Category Archives: पानी के लिए किसान आंदोलन

जल समस्या की पूर्ति हेतु किया प्रयास


प्याऊ से पानी भरते हुए ग्रामीण

नल जल योजनाए गांव में पूरी पाइपलाइन अस्त-व्यस्त पढ़ि है प्रशासन इस ओर ध्यान दे

जल निगम ने अभी तक गांव घर घर पाइप लाइन स्थापित नहीं की ग्रामीण हो रहे परेशान

अभी भी घर घर तक नल जल योजना नहीं पूछ

नल जल योजना के तहत प्रत्येक घर में पानी पहुंचाने के लिए शासन द्वारा जो व्यवस्था कराई जा रही है वह सराहनीय है लेकिन इस काम के चलते गांव में पूरी पाइपलाइन अस्त-व्यस्त पढ़ि है और मई के महीने में अधिकतर देखा जाता है कि ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की समस्या एक आम समस्या बन गई इसी समस्या का हल ग्राम पंचायत बाघोली द्वारा निकाला गया है और बहुत ही सुव्यवस्थित तरीके से ग्राम वासियों के लिए पानी की व्यवस्था की गई है अगर आपके गांव में इस तरीके की कोई समस्या है तो आपको इनसे सीख लेनी चाहिए गांव की युवाओं द्वारा उठाई गई आवाज पंचायत तक पहुंची और 2 दिन के अंदर इस समस्या का समाधान भी निकाला गया अगर आपके गांव में इस तरीके की कोई समस्या है तो आवाज उठाइए समस्त युवा शक्ति को बहुत-बहुत धन्यवाद एवं ग्राम पंचायत सरपंच सचिव एवं सहायक सचिव का बहुत-बहुत आभार जो इतनी अच्छी व्यवस्था कम समय में समस्त ग्राम वासियों के लिए आपने बनाई!

आष्टा के सैकड़ों ग्रामीणों ने तहसील कार्यालय में प्रदर्शन कर सौपा ज्ञापन


मुलतापी समाचार

प्रभातपट्टन ब्लाक में ग्राम शेरगढ़ के पास वर्धा नदी पर बने डैम की नहर ग्राम आष्टा तक पहुंचाने की मांग को लेकर मंगलवार को आष्टा के सैकड़ों किसानों ने तहसील कार्यालय में प्रदर्शन किया। और मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम हरसिमरन प्रीत कौर को सौंपा। पूर्व जनपद सदस्य रोशन देशमुख,किसान गुलाब देशमुख, भोजराव देशमुख,भीमराव देशमुख, लक्ष्मण गायकवाड,विजय कुमार देशमुख, सहित बड़ी संख्या में आष्टा के किसान मंगलवार दोपहर में तहसील कार्यालय पहुंचे। किसानों के साथ महिलाओं की उपस्थिति रही। किसानों ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपकर बताया ग्राम आष्टा पटवारी हल्का नंबर 103 में लगभग 1173 हेक्टेयर कृषि भूमि को सिंचाई के लिए कोई भी सुविधा नहीं है। इन परिस्थितियों में किसान कृषि भूमि का उपयोग फसल उगाने में नहीं कर पा रहे हैं। वर्धा डैम का निर्माण होने के दौरान ग्राम आष्टा के किसानों को भी डैम का पानी फसलों की सिंचाई के लिए उपलब्ध होने की उम्मीद बंधी थी। नहर के लिए सर्वे के दौरान ग्राम आष्टा का नाम भी सिंचाई सुविधा देने के लिए शामिल किया गया था। लेकिन षड्यंत्र पूर्वक ग्राम आष्टा के किसानों को वर्धा डैम से मिलने वाली सिंचाई सुविधा से वंचित कर दिया है। किसानों ने ग्राम आष्टा तक वर्धा डैम की नहर पहुंचाने की मांग ज्ञापन में की है।

13 जनवरी से धरना प्रदर्शन करने की घोषणा


किसानों ने ज्ञापन में बताया यदि 7 दिन में उनकी मांग को गंभीरता से नहीं लिया जाता है तो 13 जनवरी से ग्राम आष्टा के किसान ग्राम पंचायत भवन के सामने धरना प्रदर्शन प्रारंभ करेंगे। 15 जनवरी तक धरना प्रदर्शन किया जाएगा। उसके बाद भी मांग पूरी नहीं होती है तो 18 जनवरी को ग्राम से गुजरने वाले मुलताई आठनेर मार्ग पर चक्का जाम किया जाएगा। किसानों ने मांग पूरी नहीं होने की स्थिति में उग्र आंदोलन की चेतावनी भी ज्ञापन में दी है।