकपक्षीय पारित किया जाता है। आदेश से व्यथित कोई भी व्यक्ति दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 (5) के अंतर्गत जिला दण्डाधिकारी बैतूल के न्यायालय में आवेदन प्रस्तुत कर सकेगा। अत्यंत विशेष परिस्थितियों में जिला दण्डाधिकारी बैतूल द्वारा संतुष्ट होने पर आवेदक को एवं नियमों के अधीन किसी भी लागू शर्तों से छूट दे सकेगा। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के साथ ही भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 तथा एपिडेमिक एक्ट, 1897 के तहत म0प्र0 शासन द्वारा जारी किये गए विनियम दिनांक 23/03/2020 की कंडिका -10 के अंतर्गत उल्लेखित विधि प्रावधानों अंतर्गत कार्यवाही की जावेगी।

यह आदेश दिनांक 16/06/2021 से प्रभावशील होकर दिनांक 30/06/2021 तक प्रभावी रहेगा । यह आदेश दिनांक 16/06/2021 को मेरे हस्ताक्षर एवं पदमुद्रा से जारी किया गया।

(जिला दण्डाधिकारी बैतूल द्वारा अनुमोदित)

अपर जिला दण्डाधिकारी बैतूल

मध्यप्रदेश शासन, गृह विभाग, मंत्रालय, वल्लभ भवन के पत्र क्रमांक एफ 35-09/2020/दो/सी-2, भोपाल दिनांक 15 जून 2021 से प्राप्त दिशा निर्देशों के पालन में कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं बचाव के दृष्टिं इस कार्यालय के आदेश क्रं0 0066/144/2020/5548 दिनांक 15/06/2021 तथा इस संबंध में जारी पूर्व आदेशों को अधिक्रमित करते हुए से बैतूल जिले की राजस्व सीमा में निम्नानुसार प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया जाता है :

Korona Positive सास ने बहू को जबरन गले लगाकर किया पॉजिटिव – बदले की भावना


देश में कोरोना का कहर जारी है। महामारी का खौफ के बीच एक अजीब घटना सामने आया है। तेलंगाना में संक्रमित होने के बाद एक सास ने अपनी बहू से बदला लेने के लिए उसे जबरदस्ती अपने गले लगा लिया। ताकि वह भी महामारी की चपेट में आ जाए। वहीं बहू के पॉजिटिव होने के बाद घर से भी निकाल दिया।

बहू को जबरन गले लगाकर किया संक्रमित

दरअसल, हैरान कर देने वाला यह वाकया राजना सिरचिल्ला जिले के सोमरीपेटा गांव का है। जहां एक महिला के कोरोना पॉजिटिव आन के बाद परिवार के लोगों ने उसे घर में ही आइसोलेट कर दिया था। साथ ही उससे मिलना-जुलना बंद कर दिया। एक निश्चित जगह पर भोजन दिया जाता था। उसके पास पोता-पोती को भी जाने की इजाजत नहीं थी। बहू ने भी महिला से दूरी बना ली थी। क्योंकि दूसरे लोगों में संकमण फैलने का खतरा था। 

अपने आप को अकेला महसूस करने लगी थी

कोरोना पॉजिटिव महिला आइसोलेट के दौरान अपने आप को अकेला महसूस करने लगी। बस यही बात महिला को खल गई और वह इस बात से नाराज हो गई कि कोई उससे मिलने तक नहीं आ रहा है। जब बहू अपनी सास को खाने देने गई तो महिला ने अपनी बहू को जबरदस्ती गले लगा लिया। कहने लगी कि तुम्हें भी कोरोना संकमण होना चाहिए। क्या तुम लोग यही चाहते हो कि मैं मर जाऊं और तुम लोग हमेशा खुशी से रहो।

बहू को संक्रमित कर घर से निकलवा दिया बाहर

बता दें कि जब बहू ने अपनी जांच कराई तो वह भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई। इसके बाद ससुराल वालों ने उसे घर से बाहर निकाल दिया। युवती की बहन उसे अपने माता पिता के घर ले आई और यहीं पर उसका इलाज हो रहा है। महिला ने दुखी होकर जिला प्रशसान से इसकी शिकायत की है। जिसके बाद अधिकारियों ने 31 मई को महिला के घर का दौरा किया था। 

Braking News:- 1 से 5 जून तक अनलॉक आदेश, जिले में रात्रि कालीन कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा


अनलाॅक होगा बैतूल: जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समूह की बैठक में विचार विमर्श करते हुए बैतूल कलेक्टर, सांसद एवं अन्य अधिकारी गण

दिन में विभिन्न गतिविधियों में दी गई छूट

एक जून से लागू होंगे छूट के आदेश

मुलतापी समाचार

1 जून से जिले में अनलॉक की प्रक्रिया नियमों एवं शर्तों के तहत शुरू की जा रही है यह पहले पांच दिन ट्रायल रहेगा फिर धीरे धीरे बढ़ाया जाएगा
शतर्क रहे, घर मे रहे ,  बहुत जरूरत हो तो ही घर से बाहर माक्स लगाकर निकले

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री अमनबीर सिंह बैंस ने जिले में कोरोना संक्रमण के चलते प्रभावशील कोरोना कर्फ्यू में विभिन्न गतिविधियों के तहत छूट के आदेश जारी किए हैं। जिले में रात्रि कालीन कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। यह आदेश 01 जून 2021 प्रात: 6 बजे से प्रभावशील होकर 05 जून 2021 सायं 4 बजे तक प्रभावशील रहेगा।

जारी आदेशानुसार जिला बैतूल की समस्त राजस्व सीमाओं में प्रत्येक रविवार को जनता कर्फ्यू रहेगा। जनता कर्फ्यू शनिवार रात्रि 10 बजे से सोमवार प्रात: 06 बजे तक प्रभावी रहेगा।

जिला बैतूल में रात्रि 10 बजे से प्रात: 06 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा।

जिले में समस्त सामाजिक/राजनैतिक/ खेलकूद/मनोरंजन/सांस्कृतिक/धार्मिक आयोजन/ मेले आदि जिनमें जनसमूह एकत्र होता है, प्रतिबंधित रहेंगें।

स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक/ प्रशिक्षण/ कोचिंग संस्थान बंद रहेंगें। ऑनलाइन क्लासेस चल सकेंगी।

सभी सिनेमाघर, शॉपिंगमॉल/शापिंग काम्प्लेक्स, स्वीमिंगपूल, थियेटर, पिकनिक स्पॉट, आडिटोरियम, सभागृह बंद रहेंगे।

जिले के सभी धार्मिक/पूजा स्थलों पर केवल पुजारी, मौलवी, ग्रन्थी, पादरी द्वारा सांकेतिक पूजा की जा सकेगी। आमजन का धार्मिक स्थल पर एकत्रित होना प्रतिबंधित होगा।

महाराष्ट्र राज्य से जिला बैतूल में सार्वजनिक परिवहन प्रतिबंधित होगा ।

अनुमत्य गतिविधियों के अलावा किसी भी स्थान पर 06 से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने पर प्रतिबंध रहेगा।

उक्त प्रतिबंध से निम्नलिखित गतिविधियों हेतु छूट रहेगी

अत्यावश्यक सेवाएं देने का कार्य करने वाले कार्यालयों को छोडक़र शेष कार्यालय 100 प्रतिशत अधिकारियों एवं 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ संचालित किये जावे। अत्यावश्यक सेवाओं में जिला कलेक्टोरेट, पुलिस, आपदा प्रबंधन, फायर, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा जेल, राजस्व, पेयजल आपूर्ति, नगरीय प्रशासन, ग्रामीण विकास, विद्युत प्रदाय, सार्वजनिक परिवहन, कोषालय, पंजीयन सम्मिलित है।

समस्त प्रकार के उद्योग एवं औद्योगिक गतिविधियां संचालित हो सकेगी। इस कार्य हेतु उद्योग से जड़े अधिकारियों /कर्मचारियों/ श्रमिकों को वैध आई.डी. कार्ड के साथ आने-जाने की अनुमति रहेगी।

उद्योगों के कच्चा माल/ तैयार माल के आवागमन पर किसी प्रकार की रोक नहीं होगी ।

अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लीनिक, मेडिकल इन्श्योरेंस कम्पनीज, अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेंवाएँ, पशु चिकित्सा अस्पताल चालू रहेंगे।

केमिस्ट, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन दुकानें, पूरे दिन के लिये खुली रखी जा सकेगी।

आटा चक्की, पशु आहार की दुकानें सायं 04 बजे तक खोली जा सकेगी।

किराना, फल और सब्जियां, डेयरी एवं दूध की पूर्ववत् होम डिलेवरी के माध्यम से जारी रहेगी।

पेट्रोल/ डीजल पम्प / गैस स्टेशन, रसोई गैस सेवाएं पूरी तरह से चालू रहेगी।

सभी कृषि गतिविधियों की अनुमति होगी। कृषि उपज मण्डी, खाद/बीज/ कृषि यंत्र की दुकान खुली रहेगी।

जिले के समस्त बैंक, बीमा कार्यालय एवं एटीएम खुले रहेंगे।

प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा केबल आपरेशन्स को अनुमति रहेगी।

बैंक, इन्श्योरेन्स, एनबीएफसी से जुड़े संस्थानों के एमपीएलएस, को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसायटिस, केश मैनेजमेंट एजेन्सीज संचालन एवं आवागमन की अनुमति रहेगी।

सभी प्रकार के सामानों और माल की आवाजाही बिना किसी रोक टोक के जारी रहेगी।

महाराष्ट्र राज्य को छोडक़र सार्वजनिक परिवहन, निजी बसों, ट्रेनों के माध्यम से कोविड-19 के दिशा निर्देशों के अंतर्गत अनुमति रहेगी ।

ऑटो, ई-रिक्शा में दो सवारी, टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्रायवर तथा दो पैसेंजरों को (मास्क के साथ) यात्रा करने की अनुमति होगी।

अंतर्राज्यीय मार्ग से जिले की सीमा में प्रवेश कर रहे नागरिकों को थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य होगी।

मोहल्लों/कॉलोनियों/ग्रामों में एकल दुकानें सायं 4 बजे तक खोली जा सकेगी।

ऑटोमोबाइल रिपेयरिंग, मोबाइल रिपेयरिंग, कृषि उपकरणों की मरम्मत, हार्डवेयर, बिल्डिंग निर्माण संबंधी सामग्री की दुकाने सायं 04 बजे तक खोली जा सकेगी। शेष दुकाने बंद रहेगी।

कोल्ड स्टोरेज एवं वेयर हाउसिंग की सर्विसेज को अनुमति होगी।

सम्पूर्ण प्रदेश में ई-कॉमर्स कम्पनियों से तथा अत्यावश्यक वस्तुओं की दुकानों से होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

येलो एवं ग्रीन जोन के ग्रामों में मनरेगा कार्य, ग्रामीण विकास कार्य एवं अन्य विभागों के निर्माण कार्य तथा तेन्दूपत्ता संग्रहण के कार्य कोविड-19 महामारी की रोकथाम के एस.ओ.पी. का पालन करते हुये जारी रहेंगे।

जिला स्तर पर परम्परागत रूप से लेबर मार्केट कोविड प्रोटोकॉल का पालन की शर्त पर चालू रह सकेंगे।

थोक सब्जियां/ फल/ फूल के बाजार प्रशासन द्वारा निर्धारित स्थान पर ही चल सकेंगें।

एम्बुलेंस, ऑक्सीजन टैंकर्स का आवागमन निर्बाध रहेगा।

अस्पताल/नर्सिंग होम और टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिकों / कर्मियों को छूट रहेगी।

मेन्टेनेंस सर्विस देने वाले यथा इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, कापरेंटर, मोटर मेकेनिक, आईटी सर्विस प्रोवाइडर आदि के आवगमन पर रोक नहीं होगी।

परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले परीक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़ेकर्मी/अधिकारीगण के आवागमन पर छूट रहेगी।

उपार्जन गतिविधियों पर कोई रोक नहीं होगी तथा सतत् रूप से उपार्जन संचालित किया जावेगा।

निजी सुरक्षा सेवाओं को अनमुति रहेगी ।

घरेलू सेवा देने वाले यथा धोबी, ड्रायवर, हाउस हेल्प/ मेड, कुक आदि के आवागमन पर रोक नहीं होगी।

फायर बिग्रेड, टेलीकम्युनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोईगैस,पेट्रोल / डीजल / केरोसीन टैंकर, होम डिलेवरी सेवाएं, दूध एकत्रीकरण / वितरण, फल-सब्जी के परिवहन, डाक एवं कोरियर सेवाओं के आवागमन पर कोई बाधा नहीं होगी।

जिले के समस्त रेस्टोरेन्ट एवं भोजनालय केवल टेक होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्तियों को सम्मिलित होने की अनुमति रहेगी।

विवाह में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 20 लोगों के साथ ही अनुमति रहेगी। इस प्रयोजन के लिए आयोजक को संबंधित अनुविभागीय मजिस्ट्रेट /कार्यपालिक मजिस्ट्रेट सह इंसीडेन्ट कमांडर को अतिथियों के नाम की सूची आयोजन से पूर्व प्रदाय करना आवश्यक होगा।

कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं बचाव हेतु केन्द्र शासन/राज्य शासन तथा जिल्ला प्रशासन द्वारा समय- समय पर जारी निर्देशों)। आदेशों का कडाई से पालन किया जाना बंधनकारी होगा । प्रत्येक व्यक्ति दवारा कोविड उपयुक्त व्यवहार -फेस मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा।

यह आदेश आम जनता को संबोधित है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के साथ ही भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 तथा एपिडेमिक एक्ट 1897 के तहत मप्र शासन द्वारा जारी किए गए विनियम दिनांक 23 मार्च 2020 की कंडिका-10 के अंतर्गत उल्लेखित विधि प्रावधानों अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

यह आदेश 01 जून 2021 प्रात: 6 बजे से प्रभावशील होकर 05 जून 2021 सायं 4 बजे तक प्रभावशील रहेगा।

भाजयुमों ने मुलताई विकासखण्ड में चलाया मास्क वितरण अभियान


मुलतापी समाचार

सेवा ही संगठन के तत्वावधान में
भारत के प्रधानमंत्री मा.नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने सफलता पूर्ण 7 वर्ष पूरे किए जाने पर मुलताई एवम प्रभात पत्तन विकास खंड के ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में भाजयुमों मुलताई ग्रामीण ने चलाया मास्क वितरण एवम् जागरुकता अभियान। भाजयुमों के द्वारा थाना मासोद, सर्रा, हेटी, सांईखेड़ा पोहर जामगांव टेमझिरा, खेडीकोर्ट, निमनवाड़ा सोपई, बानूर में मास्क वितरित किया गया तथा कोविड टीकाकरण के बारे में जागरुकता अभियान चलाया। तथा टीकाकरण ही एक मात्र उपाय के बारे में जानकारी दी तथा टीकाकरण के बारे में फैली भ्रांतियो को दुर किया गया।

जिसमें सेवा ही संगठन के तहत मुलताई विकास खंड में अलग अलग जगह जिसमे मुलताई ग्रामीण एवं नगर अध्यक्षों ने, भाजपा दुनाव मंडल के कार्यर्ताओं ने, भाजपा मासोद मंडल ग्राम प्रधान भास्कर मगरदे एवं जनपद सदस्य कविता कटारे द्वारा सहभागिता निभायी इसी के साथ भाजयुमों महामंत्री विशाल डोंगरे नितिन सोनी, योगेश सातव, चेतन पवांर, अरुण पवांर, सौरभ पवांर, शैलेस राणे,विशाल लोखंडे आदि पदाधिकारी उपस्थित थे

कोरोना को हराने और वैक्सीनेशन के लिए जनप्रतिनिधि और प्रशासनीक अधिकारी मैदान में


मुलतापी समाचार, किल्लोद

ग्रामीण अंचलों में किल कोरोना के माध्यम शेखपुरा नाम उक्त करने तथा ग्रामीणों को वैक्सीनेशन कराने के लिए शासन प्रशासन एवं जनप्रतिनिधि मैदान में उतर आए गांव में जनप्रतिनिधि और अधिकारियों द्वारा लोगों को समझाइश दी जा रही है और अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है इसी कड़ी में किल्लेद जनपद पंचायत के अध्यक्ष पंकज पटेल एवं

नायब तहसीलदार सहदेव मौर्य द्वारा 18 प्लस के युवा साथियों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र किल्लोद मैं कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण प्रारंभ किया गया जिसमें ग्राम किल्लोद मैं संपूर्ण ग्राम के युवाओं से नाय तहसीलदार सहदेव मौर्य एवं पंकज सिंह पटेल जनपद अध्यक्ष किल्लोद के द्वारा पूरे गांव में भ्रमण कर माई के द्वारा ग्रामीणों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया। साथ ही किल्लोद विकासखंड वासियों से टीकाकरण अवश्य से अवश्य लगाने हेतु आव्हान किया

नायब तहसीलदार सहदेव मौर्य ने ग्रामीणों को समझाइश देते हुए बताया है कि करोना गाइडलाइन का पालन करके एवं करोना का टीका लगवाकर हम अपने अपने परिवार मोहल्ले और गांव को कोरोना वायरस से बचा सकते हैं इसलिए शासन द्वारा टीकाकरण अभियान पर जोर दिया जा रहा है और

इस समय सभी ग्रामीणों को सहयोग करना है एक एक परिवार एक मोहल्ला और एक गांव कोरोना वायरस मुक्त होगा, तो पूरे प्रदेश में कोरोनावायरस की महामारी से हम जीत सकते हैं जनपद पंचायत अध्यक्ष पंकज पटेल ने भी खुद आगे रहकर ग्रामीण युवाओं को टीकाकरण के लियें प्रेरित किया।

जिले में फिर बढ़ी कोरोना कर्फ्यू की अवधि


मुलतापी समाचार

बैतूल

जिले में कोरोना कर्फ्यू की अवधि 24 मई 2021 सोमवार के प्रातः 6 बजे तक बढाई गई .
कर्फ्यू अवधि में खाद, बीज एवं कृषि संबंधी अन्य अत्यावश्यक सामग्री का थोक व्यापारी अनुमति लेकर फुटकर व्यापारियों को कर सकेंगे परिवहन.

BETUL जिले में लाॅक डाउन के प्रभावी पालन में मदद करेंगे कोरोना वालेंटियर


बैतूल, कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस

कोविड गाइडलाइन उल्लंघन करने वालो की तुरंत शिकायत करें

कलेक्टर डेस्क न्यूज़

मुलतापी समाचार

बैतूल, कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस ने जिले में पंजीकृत कोरोना वालेंटियर्स , समाजसेवियों, स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं आमजन से अपील की है कि वे लाॅक डाउन के प्रभावी पालन में सहयोग प्रदान करें. सोमवार की शाम वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि यदि कहीं लाॅक डाउन का उल्लंघन पाया जाता है तो इसकी जानकारी काॅल सेन्टर के दूरभाष नंबर 07141-1075 अथवा 07141-230098 पर दी जाए.

उन्होंने है कहा कि ग्रामीण अथवा शहरी क्षेत्रों में जहां कहीं कोविड गाइडलाइन अथवा सार्वजानिक आयोजन संबंधी निर्देशों का उल्लंघन हो रहा है उसकी भी सूचना उपरोक्त दूरभाष नंबरों पर दी जाए. जिन स्थानों पर क्वेरंटाइन अथवा आइसोलेशन का उल्लंघन किया जाता है वह जानकारी भी दी जाए ताकि समय रहते उचित कार्रवाई की जा सके .

उन्होंने कहा है कि शहरी क्षेत्रों अथवा गाँवों में अधिकारियों के साथ व्हाटसेप ग्रुप बना कर भी ऐसी सूचनाएं शेयर की जाएं .

Multai कोविड केयर सेंटर में भर्ती 3 संक्रमित मरीजों की हुई मौत


मुलतापी समाचार

Multai कोरोना संक्रमण की चपेट में आए लोगों की मौत का सिलसिला सतत जारी है जहा शनिवार  रात में आजाद वार्ड निवासी कोरोना पीड़ित एक किराना व्यापारी की  मौत हो गई थी वही रविवार को नगर के कोविड केयर सेंटर में भर्ती तीन लोगों की मौत हो गई। मृतकों में नगर के निवासी दो बुजुर्ग के साथ ग्राम महिलावाड़ी निवासी महिला का समावेश है। बीएमओ डॉ. पल्लव अमृतफले ने बताया सुभाष वार्ड निवासी 68 वर्षीय बुजुर्ग की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया
था। आक्सीजन लेवल कम होने से आक्सीजन दी जा रही थी। रविवार दोपहर में बुजुर्ग की मौत हो गई। वही नेहरू वार्ड निवासी 70 वर्षीय बुजुर्ग को सांस लेने में दिक्कत होने के चलते परिजन कोविड केयर सेंटर लेकर पहुंचे थे। आक्सीजन लेवल लगातार कम हो रहा था। जिसका कोविड केयर सेंटर में उपचार किया जा रहा था लेकिन बुजुर्ग की जान नही बच सकी। ग्राम  महिलावाडी निवासी महिला को भी सांस लेने में दिक्कत होने पर परिजन उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर में लेकर आए थे। आक्सीजन लेवल कम होने से आक्सीजन दी जा रही थी। उपचार के दौरान महिला की भी मौत हो गई कोविड सेंटर में मौत की सूचना पर एसडीएम तन्मय शर्मा,तहसीलदार सुधीर जैन, सीएमओ नितिन बिजवे भी पहुंचे थे। तीनों मृतकों का कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया।

*नगर में 6 और ग्रामीण अंचल में 20 लोग आए कोरोना की चपेट मे*
नगरीय क्षेत्र में रविवार को कोरोना पीड़ितो की बढ़ती संख्या पर कुछ हद तक विराम लगा। नगर के 3 वार्ड के निवासी 6 लोगो की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। ग्रामीण अंचल में 20 लोग कोरोना की चपेट में आए। बीएमओ डॉक्टर पल्लव अमृतफले ने बताया भगतसिंग वार्ड निवासी 50 वर्षीय महिला,40 वर्षीय पुरुष,ताप्ती वार्ड निवासी 19 वर्षीय युवती,43 वर्षीय महिला,21 वर्षीय युवक, अंबेडकर वार्ड निवासी 35 वर्षीय युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। ग्राम बरई निवासी एक ही परिवार के 48 वर्षीय, पुरुष 40 वर्षीय महिला,16 वर्षीय युवक और 14 वर्षीय बालिका के साथ ग्राम के 30 वर्षीय युवक,साईंखेड़ा निवासी 45 वर्षीय युवक,45 वर्षीय युवक, 42 वर्षीय युवक,खतेडाकला निवासी 30 वर्षीय महिला,45 वर्षीय युवक,हेटीखापा निवासी 32 वर्षीय महिला,दुनावा निवासी 38 वर्षीय युवक,48 वर्षीय युवक,
आमाबघोली निवासी 35 वर्षीय युवक,      जौलखेड़ा निवासी 58 वर्षीय पुरुष,लिहदा निवासी 52 वर्षीय पुरुष,परसठानी निवासी 26 वर्षीय युवक,कामथ निवासी 45 वर्षीय युवक,लेंदागोंदी निवासी 58 वर्षीय पुरुष,रिधोरा निवासी 83 वर्षीय पुरुष की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। 

*परिवार के बुजुर्ग की कोरोना ने ली जान अब परिजन भी हुए संक्रमित*
ग्राम बरई निवासी एक परिवार के ऊपर कोरोना का ऐसा कहर बरपा है कि परिवार के बुजुर्ग की कोरोना की चपेट में आने से बैतूल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी। उसके बाद शनिवार को परिवार की दिवंगत बुजुर्ग की पत्नी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। वही रविवार को बुजुर्ग के पुत्र बहू नाती और नातिन के भी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई।

आज की कोरोना हेल्थ बुलेटिन 244 पार


बैतूल व मुलताई में निकले रहे सबसे ज्यादा संक्रमित व्यक्ति

*इस बार कोरोमा का जो संक्रमण देखने में आ रहा है वह बहुत ही घातक है। जो संभलने का मौका नहीं दे रहा है। अतः बचाव में ही सुरक्षा है। इसका सभी शहर एवं ग्रामवासी ध्यान रखें और निर्देशों का पालन जरूर करें।*

सावधान रहें

मुलतापी समाचार

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बैतूल द्वारा आई.डी.एस.पी.से प्राप्त जानकारी के अनुसार 244 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की जानकारी इस प्रकार दी गई है – सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुलताई के अंतर्गत 51 पॉजिटिव, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभात पटट्न के अंतर्गत 08 पॉजिटिव, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिचोली के अंतर्गत 03 पॉजिटिव,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भैंसदेही के अंतर्गत 08 पॉजिटिव,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आठनेर के अंतर्गत 26 पॉजिटिव, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भीमपुर के अंतर्गत 09 पॉजिटिव, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आमला के अंतर्गत 24 पॉजिटिव, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सेहरा के अंतर्गत 25 पॉजिटिव, जिला चिकित्सालय बैतूल के अंतर्गत 52 पॉजिटिव, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घोड़ाडोंगरी के अंतर्गत 15 पॉजिटिव एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शाहपुर के अंतर्गत 23 पॉजिटिव आये हैं |

लॉकडाउन की अवधि जिले में 26 अप्रैल तक बढ़ाई


लॉकडाउन की अवधि 26 अप्रैल के प्रात: 6 बजे तक बढ़ाई गई

कोरोना संक्रमीतो की बढ़ती संख्या को देखते हुए कलेक्टर ने लोकडॉन बढ़ाने के आदेश दिए

रोज 150 , 200 पेसेंट की बढ़ रही तादात

मुलतापी समाचार

बैतूल : कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी अमनबीर सिंह बैंस ने शनिवार को जारी आदेश में सम्पूर्ण बैतूल जिले की राजस्व सीमा के अंतर्गत प्रभावशील लॉकडाउन की अवधि आगामी 26 अप्रैल 2021 सोमवार के प्रात: 6 बजे तक बढ़ा दी है।
जारी आदेश के अनुसार कोविड-19 महामारी के रोकथाम एवं बचाव हेतु केन्द्र शासन/राज्य शासन/ जिला प्रशासन द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों/आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाना बंधनकारी होगा तथा उक्त आदेश के अतिरिक्त कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी द्वारा पूर्व में जारी आदेश में उल्लेखित शेष प्रतिबंध यथावत लागू रहेंगे।

यह आदेश आम जनता को संबोधित है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के साथ ही भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 तथा एपिडेमिक एक्ट 1897 के तहत मप्र शासन द्वारा जारी किए गए विनियम दिनांक 23 मार्च 2020 की कंडिका-10 के अंतर्गत उल्लेखित विधि प्रावधानों अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

यह आदेश तत्काल प्रभावशील होकर आगामी आदेश पर्यन्त प्रभावी रहेगा।