Category Archives: multai betul

पवार समाज की प्रतिभाएँ हुई सम्मानित, सफल हुआ आयोजन


बैतूल। राष्ट्रीय भर्तृहरि विक्रम भोज पुरस्कार समिति भारत का पहला आयोजन 7 जुलाई 2019 को पांढुर्ना में, दूसरा आयोजन 2 फरवरी 2020 को छिंदवाड़ा में और तीसरा सफल आयोजन 17 अप्रैल 2022 को मुलताई तहसील के ग्राम डहुआ में आयोजित हुआ।

कार्यक्रम तीन सत्रों में आयोजित किया गया पहले सत्र के अध्यक्ष श्री गुलाबराव जी कालभोर, अतिथि कैप्टन एलआर पवार, श्रीमती लक्ष्मी बारंगे, श्रीमती सविता बारंगे, श्री भागचंद देशमुख, श्री सुरेश देशमुख नागपुर, श्रीमती निधि बारंगे छिंदवाडा़, श्रीमती हेमलता डहारे भोपाल, राष्ट्रीय क्षत्रिय महासभा कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती पुष्पलता बारंगे, विशेष अतिथि श्री पीएल बारंगे रहे।

द्वितीय सत्र के अध्यक्ष श्री डॉ. एनडी राऊत नागपुर, मुख्य अतिथि डॉ विजय पराड़कर छिंदवाडा, अतिथि डॉक्टर दमयंती कटरे प्राध्यापक छिंदवाडा़, डॉ. जयश्री चौधरी बारंगे नागपुर रहे।

तृतीय सत्र के अध्यक्ष डॉक्टर मानसिंह परमार पूर्व कुलपति पत्रकारिता इंदौर, मुख्य अतिथि कर्नल श्री अरुण पठाडे नागपुर, विशिष्ट अतिथि आर के पी रहांगडाले DGM, BSP छत्तीसगढ़, श्री शक्ति सिंह परमार संपादक स्वदेश, सुश्री मेघा परमार पर्वतारोही, कामनवेल्थ जूडो में गोल्ड मेडल विजेता कपिल परमार, विशेष आमंत्रित अतिथि श्री प्रदीप कालभोर आईएएस रहे।

बैतूल जिले की मुलताई तहसील मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम डहुआ में मां कामख्या देवी मंदिर परिसर में सैकडो की संख्या में राष्ट्रीय भर्तृहरि विक्रम भोज पुरस्कार समिति भारत के तृतीय प्रतिभा सम्मान समारोह में भाग लेने आए पंवार समाज के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत दो दर्जन से अधिक प्रतिभाओ एवं मंचासिन लोगो को समिति की ओर से पुरूस्कृत कर सम्मानित किया गया ।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जवाहर नेहरु कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर के कुलपति डॉ. पीके बिसेन, पूर्व कैबिनेट मंत्री और मुलताई विधायक सुखदेव पांसे, बैतूल विधायक निलय डागा, जिला क्षत्रिय पवार समाज संगठन के जिलाध्यक्ष श्री बाबूलाल कालभोर एवं समाज के सैकडों पदाधिकारियों की मौजूदगी में पवार – परमार वंश के देश-प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत लोगों को बतौर मुख्य एवं अतिथी के रूप में बुलवाया गया था। सेना, पत्रकारिता, लेखन, कुश्ती, पर्वतारोहण, खेलकूद, कला, संस्कृति, सरकारी सेवाओ, स्कूलों के टॉपर छात्र-छात्राओं को सम्मान राशि के संग सम्मान दिया गया ।

कार्यक्रम में बैतूल, रोंढा, बैतूलबाजार, भारतभारती, आमला, सारणी, पाथाखेड़ा, मुलताई तहसील के गांव से, साथ जिले के बाहर  होशंगाबाद, इटारसी, भोपाल, इंदौर, पीतमपुर, ग्वालियर, हरदा, सिवनी, बालाघाट, छिंदवाडा़, मोहखेड़, पांडुर्णा, सौसर, बिछुआ, परासिया, अमरवाड़ा और प्रदेश के बाहर पुणे, रायपुर, मुंबई, नागपुर, वर्धा, चंद्रपुर, गोंदिया, गाडरवारा आदि स्थानों से समाज सदस्य और समाज की प्रतिभाएँ उपस्थित रही।

कार्यक्रम का शुभारंभ समाज के पूर्वज पुरुषों, मां कामाख्या, मां गढ़कालिका और चक्रवर्ती सम्राट राजा भोज की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर प्रारंभ किया गया। सभी अतिथियों का स्वागत कन्याओं द्वारा तिलक लगाकर और श्रीफल भेंट कर किया गया। सर्वप्रथम तबला वादन गौरव पवार चौधरी सारनी ने अपनी प्रस्तुति दी, इसके बाद श्रीमती निशा हजारे द्वारा स्वागत गीत, श्री बलवंत कड़वेकर द्वारा प्रस्तावना भाषण और पुरस्कार समिति की विकास यात्रा बताई गई। कुमारी आकांक्षा पवार भिलाई दुर्ग के द्वारा गणपति वंदना नृत्य प्रस्तुत किया गया। गौरव ओंकार पाथाखेड़ा सारणी द्वारा शिव तांडव नृत्य, कुमारी आकांक्षा पवार भिलाई दुर्ग द्वारा नृत्य, ओशिन धारे भोपाल द्वारा प्रभु जी मेरे अवगुण चित ना धरो भजन, कुमारी कनक भोपाल नृत्य, कुमारी रौनक भोपाल द्वारा देशभक्ति नृत्य की प्रस्तुति दी गई।

ये हस्तियाँ हुई सम्मानित —– सेना में सम्मानजनक पद पर रहने वाले और 11 मेडल प्राप्त करने वाले श्री कर्नल अरुण पठाडे, कैप्टन संतोष कौशिक, फाइटर प्लेन विशेषज्ञ श्री भगवत बुआड़े, स्वदेश के संपादक और राष्ट्रवादी पत्रिका के प्रतीक श्री शक्ति सिंह परमार, चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले डॉ अशोक बारंगा, डॉक्टर जीवन किंकर, डॉ अमित राहंगडाले, सामाजिक उत्थान के लिए श्री मनीराम बारंगे, श्री दिनकर राव बुवाड़े, श्री बृजलाल गोहिते, श्री दयाराम महाजन, श्री बालकृष्ण पटेल, श्री कन्हैयालाल बुआड़े, खैरीपेका में कई सालों से सामूहिक विवाह का आयोजन सफलतापूर्वक आयोजित कराने वाले श्री कृष्ण कुमार ढोबले और श्रीमती निवेदिता ढोबले, श्री प्रदीप कालभोर आईएएस, श्री नामदेव रबड़े आईईएस, मुलताई क्षेत्र से पहले यूपीएससी क्लियर कर आबकारी अधिकारी बने वाले श्री निलेश पवार, सुश्री मेघा परमार पर्वतारोही और बेटी बचाओ अभियान की ब्रांड एम्बेसेडर, श्री शंकर पवार पत्रकार, श्री विजय बारंगे जोनल मैनेजर एयरटेल, शासकीय सेवा में उत्कृष्ट कार्य करने वाले डॉक्टर एम एस परमार कुलपति, श्री प्रकाश बारंगे, प्रधानमंत्री श्रम श्री अवार्ड से सम्मानित श्री पंचम कालभोर मुलताई और श्री फगनलाल पवार सेरके, श्री संतोष पवार बुआड़े एनटीपीसी में सेवारत, स्वर्गीय डॉक्टर अशोक पराड़कर और अशासकीय सेवाओं के लिए श्री राजेश बारंगे खरपतवार निवारण में शोध और नियंत्रण में पेटेंट पुरस्कृत, स्व. गोपीनाथ कालभोर ग्रामीण पत्रकारिता पुरस्कार से सम्मानित श्री राम किशोर पवार रोंढा, श्री संजय पठाडे, श्री सुंदरलाल देशमुख शिक्षा पुरस्कार के लिए श्रीमती प्रभावती पवार उन्होंने 2005 से 2022 तक बेस्ट टीचर अवार्ड से नवाजा गया है। सुखवाड़ा द्वारा ₹31000 का पुरस्कार कुमारी शिवानी पवार डोंगरे राखीढाना छिंदवाड़ा, स्वर्गीय मोहनलाल पवार स्मृति छात्रवृत्ति राशि ₹15000, 5 छात्रों में बांटी गई जिसमें कुमारी शिवानी पवार विजयवाड़ा, कुमारी विजेता पवार रिधोरा, प्रतीक सेरके उमरानाला, प्रियांशु गोहिते, कुमारी आरती बिसेन तिरोड़ा सभी हायर सेकेंडरी स्टेट टॉपरों को ₹3000 की राशि, प्रशस्ति पत्र, श्रीफल से पुरस्कृत किया गया। स्वर्गीय काशीबाई कृष्णराव पराड़कर की स्मृति में ₹5000 की राशि 5 बच्चों में समान रूप से बांटी गई जिसमें कुमारी लवीना जगदीश कोड़ले बैतूल बाजार, कुमारी शिवानी देवा से वर्धा, कुमारी प्रतिक्षा पवार फरकाड़े, कुमारी कृतिका धारे उमरानाला, कुमारी रानी गाडरे को 1000 रुपये, प्रशस्ति पत्र और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। दीक्षा श्रिया बुआड़े छात्रवृत्ति राशि 5000 रुपये के लिए कुमारी अदिति पवार छिंदवाड़ा को सम्मानित किया गया

समाज की त्रिदेवियां जिन्होंने वैवाहिक जीवन में विपरीत परिस्थितियों के बावजूद अपनी स्वयं की पहचान स्थापित करके सम्मानजनक मुकाम हासिल किया है जिसमें श्रीमती आदित्या पवार डोंगरे मैनेजर ग्रामीण बैंक, श्रीमती नीतू बारंगे मैनेजर एसबीआई बैंक, श्रीमती निधि बारंगे उपभोक्ता फोरम सदस्य जज एवं शोधार्थी पीएचडी शामिल है को प्रशस्ति पत्र, पवारी साहित्य और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

पवार परिणय, पवार मेट्रोमोनियल, सुखवाड़ा, सुखवाड़ा जीवनसाथी एप एडमिन श्रीमती अनीता दिनेश बुआडे़, श्री बलवंत कड़वेकर, श्री विजय बारंगे, श्री नामदेव बारंगे, श्री महेंद्र डिगरसे, श्री अजय डहारे, श्री संतोष कौशिक, श्री हरीश घागरे, श्री मिथिलेश गाकरे, श्री चंदन पवार, श्री श्याम पवार, श्री दिनेश कुमार पवार सभी को समाज के विवाह योग्य सदस्यों की जानकारी संकलित कर समाज में सजा करने के लिए प्रशस्ति पत्र, श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंचकर समाज और देश का नाम गौरवान्वित करने वाली महिला कुश्ती में रजत पदक विजेता कुमारी शिवानी पवार डोंगरे के पिता श्री नंदलाल पंवार डोंगरे राखीढाना छिंदवाड़ा, शिक्षा नवाचार के लिए श्री उदल पवार श्रीमति गीता पवार, श्रीमती निशा हजारे, श्रीमती प्रभावती पवार, श्री संजीव बारंगे, श्री हितेश पठाडे को प्रशस्ति पत्र, पवार साहित्य और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

रक्तदान के लिए श्री शंकर पवार पत्रकार, श्री बीआर पवार शिक्षक, विधवा महिला सम्मान नानी बाई डिवटया, निरक्षर महिला सम्मान श्रीमती जेएल परिहार भोपाल, श्री गोवर्धन पवार छिंदवाड़ा, कुमारी प्रियंका चोपडे़ कराटे, आशीष चोपडे़ कराटे, कुमारी अविशा बारंगे मुलताई भोपाल कराटे, कुमारी नीतू कालभोर एनसीसी मार्गदर्शक, सारांश पवार और मनीषा पवार बुआडे़ गाडरवारा शिक्षा नेग, इंजीनियर अंशु पवार पिंजारे टेमझिरा भारतीय रेल्वे में 11 वी रैंक, डॉक्टर राजू एस पवार चिकाने की धर्मपत्नी श्रीमती ममता पवार, कुमारी पल्लवी परिहार पोहर राष्ट्रीय बाल विज्ञान, कुमारी काजल पवार पाठेकर पोहर टेनिश बाल क्रिकेट, कुमारी मुस्कान पवार शतरंज, कुमारी भूमि ओमकार कैरम, कुमारी हर्षिता बारंगे आईसस्टॉक, कुमारी सोनिया बारंगे सॉफ्टबॉल, कुमारी गुंजन कड़वे सॉफ्टबॉल, कुमारी कशिश बोबडे सॉफ्टबॉल, कुमारी कुमकुम डहारे सॉफ्टबॉल, युवराज चौधरी सॉफ्टबॉल, लीना कालभोर बाल विज्ञान, कुमारी रुहानी परिहार विज्ञान प्रदर्शनी, कुमारी रितु धारे उमरानाला, भविष्य डोगरदिए, कु. दिव्या कोड़ले जिला टॉपर सभी जूनियर राज्य और राष्ट्र प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

राष्ट्रीय भर्तृहरि विक्रम भोज पुरस्कार समिति भारत में सबसे अधिक बच्चों का मनोरंजन करने वाले राहुल चोपड़े बिछुआ ने क्यूबिक की सहायता से जिन्होंने लता मंगेशकर गणेश जी शिवाजी महात्मा गांधी जैसे महान हस्तियों की प्रतिमा बनाकर पूरे देश में ख्याति अर्जित की है आकर्षण का केन्द्र रहे। कुमारी जिज्ञासा देशमुख बैतूल, श्री रामकिशोर पवार रोंढा स्वतंत्र पत्रकारिता के साथ तीन किताबें लिख कर समाज में लेखन में प्रसिद्धि पाने वाले पत्रकार, श्रीमती शकुंतला बारंगे कैंसर पीड़ितों को बाल दान, श्री नामदेव बारंगे और श्रीमती शकुंतला पवार सेरके, श्री बलराम डहारे मंडीदीप और टीम, श्री तान्बाजी बारंगे पांढुर्ना, श्री योगेश पवार बैतूल, डॉक्टर संदीप परिहार बैतूल, डॉ गेन्दलाल फरकाड़े, श्री हरिशंकर पठाडे मुलताई को प्रशस्ति पत्र और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

अंत में आयोजन समिति, मां कामाख्या देवी मंदिर समिति डहुआ, ग्राम पंचायत डहुआ, बलराम बारंगे और उनकी टीम को प्रशस्ति पत्र और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। साथ ही भोजन व्यवस्था टीम, मंच पंडाल और बैठक व्यवस्था, प्रचार प्रसार की टीम, कैमरा मैन सहित सभी को प्रशस्ति पत्र और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

तृतीय राष्ट्रीय भर्तृहरि विक्रम भोज पुरस्कार डहुआ में श्री प्रकाश नारायण बारंगे अध्यक्ष सतपुड़ा पवार समाज समिति सारनी और श्रीमती पुष्पलता प्रकाश नारायण बारंगे सदस्या राष्ट्रीय क्षत्रिय पवार महासभा द्वारा राजभोज की 40 प्रतिमाएँ सभी सेवा निवृत्त सैनिक भाइयों और वरिष्ठजनों को भेट की गई।

इस भव्य आयोजन में कार्यक्रम में राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य श्री जगदीशचन्द्र पवार, लक्ष्मण धोटे, श्रीमती निशा हजारे, श्रीमती अर्चना जगदीश पवार, श्री गोविंदा हजारे, श्री रमेश सरोदे, श्री अमित बुआड़े, श्री बीआर कालभोर, श्री रणवीर प्रताप सिंह, श्रीमती कृष्णा हजारे, श्री बलराम बारंगे, दिनेश कुमार गाकरे, धुरेन्द्र बारंगे, सुभाष बारंगे, कमलेश करदाते, अनिल मदन बारंगे, राजेश बारंगे, इमरत बारंगे, कक्कु कड़वे, सुधीर परिहार, सरिता बलराम बारंगे, सुशीला युवराज बारंगे, प्रतिभा दिनेश गाकरे, सरोज बाई पटेल, लता करदाते, सीता बारंगे, जया कड़वे, संगीता हजारे,श्री जगन्नाथ पाठेकर, प्रदीप डिगरसे रोंढा, लक्ष्मीनारायण पंवार, अविनाश देशमुख, कमल पंवार, सुधाकर पंवार, झनक कडवे, अजय पंवार, अखिलेश परिहार का विशेष सहयोग रहा।

श्री इंदल चिकाने, मोहन बुआड़े, अशोक ओंकार, बंशीलाल बारंगे, अशोक बारंगे, अनिल कौशिक, राधेश्याम नागर, राधेश्याम डहारे, प्रकाश चौधरी, शंकर पठाडे, श्री राजा पवार, श्री राजू पवार, श्री जगदीश पवार, तरुण कालभोर, मोहित पवार पत्रकार, निलेश कोड़ले, जगदीश पंवार पत्रकार छिन्दवाडा, कृष्ण कुमार बारंगे, मुन्नालाल कसारे, गजानन पवार, सेवानिवृत सैनिक अशोक पंवार, अजय पवार पत्रकार, मनमोहन पवार, श्री पलाश कड़वे, अंकित कड़वे, मोनू पवार, मनोज बारंगे, जबलपुर से श्री अमर फरकाड़े, श्री धर्मदास बोबडे, श्री दुर्गेश पाठेकर, श्री तेजी लाल पिंजारे, श्री नंदलाल बारंगे, श्यामराव देशमुख, प्रदीप माटे, दिनेश डिगरसे, एम आर देशमुख, मदन महाजन, रोशन चौधरी, श्रीमती बिल्लो पवार, श्रीमती ज्योति देशमुख, श्रीमती रेखा पवार, श्रीमती सरोज पवार, श्रीमती कविता डिगरसे, कुमारी सविता फरकाड़े, श्रीमती हेमलता बारंगे, श्रीमती आशा पवार, श्रीमती मंगलेश्वरी पवार, श्रीमती संगीता पवार सहित सैकड़ों की संख्या में पवार समाज के जनमानस उपस्थित रहे।

पंवार समाज का भवन निर्माण हेतू भूमि पूजन सफलता पूर्वक संपन्न


समाज प्रतिनिधि के रुप में उपस्थित सदस्यों द्वारा लिया गया भवन बनाने का संकल्पसम्पत राव पवार मुलताई द्वारा
अपनी धर्म पत्नी की स्मृति में दिए गये 21,000 नकद

मुलतापी समाचार

मुलताई. आज तिथि कार्तिक पूर्णिमा और देव दीपावली के शुभ अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित समाज सदस्यों द्वारा मुलताई में समाज भवन निर्माण का संकल्प लिया गया. भवन निर्माण की हर पीढ़ी के प्रतिनिधि के रुप में 93 वर्षीय वयोवृद्ध सदस्य श्री सम्पतराव पवार, श्री हरिशंकर पठारे, और कार्यकारिणी द्वारा गढकालिका, माँ ताप्ती और राजा भोज के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया.

समाज की मातृ शक्तियों द्वारा गायत्री मंत्रोच्चार और वैदिक रीति अनुसार पूजन सम्पन्न कराया गया. पूर्व में गंगा और ताप्ती जल छिड़क कर भूखंड का शुद्धिकरण कराया गया. इस अवसर पर भवन निर्माण संकल्प को यादगार बनाने के उद्देश्य से श्री रामदास देशमुख द्वारा वटवृक्ष का रोपण कर गार्ड लगाया गया व उसकी देखरेख का पूर्ण उत्तरदायित्व लिया गया. युवा संगठन के प्रतिनिधि
आशीष कोड़ले द्वारा युवाओं से हर संभव मदद का आश्वासन दिया गया.

सगुन के तौर पर सम्पतराव पवार द्वारा अपनी धर्म पत्नी की स्मृति में 21000 रुपये और अन्य सदस्यों द्वारा लगभग 10,000 की राशि उपलब्ध कराई गई. इसके बाद अब कोई भी राशि नकद न ले कर सीधे खाते में हस्तांतरित करने का निवेदन किया गया. आगे की रणनीति हेतु शीघ्र ही कार्ययोजना निर्माण कार्य हेतु अधिकृत सुखवाड़ा और भृतहरि समिति द्वारा साझा करने व तत्काल कार्यवाही शुरू करने का आश्वासन दिया गया.

नगेन्द्र डहारे मंडीदीप द्वारा भवन का अत्याधुनिक नक्शा व वीडियो नि:शुल्क तैयार कर उपलब्ध कराया गया जिसे उपस्थित सदस्यों के सक्षम साझा किया गया. इंजीनियर अरुण पवार भोपाल द्वारा निर्माण लागत भी नि:शुल्क उपलब्ध कराईं गई. भूमि पूजन संबंधी व्यवस्था जगदीश चंद्र पवार गाडरे के मार्ग दर्शन में युवा सदस्यों द्वारा करके सामाजिक सरोकार जताया गया. कार्यक्रम का संचालन उदल पवार द्वारा किया गया.

कार्यक्रम में भोपाल, बैतूल, भारत भारती, छिंदवाड़ा, दुनावा, खैरवानी, डहुआ, और मुलताई के समाज सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

मनमोहन पंवार

विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल द्वारा शस्त्र पूजन का कार्यक्रम किया सम्पन्न – मुलताई


विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल द्वारा शस्त्र पूजन का कार्यक्रम मंगलवार को बजरंग दल चौक (फव्वारा चौक) स्थित दुर्गा मंडल में संपन्न हुआ

मुलतापी समाचार

मुलताई- कार्यक्रम का शुभारंभ छोटी छोटी कन्याओं एवम माता बहनों के द्वारा भगवान श्री राम के चित्र पर माल्यार्पण एवम दिया प्रज्योलन के साथ हुआ उसके बाद शस्त्रों का पूजन किया गया उसके बाद सभी संगठन के पदाधिकारी कार्यकर्ताओं ने पूजन कर कार्यक्रम संपन्न किया कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल के जिला मंत्री गगन साहू ने कहा कि शस्त्र पूजन करना हमारी आधुनिक परंपरा नहीं शस्त्र पूजन करना हमारी पुरातन परंपरा में से एक है हमारे पूर्वज हजारों लाखों वर्ष से शस्त्र पूजन करते है जैसा कि हम देखते है की हमारी देवी देवताओं के एक हाथ में शस्त्र और दूसरे हाथ में शास्त्र भी होता है जितना हमे शास्त्र से ज्ञान प्राप्त होता है उतना ही हमे शस्त्र का भी ज्ञान होना चाहिए शस्त्र के बिना संस्कृति की रक्षा संभव नहीं है अगर संस्कृति नष्ट हो गई तो धर्म नही बचेगा अगर धर्म नही रहा तो जीवन व्यर्थ है,

हर घर में शस्त्र होना आवश्यक है ताकि आवश्यकता पड़ने पर उसका उपयोग हो सके जिस तरह हम अपने जीवन के उपयोग के लिए अनेक वस्तु खरीदते है पर हमें शस्त्र रखने का विचार कभी नही आता हमे शस्त्रों का महत्व समझनां होगा और उसकी उपयोगिता भी
जब द्रोपति का चिर हरण हुआ तब पितामह भीष्म द्रोणाचार्य,आदि सब सक्षम होते हुए भी मौन रहे इसके विपरित माता सीता का हरण देख एक पक्षी जटायु ने त्रिलोक विजेता रावण से युद्ध किया और वीरगति प्राप्त की इसलिए हमे आने वाली युवा पीढ़ी एवम बहनों को अपनी आत्मरक्षा के लिए शस्त्र चलाना भी आना चाहिए और धर्मपथ पर अपने प्राणों की आहुति देना पड़े तो भी पीछे नहीं हटना चाहिए कार्यक्रम में मुख्य रूप से विश्व हिंदू परिषद के विभाग सेवा प्रमुख उदय जोशी जिला सह संयोजक ऋषि साहू,जिला महाविधालय प्रमुख पिंटू प्रजापति,नगर संयोजक चाणक्य शर्मा,नगर प्रचार प्रसार प्रमुख गजनी साहू, प्रखंड गौरक्षा प्रमुख मोहन ढोमने नगर सुरक्षा प्रमुख द्वारका उइके,भूपेश साहू,लोकेश दियावार पवन नागवंशी सचिन विश्वकर्मा,शैलेश,शेखर साहू,राहुल,पंकज पलेवार,प्रेम,सौरभ दुबे,संदीप साहू मुकेश पहलवान सहित छोटी छोटी कन्याएं,माता बहने एवम अनेक कार्यकर्ता उपस्थित हुए

Braking News:- 1 से 5 जून तक अनलॉक आदेश, जिले में रात्रि कालीन कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा


अनलाॅक होगा बैतूल: जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समूह की बैठक में विचार विमर्श करते हुए बैतूल कलेक्टर, सांसद एवं अन्य अधिकारी गण

दिन में विभिन्न गतिविधियों में दी गई छूट

एक जून से लागू होंगे छूट के आदेश

मुलतापी समाचार

1 जून से जिले में अनलॉक की प्रक्रिया नियमों एवं शर्तों के तहत शुरू की जा रही है यह पहले पांच दिन ट्रायल रहेगा फिर धीरे धीरे बढ़ाया जाएगा
शतर्क रहे, घर मे रहे ,  बहुत जरूरत हो तो ही घर से बाहर माक्स लगाकर निकले

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री अमनबीर सिंह बैंस ने जिले में कोरोना संक्रमण के चलते प्रभावशील कोरोना कर्फ्यू में विभिन्न गतिविधियों के तहत छूट के आदेश जारी किए हैं। जिले में रात्रि कालीन कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा। यह आदेश 01 जून 2021 प्रात: 6 बजे से प्रभावशील होकर 05 जून 2021 सायं 4 बजे तक प्रभावशील रहेगा।

जारी आदेशानुसार जिला बैतूल की समस्त राजस्व सीमाओं में प्रत्येक रविवार को जनता कर्फ्यू रहेगा। जनता कर्फ्यू शनिवार रात्रि 10 बजे से सोमवार प्रात: 06 बजे तक प्रभावी रहेगा।

जिला बैतूल में रात्रि 10 बजे से प्रात: 06 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा।

जिले में समस्त सामाजिक/राजनैतिक/ खेलकूद/मनोरंजन/सांस्कृतिक/धार्मिक आयोजन/ मेले आदि जिनमें जनसमूह एकत्र होता है, प्रतिबंधित रहेंगें।

स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक/ प्रशिक्षण/ कोचिंग संस्थान बंद रहेंगें। ऑनलाइन क्लासेस चल सकेंगी।

सभी सिनेमाघर, शॉपिंगमॉल/शापिंग काम्प्लेक्स, स्वीमिंगपूल, थियेटर, पिकनिक स्पॉट, आडिटोरियम, सभागृह बंद रहेंगे।

जिले के सभी धार्मिक/पूजा स्थलों पर केवल पुजारी, मौलवी, ग्रन्थी, पादरी द्वारा सांकेतिक पूजा की जा सकेगी। आमजन का धार्मिक स्थल पर एकत्रित होना प्रतिबंधित होगा।

महाराष्ट्र राज्य से जिला बैतूल में सार्वजनिक परिवहन प्रतिबंधित होगा ।

अनुमत्य गतिविधियों के अलावा किसी भी स्थान पर 06 से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने पर प्रतिबंध रहेगा।

उक्त प्रतिबंध से निम्नलिखित गतिविधियों हेतु छूट रहेगी

अत्यावश्यक सेवाएं देने का कार्य करने वाले कार्यालयों को छोडक़र शेष कार्यालय 100 प्रतिशत अधिकारियों एवं 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ संचालित किये जावे। अत्यावश्यक सेवाओं में जिला कलेक्टोरेट, पुलिस, आपदा प्रबंधन, फायर, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा जेल, राजस्व, पेयजल आपूर्ति, नगरीय प्रशासन, ग्रामीण विकास, विद्युत प्रदाय, सार्वजनिक परिवहन, कोषालय, पंजीयन सम्मिलित है।

समस्त प्रकार के उद्योग एवं औद्योगिक गतिविधियां संचालित हो सकेगी। इस कार्य हेतु उद्योग से जड़े अधिकारियों /कर्मचारियों/ श्रमिकों को वैध आई.डी. कार्ड के साथ आने-जाने की अनुमति रहेगी।

उद्योगों के कच्चा माल/ तैयार माल के आवागमन पर किसी प्रकार की रोक नहीं होगी ।

अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लीनिक, मेडिकल इन्श्योरेंस कम्पनीज, अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेंवाएँ, पशु चिकित्सा अस्पताल चालू रहेंगे।

केमिस्ट, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन दुकानें, पूरे दिन के लिये खुली रखी जा सकेगी।

आटा चक्की, पशु आहार की दुकानें सायं 04 बजे तक खोली जा सकेगी।

किराना, फल और सब्जियां, डेयरी एवं दूध की पूर्ववत् होम डिलेवरी के माध्यम से जारी रहेगी।

पेट्रोल/ डीजल पम्प / गैस स्टेशन, रसोई गैस सेवाएं पूरी तरह से चालू रहेगी।

सभी कृषि गतिविधियों की अनुमति होगी। कृषि उपज मण्डी, खाद/बीज/ कृषि यंत्र की दुकान खुली रहेगी।

जिले के समस्त बैंक, बीमा कार्यालय एवं एटीएम खुले रहेंगे।

प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा केबल आपरेशन्स को अनुमति रहेगी।

बैंक, इन्श्योरेन्स, एनबीएफसी से जुड़े संस्थानों के एमपीएलएस, को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसायटिस, केश मैनेजमेंट एजेन्सीज संचालन एवं आवागमन की अनुमति रहेगी।

सभी प्रकार के सामानों और माल की आवाजाही बिना किसी रोक टोक के जारी रहेगी।

महाराष्ट्र राज्य को छोडक़र सार्वजनिक परिवहन, निजी बसों, ट्रेनों के माध्यम से कोविड-19 के दिशा निर्देशों के अंतर्गत अनुमति रहेगी ।

ऑटो, ई-रिक्शा में दो सवारी, टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्रायवर तथा दो पैसेंजरों को (मास्क के साथ) यात्रा करने की अनुमति होगी।

अंतर्राज्यीय मार्ग से जिले की सीमा में प्रवेश कर रहे नागरिकों को थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य होगी।

मोहल्लों/कॉलोनियों/ग्रामों में एकल दुकानें सायं 4 बजे तक खोली जा सकेगी।

ऑटोमोबाइल रिपेयरिंग, मोबाइल रिपेयरिंग, कृषि उपकरणों की मरम्मत, हार्डवेयर, बिल्डिंग निर्माण संबंधी सामग्री की दुकाने सायं 04 बजे तक खोली जा सकेगी। शेष दुकाने बंद रहेगी।

कोल्ड स्टोरेज एवं वेयर हाउसिंग की सर्विसेज को अनुमति होगी।

सम्पूर्ण प्रदेश में ई-कॉमर्स कम्पनियों से तथा अत्यावश्यक वस्तुओं की दुकानों से होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

येलो एवं ग्रीन जोन के ग्रामों में मनरेगा कार्य, ग्रामीण विकास कार्य एवं अन्य विभागों के निर्माण कार्य तथा तेन्दूपत्ता संग्रहण के कार्य कोविड-19 महामारी की रोकथाम के एस.ओ.पी. का पालन करते हुये जारी रहेंगे।

जिला स्तर पर परम्परागत रूप से लेबर मार्केट कोविड प्रोटोकॉल का पालन की शर्त पर चालू रह सकेंगे।

थोक सब्जियां/ फल/ फूल के बाजार प्रशासन द्वारा निर्धारित स्थान पर ही चल सकेंगें।

एम्बुलेंस, ऑक्सीजन टैंकर्स का आवागमन निर्बाध रहेगा।

अस्पताल/नर्सिंग होम और टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिकों / कर्मियों को छूट रहेगी।

मेन्टेनेंस सर्विस देने वाले यथा इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, कापरेंटर, मोटर मेकेनिक, आईटी सर्विस प्रोवाइडर आदि के आवगमन पर रोक नहीं होगी।

परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले परीक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़ेकर्मी/अधिकारीगण के आवागमन पर छूट रहेगी।

उपार्जन गतिविधियों पर कोई रोक नहीं होगी तथा सतत् रूप से उपार्जन संचालित किया जावेगा।

निजी सुरक्षा सेवाओं को अनमुति रहेगी ।

घरेलू सेवा देने वाले यथा धोबी, ड्रायवर, हाउस हेल्प/ मेड, कुक आदि के आवागमन पर रोक नहीं होगी।

फायर बिग्रेड, टेलीकम्युनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोईगैस,पेट्रोल / डीजल / केरोसीन टैंकर, होम डिलेवरी सेवाएं, दूध एकत्रीकरण / वितरण, फल-सब्जी के परिवहन, डाक एवं कोरियर सेवाओं के आवागमन पर कोई बाधा नहीं होगी।

जिले के समस्त रेस्टोरेन्ट एवं भोजनालय केवल टेक होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्तियों को सम्मिलित होने की अनुमति रहेगी।

विवाह में दोनों पक्षों के मिलाकर अधिकतम 20 लोगों के साथ ही अनुमति रहेगी। इस प्रयोजन के लिए आयोजक को संबंधित अनुविभागीय मजिस्ट्रेट /कार्यपालिक मजिस्ट्रेट सह इंसीडेन्ट कमांडर को अतिथियों के नाम की सूची आयोजन से पूर्व प्रदाय करना आवश्यक होगा।

कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं बचाव हेतु केन्द्र शासन/राज्य शासन तथा जिल्ला प्रशासन द्वारा समय- समय पर जारी निर्देशों)। आदेशों का कडाई से पालन किया जाना बंधनकारी होगा । प्रत्येक व्यक्ति दवारा कोविड उपयुक्त व्यवहार -फेस मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा।

यह आदेश आम जनता को संबोधित है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के साथ ही भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 तथा एपिडेमिक एक्ट 1897 के तहत मप्र शासन द्वारा जारी किए गए विनियम दिनांक 23 मार्च 2020 की कंडिका-10 के अंतर्गत उल्लेखित विधि प्रावधानों अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

यह आदेश 01 जून 2021 प्रात: 6 बजे से प्रभावशील होकर 05 जून 2021 सायं 4 बजे तक प्रभावशील रहेगा।

कोरोना हेल्थ सेंटर के 3 मरीजों की मौत-मुलताई


मुलताई बना हॉट स्पॉट

स्वास्थ्य विभाग नहीं है अलर्ट

आये दिन बढ़ते जा रही हैं संक्रमितों की संख्या

मुलतापी समाचार

मुलताई। क्षेत्र में लगातार कोरोना का प्रकोप बढ़ते जा रहा है। इस बार तो न सिर्फ कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या ज्यादा है बल्कि इस बार कोरोना के कारण मरने वालो की संख्या भी अब धीरे धीरे बढ़ते जा रही है को अब चिंता बढ़ा रही है।        

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार 10 अप्रेल 2021 को राजीव गांधी वार्ड निवासी 30 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव जो कोविड सेंटर मुलताई भाग कर गया था आज शाम करीब 6 बजे के आस पास उसकी भी मौत हो गयी है।

मुलताई बीएमओ डॉ पल्लव अमृतफुले ने इस बात की पुष्टि की है        

वही आज मंगलवार को मुलताई की ताप्ती वार्ड  से 67 वर्षीय एक मरीज को कोविड सेंटर लाया गया जिस की स्थिति अत्यंत खराब थी जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। वही मुलताई से लगा हुआ ग्राम देवरी से 50 वर्षीय एक कोरोना पॉजिटिव मरीज को कल सोमवार को कोविड सेंटर मुलताई में भर्ती किया गया था उसकी भी स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उसे रेफर कर दिया गया लेकिन उसने यही दम तोड़ दिया।         

कोरोना मरीज की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार के मस्य स्थिति ऐसी हो गयी कि नगर पालिका के कोई कर्मचारी पहुचे न ही उनके परिजन उन्हें हाथ लगाने को तैयार हुए ऐसे में समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कमर्चारियों के साथ मिलकर बीएमओ डॉक्टर पल्लव ने उनका अंतिम संस्कार करवाया। 

देश के 3 बड़े पत्रकार संघ ने बैतूल जिले में पत्रकारों को सुरक्षा प्रदान करने एवं पत्रकारों पर हमलौ के मामले में निष्पक्ष कार्यवाही करने की मांग


मुलताई में पत्रकार के साथ हुई घटना को लेकर देश के 3 बड़े पत्रकार संगठनों ने जिला कलेक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन।

बैतूल जिले में पत्रकारों की सुरक्षा प्रदान करने एवं पत्रकारों के हमले के मामले में कार्रवाई करने बाबत आज भारतीय श्रमजीवी पत्रकार महासंघ मध्य प्रदेश इकाई एवं मध्य भारत वर्किंग जर्नलिस्ट भोपाल एवं जर्नलिस्ट यूनियन आफॕ मध्यप्रदेश ईकाई बैतूल के बैनर तले जिले के पत्रकारों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि बैतूल जिले में कोविड-19 के समय जिला प्रशासन के साथ खड़े रहे जिले में पत्रकारों द्वारा उजागर कालाबाजारी और विभागीय अनियमितताओं के समाचारों के प्रकाशन के बाद कुछ पत्रकारों पर दबाव एवं पत्रकारों के विरुद्ध 20 शिकायतें दर्ज किए जा रहे हैं मामले के साथ-साथ पत्रकारों पर हो रहे प्राणघातक हमले की घटनाओं से पत्रकारों में गहरा असंतोष एवं असुरक्षा की भावना के चलते जिले पर के पत्रकार आपसे उनकी जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाते है।

साथ ही उन्होंने जिला कलेक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक को बताया कि हाल ही में मुलताई के पत्रकार राजेंद्र भार्गव सहित अन्य पत्रकारों के साथ गठित घटनाओं को ध्यान में रखकर आप पत्रकार प्रोटेक्शन के लिए जिला स्तर पर उचित निर्णायक पहल करें साथ ही पत्रकारों के उत्पीड़न के मामलों पर भी रोक लगाने की कठोर कार्यवाही करें।

बैतूल जिला कलेक्टर ने कहा जिला कलेक्टर अमरवीर सिंह बैस ने सभी पत्रकार संगठनों के पदाधिकारियों को विश्वास दिलाया कि मुलताई में हुई घटना पर वह खुद संज्ञान लेकर निष्पक्ष कार्यवाही का भरोसा दिलाते हैं।

जिला पुलिस अधीक्षक ने कहाबैतूल पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद ने पत्रकार संगठनों के पदाधिकारियों को आश्वासन दिया कि मुलताई में हुई घटना की वे खुद निष्पक्ष कार्यवाही करवा रही है तथा  किसी भी प्रकार से किसी को भी झूठे प्रकरण में नहीं फसाने दिया जाएगा पूरे मामले की निष्पक्ष जांच  करने के पश्चात ही दोषी पाये जाने पर किसी पर कार्यवाही की जाएगी।

महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र के vle कर्मचारियों को 8 माह से नही मिला मानदेय – कलेक्टर को सौपा ज्ञापन


बैतूल के कर्मचारियों को 8 माह से नही मिली तन्खा

जिले में कार्यरत ग्रामस्तरिय vle को प्रोजेक्ट के माध्यम से अभी तक नही मिला मानदेय के तहत आज बैतूल कलेक्टर ऑफिस में संघठन तैयार कर vle द्वारा ज्ञापन सौंपा गया

पंचायती राज एव ग्रामीण विकास विभाग की परियोजना महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र परियोजना में पंचायत स्तर पर केंद्र संचालन हेतु चयनित जिले की 99 पंचयात के VLe ग्रामीण स्तरीय उयदमी को 8 माह से नही मिला मानदेय।

मध्यप्रदेश पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग एवं सीएससी ई-गवर्नेस इंडिया लिमिटेड के माध्यम से बैतूल जिले के सभी जनपदो की चयनित 99 ग्राम पंचायतो में ग्राम पंचायत भवन से ग्राम पंचायत के डिजिटलाइजेसन एवं ग्राम पंचायत स्तर पर आमजनो को G2G, G2B, B2C,G2C सेवाए उपलब्ध कराये जाने हेतु 99 VLE का चयन किया गया था |
वर्तमान मे महात्मा गांधी ग्राम सेवा केंद्र (CSC 2.0) परियोजना अंतर्गत सभी ग्राम पंचायतो से चयनित VLE अपनी सेवाए विगत 8 माह (जुलाई – अगस्त 2020) से पुरी निष्ठा और ज़िम्मेदारी से प्रदान कर रहे है |

सभी VLE के द्वारा शासन की “ आयुष्मान आपके द्वार “ योजना मे भी जिले की विभिन्न ग्राम पंचायतों मे निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाकर हितग्राहियो को लाभ प्रदान कर रहे हैं, किन्तु विगत 8 माह से मानदेय न मिलने के कारण हमारे सामने रोजी-रोटी व परिवार पालने का सकंट उत्पन्न हो रहा हैं | कर्मचारियों में मानदेय न मिलने के कारण रोष व्याप्त है।

दुर्घटना- अज्ञता बाइक सवार युवक की मौत


मुलतापी समाचार

अभी अभी हुआ सड़क हादसा

आज रात्रि में हुआ सड़क हादसा , युवक की मौत

मुलताई नेशनल हाईवे के फोरलेन मार्ग पर रिलायंस पेट्रोल पंप ग्राम भिलाई के पास मार्ग से जा रहे अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दी। दुर्घटना में बाइक सवार युवक की मौत हो गई मृतक युवक की शिनाख्त नहीं पाई है मोटर सायकल पर नंबर भी नहीं है अज्ञात शव को अस्पताल मरक्यूरी रुम मुलताई में रखा गया है ।

अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे और पहचानने की कोशिश करे

Crime News जंगल की खाई में पड़ा मिला शव, दो दिन से लापता था ग्राम पाबल निवासी, हत्या की आशंका


दो दिनों से लापता था व्यक्ति

मार कर खाई में फेंका

Multapi Samachar

मुलताई थाना क्षेत्र के प्रभात पटट्न ब्लाक के ग्राम पाबल निवासी एक ग्रामीण बीते 2 दिन से लापता था। खोजबीन के दौरान ग्रामीण का शव जंगल की गहरी खाई में पड़ा मिला। ग्रामीण के सिर पर चोट के निशान होने से हत्या की आशंका जताई जा रही है।
थाना प्रभारी सुरेश सोलंकी ने बताया ग्राम पाबल निवासी चंद्रु पिता सुकलू सलामें 50 साल बीते रविवार से लापता था। परिजन चंद्रु की खोजबीन कर रहे थे। खोजबीन के दौरान मंगलवार सुबह परिजन जंगल में पहुंचे तो ग्राम पाबल के पास स्थित डोडा के जंगल में 200 फीट गहरी खाई में चंद्रु का शव पडा दिखा। परिजनों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के शव को गहरी खाई से बाहर निकाला। थाना प्रभारी श्री सोलंकी ने बताया मृतक के सिर पर चोट के निशान हैं। घटना की सूचना पर मर्ग कायम कर ग्रामीण चंद्रु की मौत किन परिस्थितियों में हुई इसकी जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों का खुलासा होंगा।

अखिल भारतीय विद्यार्थी द्वारा शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य महोदय को सौंपा ज्ञापन


बैतूल आठनेर आज अखिल_भारतीय_विद्यार्थी_परिषद_ इकाई_आठनेर_जिला बेतूल द्वारा शासकीय महाविद्यालय प्राचार्य महोदय को ज्ञापन दिया गया नगर मंत्री शीतल सूर्यवंशी  द्वारा ज्ञापन सौंपा गया जिसमें प्रांत कार्यकारिणी सदस्य सौरभ आजाद ने बताया कि बैतूल_जिला आदिवासी बाहुल्य होने के कारण प्रवेश के अंतिम तिथि बढ़ाने एवं सीट वृद्धि होना चाहिए जिससे बचे हुए छात्र एडमिशन ले सके ज्ञापन सौंपने में नगर अध्यक्ष उमेश कुयटे, नगर उपाध्यक्ष प्रीतम जीतपुरे मीडिया प्रमुख ऋषि बामने आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे