Category Archives: लॉक डाउन

CWC बैठक में Sonia Gandhi बोलीं, जल्दबाजी में लिया Lockdown का फैसला, लाखों मजदूर हो रहे परेशान


CWC बैठक में Sonia Gandhi बोलीं, जल्दबाजी में लिया Lockdown का फैसला, लाखों मजदूर हो रहे परेशान
कोरोना वायरस से निपटने के लिए सरकार द्वारा 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने सरकार पर आरोप भी लगाया

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए देश में 21 दिन का लॉक डाउन किया गया है। देश में कोरोना संक्रमण से बिगड़ रहे हालातों को काबू में लाने की कोशिश की जा रही है। गुरुवार को एक तरफ जहां पीएम मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक की, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक भी VC के जरिये हुए। बैठक के दौरान कोरोना संकट से उपजे देश के हालातों पर भी चर्चा हुई। पार्टी की अंतिरम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि मोदी सरकार ने Lockdown का फैसला जल्दबाजी में लिया गया है। खराब ढंग से लॉकडाउन लागू होने की वजह से लाखों मजदूरों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा है।

बैठक के दौरान सोनिया गांधी ने कहा कि देश के सामने डराने वाली चुनौती है, ऐसे में इससे पार पाने का हमारा संकल्प उससे भी बड़ा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश के डॉक्टर्स, हेल्थ वर्कर्स को लोगों के समर्थन की बेहद जरुरत है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि सभी को हजमैट सूट, N-95 मास्क जैसे सभी निजी सुरक्षा उपकरण युद्ध स्तर पर उपलब्ध कराए जाने चाहिए।

लाखों मजदूर हो रहे प्रभावित

सोनिया गांधी ने कहा कि देश के लाखों मजदूर लॉक डाउन की वजह से प्रभावित हो रहे हैं। उनके रहने खाने के लाले पड़ गए हैं। इस दौरान अप्रत्यक्ष तौर पर सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि लॉक डाउन का सुनियोजित तरीके से क्रियान्वयन किया जाना चाहिए थे। इसके लिए सरकार को एक विस्तृत रणनीति बनाना चाहिए थी।

लॉकडाउन के बाद भी बिगड़ रही स्थिति

देश में भले ही 21 दिन का लॉकडाउन कर दिया गया हो लेकिन कई इलाकों में इसका पालन नहीं किया जा रहा है। प्रशासन भी लोगों से लॉकडाउन का पालन कराने में असहाय नजर आ रहा है। कई राज्यों में तो डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों के साथ लोगों ने अभद्रता और मारपीट तक कर डाली है।

पूर्व जिलापंचायत उपाध्यक्ष राजा पवार ने कोरोना से लड़ने 31 हजार रुपये का सहायता राशी प्रदान की


मुलतापी समाचार

राजा पवार जिला पंचायत द्वारा अनुविभागीय अधिकारी चनाप जी को चेक प्रदान करते हुए

मुलताई । देेेेश में कोरोना वायरस के संंक्रमण के प्रभाव से बचने के प्रयास रत हैैै, प्रदेश में २१ दिन का लॉकडाउन की इस मुसकिल की घडी में नगर के समाज सेवक अपने-अपने तरह से जरूरत मंदों को सेवा प्रदान कर रहें है इसी तारतम्‍य में पूूर्व जिला पंचायत उपाध्‍यक्ष राजा पवार द्वारा कोरोना वायरस से प्रदेश एवं देश में आयी इस संकट की घड़ी में 31000 ₹की सहायता राशि का चेक अनुविभागीय अधिकारी जी को सौपा ।

इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी से मुलताई क्षेत्र में चल रहे सहायता कार्यो अनाज- भोजन आदि वितरण संबंधी चर्चा हुई .

वहींं नगर के युवाओं और समाज सेवकों गरीब परि‍वार की अनाज वितरण कर सहायता की और नगर सेवकों में सेनेटाइजर वितरण कर सभी जनता से अपने घरों में रहनेे का निवेदन किया।

MP क्या 14 अप्रैल के बाद भी बढ़ सकती है लॉकडाउन की डेट? सरकार ने जारी किया 3 महीने का प्लान


मुलतापी समाचार

  • चीन से निकले कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तबाही मचा दी
  • भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई
  • लॉकडाउन के दूसरे दिन ही सरकार ने राहत पैकेज का ऐलान किया

नई दिल्ली। चीन के वुहान से निकले कोरोना वायरस ( Coronavirus In China ) ने पूरी दुनिया में तबाही मचा दी है। भारत में कोरोना ( Coronavirus In India ) संक्रमित मरीजों की संख्या 650 के पार पहुंच गई है।

हालांकि भारत में अभी कोरोना वायरस ( Coronavirus ) दूसरी स्टेज में है। विशेषज्ञों के अनुसार भारत जल्द ही कोरोना की तीसरी स्टेज में प्रवेश कर सकता है।

यही वजह है कि भारत सरकार ( Modi Goverment ) ने देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू कर दिया है। लॉकडाउन ( Lockdown ) के दूसरे दिन ही मोदी सरकार ने देशवासियों के लिए राहत पैकेज का ऐलान किया।

लेकिन सरकार ने इस पैकेज में जिस तरह से हर योजना को आगामी तीन महीने के लिए तैयार किया है, उसने कई सवालों को जन्म दे दिया है।

दरअसल, केंद्र सरकार की प्लानिंग देख ऐसा लग रहा है, जैसे यह लॉकडाउन 21 दिनों से अधिक होने वाला है।

आपको बता दें कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरो नावायरस के प्रकोप के खिलाफ सरकार द्वारा छेड़ी गई जंग से प्रभावित गरीबों और मजदूरों की कठिनाइयों को देखते हुए गुरुवार को 1,70,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज के रूप में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा की।

वित्तमंत्री ने कहा कि इस पैकेज के तहत गरीबों और दिहाड़ी मजदूरों को सीधे उनके बैंक खाते में नकद राशि का हस्तांतरण कर उनको खाद्य सुरक्षा प्रदान की जाएगी

आपको बता दें कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरो नावायरस के प्रकोप के खिलाफ सरकार द्वारा छेड़ी गई जंग से प्रभावित गरीबों और मजदूरों की कठिनाइयों को देखते हुए गुरुवार को 1,70,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज के रूप में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा की।

वित्तमंत्री ने कहा कि इस पैकेज के तहत गरीबों और दिहाड़ी मजदूरों को सीधे उनके बैंक खाते में नकद राशि का हस्तांतरण कर उनको खाद्य सुरक्षा प्रदान की जाएगी

लेकिन सरकार ने राहत पैकेज में जिस तरह से तीन महीनों की योजनाओं का ऐलान किया है, उससे यह अटकलें लगने लगी हैं कि सरकार आगे की तैयारियों के साथ बढ़ रही है।

मुलतापी समाचार

लॉक-डाउन के दौरान मरीजों को टेलीमेडिसिन से उपचार हेतु 20 चिकित्सकों के मोबाइल नम्बर जारी


टेलीमेडिसिन एक ऐसी व्यवस्था हैं जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञों की वीडियो कोंफ्रेंस के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सेवा प्रदान करते हैं.

Multapi Samachar

टेलीमेडिसिन  एक ऐसी व्यवस्था हैं जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञों की वीडियो कोंफ्रेंस के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सेवा प्रदान करते हैं

जिसका मध्‍यप्रदेेश मेंं टोल फ्री नं. 104, 181 है

बैतूल जिले के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.सी. चौरसिया ने बताया कि टेलीमेडिसिन पद्धति से उपचार की सुविधा मुहैैैैया कराई जा रही ि‍जिसकास्वास्थ्य विभाग बैतूल द्वारा 20 चिकित्सकों की टीम तैयार की गई है जिनके नम्बर जारी किये हैं,

बैतूल जिले की जनता के लिए स्‍वास्‍थ्‍य विभाग द्वारा विशेष टेलीमेडिसिन टीम तैयार की गई है आपनेे ब्‍लाक स्‍तर के डॉ. के फोन नं. पे संंपर्क कर सुझाव लेकर मेडिकल से दवा क्रय ले सकते है। जिससे सामान्‍य बिमार व्‍यक्ति को इलाज मुहैैैैया हो जायेगा और सरल तरिके से कोरोना वायरस के बडते लक्षण से बचनेे केे लिए शासन ने लॉकडॉन ि‍किया हुआ है इस स्‍थिती से उभरने के लिए आमजन को सरल इलाज मिल सके टेलीमेडिसिन अपनाया जा रहा है, जनता से भी अपील की जा रही है कि सर्दी,खांसी सर्दद, जैसी बिमारी के लिए घर से ना निकले अपने क्षेत्रीय डॉ से फोन पर इलाज कराएं ।

बैतूल जिले के मरीज उपचार हेतु इन नम्बरों पर सम्पर्क सकते हैं।

डॉ. एम.आर. बागद्रे मो.नं. 7987004731 बैतूल, डॉ. राहुल शर्मा 8770971307 बैतूल।

डॉ. अरूण अटल 9981873800 भैंसदेही, डॉ. तरूण कुमार 8962247395 भैंसदेही।

डॉ. आकाश गेंदा 9140914746 भीमपुर।

डॉ. तरूण साहू 8236991218 चिचोली

डॉ. व्हीएन झरबड़े 9171568890 घोड़ाडोंगरी, डॉ. स्वीटी सेन 7898740945 घोड़ाडोंगरी।

डॉ. चन्द्रभान ठाकुर 7415523024 मुलताई, डॉ. राजाराम धुर्वे 9407296862 मुलताई।

डॉ. पल्लव अमृत फले 900974966 मुलताई, डॉ. रघुवीर सिंह निगम 7987851859 मुलताई।

डॉ. आकांक्षा जोशी 8349718336 प्रभात पट्टन।

डॉ. मनोज खरे 8518911908 सेहरा, डॉ. पी. तिवारी 9899640234 सेहरा।

डॉ. आशीष गोनांडे 9584575621 सेहरा।

डॉ. विजय सिंह 9424471028 शाहपुर, डॉ. यूपा वर्मा 9009334583 शाहपुर।

डॉ. अक्षय सावातुल 7772966817 शाहपुर, डॉ. एस.के. रघुवंशी 9406622372 शाहपुर।

जाने यह क्‍या है और कैैैैसे काम करता हैैं…….

टेलीमेडिसिन की क्या आवश्यकता हैं ?
भारत वर्ष में चिकित्सा विशेषज्ञों की कमी हैं, चिकित्सा विशेषज्ञों ग्रामीण /अर्ध शहरी क्षेत्रों में जाना नही चाहते हैं, उनकी सेवाए बड़े शहरों तक ही सिमित रह जाती हैं , ग्रामीण /अर्ध शहरी क्षेत्रों के रोगियों को बड़ी बीमारियों के परामर्श के लिए बड़े शहरों में जाना पड़ता हैं, जिससे उनका समय और धन का अधिक व्यय होता हैं, उस समय और धन को बचाने के लिए टेलीमेडिसिन की आवश्यकता हैं.

टेलीमेडिसिन कैसे कार्य करता हैं?

नर्सिगकर्मी/पेरामेडीकलकर्मी/फार्माकर्मी मेडिकल लोज के अनुसार क्लिनिक प्रक्टिस के लिए अधिकृत नही हैं, नर्सिंगकर्मी/पेरामेडिकलकर्मी/फार्माकर्मियों को मेडिकल में स्किल डेवलपमेंट की ट्रेनिग (कार्डियोलोजिस्ट, न्यूरो सर्जन, पीडियाट्रिक्स, ओर्थोपोंडिक्स, गायनोलोजिस्ट, गेस्ट्रोलोजिस्ट) विभागों में ट्रेनिग दिलवाकर उन को ग्रामीण /अर्धशहरी क्षेत्रों में टेलीमेडिसिन सेन्टर खोलकर, ग्रामीण और अर्धशहरी क्षेत्रों में चिकित्सा विशेषज्ञ से विडियो कांफ्रेंस के माध्यम से रोगियों को कंसल्टिंग, दवाईयां, जाँचे, की सुविधा प्रदान करते हैं.

टेलीमेडिसिन के फायदे

स्वास्थय देखभाल की गुणवक्ता में सुधार, चिकिस्ता त्रुटियों को रोकना, स्वास्थ्य देखभाल लागत कम करना, प्रसासनिक दक्षताओ वृद्धि,  कागजी कारवाई घटाना, सस्ती देखभाल के लिए पहुच बढाना…

आज से यह शहर 3 दिन के लिए रहेगा पूरा बंद


मुलतापी समाचार मनोज कुमार अग्रवाल

इंदौर: देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए 21 दिन का लॉकडाउन जारी है ! इसके बावजूद देश के अधिकांश इलाकों में लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं! नतीजा संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, इसी कारण से आज से मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर में देश का सबसे सख्त लाकडाउन रहेगा! अगले 3 दिन तक यहां दूध- सब्जी, किराना सहित कोई भी सामान नहीं मिलेगा! यह शहर पूरी तरह से कर्फ्यू में ग्रस्त रहेगा!

मुलतापी समाचार

एटीएम कम्पनियों के कर्मचारीयों को मिले सम्मान


मुलतापी समाचार

भोपाल: एटीएम कम्पनी से जुड़े लोगो को जो मुख्यतः 5 से 6 कम्पनियों के लाखो कर्मचारी हैं। इनकी मेहनत,लगन और असीमित घंटो तक के काम को भी सम्मान देने कि जरुरत हैं।
जब भी कोई त्यौहार हो महत्वपूर्ण कार्य हो नोटबंदी के समय या #COVID19 कोरोना जैसी महामारी के चलते भी कम्पनी के लाखो कर्मचारी अपने घर परिवार की चिंता छोड़कर अपनी सेवाएं निरंतर दे रहे हैं।पुलिस,सेना,अस्पताल और बैंक जैसा ही, एटीएम मे काम करने वाले सभी
कैश आफीसर,एटीएम इन्जीनियर,एमएसपी के कर्मचारी,काल सेन्टर,गनमैन,ड्राइवर समेत मेनेजमेन्ट निरन्तर 24 घंटे सेवा मे लगे हुये हैं
भारत सरकार से निवेदन है कि एटीएम कम्पनियों के कर्मचारियों को भी सम्मान दे और आर्थिक पैकेज की घोषणा करें।

मुलतापी समाचार बैतूल एटीएम कम्पनी से जुड़े सभी कर्मचारियो का दिल से आभार और धन्यवाद् जो आपातकाल में अपनी सेवाएं निरंतर दे रहे हैं।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

Shiva pawar