Category Archives: प्रवासी मजदूरों की घर वापसी

कोरोना अपडेट- खेड़ली बाजार में कोरोना की दस्तक, मुम्बई से लौटे युवक की रिपोर्ट आई पॉजिटिव


खेड़ली बाजार में दी कोरोना ने दस्तक
मुंबई से लौटे युवक की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

Multapi Samachar

Multai News

मुलताई। ग्रामीण अंचल में मुंबई से लौटकर आए लोग कोरोना के संक्रमण के माध्यम बन गए हैं। जहां पूर्व में मुलताई अनुविभाग अंतर्गत आने वाले ग्राम कोरोनामुक्त थे। वही बीते एक पखवाड़े से मुंबई से अपने गृह ग्राम लौटे लोगों ने क्षेत्र को कोरोना संक्रमण से ग्रसित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। जहां प्रभात पट्टन ब्लाक के ग्राम खेड़ीरामोशी में मुंबई से आई एक युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई उसके बाद प्रभातपट्टन ब्लाक के ग्राम सोमगढ़  में मुंबई से आया युवक कोरोना पॉजिटिव निकला। और अब आमला ब्लाक के ग्राम खेड़लीबाजार में एक युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मंगलवार को युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव होने का खुलासा हुआ है। 
       एसडीएम सीएल चनाप ने बताया कि 45 वर्षीय युवक कल्याण मुंबई से अन्य 13 लोगों के साथ मिनी बस में सवार होकर 18 मई को ग्राम 
खेड़लीबाजार पहुंचा था। खेड़लीबाजार पहुंचने पर यह सभी लोग खेत में क्वॉरेंटाइन थे। सभी लोगों की प्राथमिक जांच के बाद सैंपल भेजे गए थे। 
एसडीएम श्रीचनाप ने बताया कि  युवक खेड़ली बाजार के आवासीय  क्षेत्र से दूरी पर खेत में क्वॉरेंटाइन था इस स्थिति में सीमा तय कर कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित करने की कार्रवाई की जा रही है।

प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए कार्यरत विधिक सेवा प्राधिकरण- श्री अमर नाथ


बैतूल – अपर जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मनोज कुमार मण्डलोई ने बताया कि नागपुर तथा इंदौर हाईवे पर प्रतिदिन पैदल या अन्य साधनों से अपने घरों की ओर जाने वाले प्रवासी मजदूरों को किसी भी प्रकार की सहायता मुहैया कराने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा हेल्प डेस्क शुरू की गई है।

इस हेल्प डेस्क का शुभारंभ गुरूवार 21 मई को जिला एवं सत्र न्यायाधीश तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री अमर नाथ द्वारा किया गया। इस दौरान श्री अमर नाथ ने कहा कि सम्पूर्ण देश में लॉक-डाउन होने के कारण बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर तथा अन्य लोग जिले की सीमाओं से होकर अपने घरों को लौट रहे हैं। ऐसी विकट परिस्थिति में प्रवासियों को उनका सफर आसान बनाने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बैतूल द्वारा सूखी खाद्य सामग्री, फल, चप्पलें, ओआरएस, सेनेटरी पेड इत्यादि बांटे जा रहे हैं। इस पांच दिवसीय हेल्प डेस्क में पैरालीगल वालेंटियर्स द्वारा स्वैच्छिक सेवाएं दी जा रही है। प्रवासी मजदूरों को नि:शुल्क राष्ट्रीय हेल्प लाइन नंबर 15100 की जानकारी दी जा रही है। यदि प्रवासियों को राशन, मेडिकल इत्यादि की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो वे राष्ट्रीय हेल्प लाइन नंबर से सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

प्रदीप डिगरसे मुलतापी समाचार बैतूल 9584390839

चेन्नई में फंसे प्रवासी मजदूर वापस लौटे बैतूल सहीत तीन जिले के है मजदूर आए


चेन्नई में फंसे ४७ प्रवासी मजदूर वापस लौटे बैतूल, छिन्दवाड़ा और खंडवा के है मजदूर

मुलतापी समाचार

बैतूल। लॉकडाउन के चलते देश के विभिन्न राज्यों में फंसे हुए मजदूरों को श्रमिक ट्रेनों के जरीए उनके घरों तक पहुंचाए जाने का सिलसिला लगातार जारी है। चेन्नई में पिछले 54 दिनों से फंसे यात्रियों को लेकर आज सुबह एक श्रमिक एक्सप्रेस बैतूल पहुंची। इस ट्रेन में बैतूल के साथ छिंदवाड़ा और खंडवा जिले के मजदूर भी बैतूल स्टेशन पर उतरे। मजदूरों के बैतूल स्टेशन पर पहुंचने की सूचना मिलते ही बैतूल एसडीएम राजीव रंजन पांडे के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम भी रेलवे स्टेशन पहुंच गई थी। टे्रन से सभी मजदूरों के उतरने के बाद इन प्लेटफॉर्म पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर बैठाया गया और सभी मजदूरों का स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य परीक्षण करने के बाद मजदूरों को अपने-अपने गंतव्य स्थानों की ओर रवाना किया।

रेलवे के अधिकारियों ने सांध्य दैनिक खबरवाणी को बताया कि चेन्नई से चलकर रीवा जाने वाली श्रमिक एक्सप्रेस से बैतूल स्टेशन पर कुल 81 यात्रियों को उतरना था, लेकिन इस ट्रेन से केवल 47 यात्री ही उतरे है, जिसमें छिंदवाड़ा जिले के सबसे ज्यादा 34 मजदूर शामिल है। इसके अलावा बैतूल के विभिन्न क्षेत्रों में रहने वाले 11 और खंडवा के 2 मजदूर शामिल है। इन मजदूरों को बसों के माध्यम से अपने-अपने जिलों के लिए रवाना किया गया। बैतूल के मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण कराने के साथ ही इन्हें सुरक्षा की दृष्टि से छात्रावास में क्वारंटाइन किया गया है।