सघन मिशन इंद्रधनुष 2.0 का द्वितीय चरण प्रारंभ 6 जनवरी से अभियान संचालित


अभियान के अंतर्गत 0 से 5 वर्ष तक के छूटे हुए बच्चों एवं गर्भवती माताओं का टीकाकरण किया जाएगा।

बच्चों को 11 गंभीर जानलेवा बीमारियों के निःशुल्क टीके लगावाकर संपूर्ण टीकाकरण कराएं एवं विटामिन-ए अनुपूरण जरूर कराएं

बैतूल। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 का द्वितीय चरण 6 जनवरी से प्रारंभ हो रहा है जो 16 जनवरी 2020 तक संचालित किया जाएगा। इसी निर्धारित तिथियां 6, 8, 9, 11, 13, 15 एवं 16 जनवरी 2020 रहेंगी। अभियान के अंतर्गत 0 से 5 वर्ष तक के छूटे हुए बच्चों एवं गर्भवती माताओं का टीकाकरण किया जाएगा। डॉ. चौरसिया ने बच्चों के परिजनों से आग्रह किया है कि बच्चों को 11 गंभीर जानलेवा बीमारियों- क्षय रोग, टी.बी., हेपेटाइटिस-बी (पीलिया), पोलियो, गलघोंटू, काली खांसी, निमोनिया, खसरा-रूबैला, मस्तिष्क ज्वर, टेटनस+हीब एवं रोटा वायरस बीमारियों से बचाने हेतु पोलियो, खसरा-एमआर, एफआईपीवी (फ्रेक्शनल इंजेक्टेबल पोलियो वेक्सीन), पीसीवी (न्यूमोकोकल वेक्सीन), रोटावायरस, बीसीजी, पेंटावेलेंट, डीपीटी, हेपेटाइटिस-बी के निःशुल्क टीके लगावाकर संपूर्ण टीकाकरण कराएं एवं विटामिन-ए अनुपूरण जरूर कराएं। जन्म से लेकर पांच वर्ष तक के सभी बच्चों एवं गर्भवती माताओं का सम्पूर्ण टीकाकरण करवाकर सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 को सफल बनाएं।

मनमोहन पंवार

संपादक

9753903839

चिचोली में फसल ऋण माफी योजना के प्रकरणों के निराकरण के लिए शिविर आज


बैतूल। उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास से प्राप्त जानकारी के अनुसार जय किसान फसल ऋण माफी योजनांतर्गत पिंक-1 एवं पिंक-2 के प्रकरणों के निराकरण हेतु जनपद स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे। प्रकरणों के निराकरण हेतु जिला स्तरीय अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। जनपद पंचायत चिचोली में 3 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. केके देशमुख प्रकरणों का निराकरण करेंगे। जनपद पंचायत घोड़ाडोंगरी में 04 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में अतिरिक्त उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. विजय पाटिल प्रकरणों का निराकरण करेंगे। जनपद पंचायत भैंसदेही में 04 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में सहायक भू-संरक्षण अधिकारी भैंसदेही डॉ. आरएस राजपूत प्रकरणों का निराकरण करेंगे। जनपद पंचायत मुलताई में 06 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी कृषि चेतन मातिखाये प्रकरणों का निराकरण करेंगे। जनपद पंचायत भीमपुर में 06 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में उपायुक्त सहकारिता श्री केवी सोरते प्रकरणों का निराकरण करेंगे। जनपद पंचायत आमला में 07 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में सहायक संचालक मत्स्य पालन एसपी सैनी प्रकरणों का निराकरण करेंगे। जनपद पंचायत प्रभातपट्टन में 08 जनवरी 2020 को शिविर आयोजित किया जाएगा। शिविर में सहायक कृषि यंत्री डॉ. प्रमोद कुमार मीना प्रकरणों का निराकरण करेंगे।

मनमोहन पंवार

संपादक -मुलतापी समाचार

9753903839

वोटर आईडी सूची में नाम जोड़ने एवं सुधार के लिए 15 जनवरी दे पाएंगे आवेदन


बैतूल। उप जिला निर्वाचन अधिकारी एवं अपर कलेक्टर साकेत मालवीय से प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार निर्वाचक नामावली का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2020 अंतर्गत 01 जनवरी 2020 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले मतदाताओं का नाम निर्वाचक नामावली में जोड़ा जाएगा। नाम जोडे, निरसन करने तथा सुधार हेतु 15 जनवरी 2020 तक आवेदन स्वीकृत किए जाएंगे। मतदाता निर्धारित प्रारूप में आवेदन भर कर 15 जनवरी 2020 तक अपने मतदान केन्द्र के बीएलओ के पास जमा कर सकते हैं।

पोस्‍ट बाई – मुलतापी समाचार , 9753903839

अवैध रूप से भंडारित यूरिया जब्त


बैतूल। मुलतापी समाचार

घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा द्वारा गुरुवार को घोड़ाडोंगरी में एक मकान में अवैध रूप से भंडारित 65 बोरी यूरिया जब्त किया गया है। यूरिया जब्त कर उक्त मकान सील कर दिया गया है एवं अवैध यूरिया की सुपुर्दगी वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी घोड़ाडोंगरी को दी गई है। तहसीलदार सुश्री विश्वकर्मा ने कृषि विभाग को इस मामले की जांच के निर्देश दिए हैं।

मनमोहन पंवार (संपादक)

मुलतापी समाचार 9753903839

सारनी के राजडोह नदी का जल स्तर बढ़ा, नाव चालक परेशान, छिंदवाड़ा में हुई तेज बारिश


अचानक जल स्तर बढ़ने से नाव चालकों को उठानी पड़ी परेशानी

आज भी नाव से पार होते एक छोर से दूसरे छोर पर ग्रामीण।

राजडोह नदी में तेजी से बढ़ता पानी।

सारणी। मुलतापी समाचार

पड़ोसी जिले छिंदवाड़ा में गुरुवार को तेज बारिश होने की वजह से राजडोह नदी का अचानक जलस्तर बढ़ गया, जिससे बाढ़ की स्थिति निर्मित हो गई। नाव के द्वारा एक छोर से दूसरे छोर पर ग्रामीणों को पहुंचाए जाने में नाव चालकों खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। लोनिया पंचायत के अंतर्गत लगभग एक दर्जन से अधिक गांव के पांच हजार से ज्यादा लोग दो नाव के भरोसे एक छोर से दूसरे छोर आवागमन करते हैं। यदि आसपास के क्षेत्रों में तेज बारिश हो जाए तो नाव चालक को नदी पार कराने में काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है। ऐसी स्थिति गुरुवार को राजडोह नदी में देखने को मिली है।

लोनिया पंचायत के एक दर्जन से अधिक गांव के लोग भारत के आजादी के पूर्व से ही राजडोह नदी पर नाव के भरोसे पार करते हैं। सन 1985 में ज्यादा बारिश और क्षमता से ज्यादा नाव में ग्रामीणों के बैठ जाने के कारण 25 लोगों की मौत हो गई थी। सन 1985 से ही राजडोह नदी पर सेतु के निर्माण के लिए कई बार भूमि पूजन किया गया, लेकिन सेतु का निर्माण नहीं हुआ। वर्ष 2012 में 4 करोड़ों रुपए की लागत से सेतु का निर्माण किया गया। लेकिन ज्यादा बारिश होने के कारण सेतु के शुरू होने से पहले ही यह बाढ़ का ग्रास बन गया, अब दोबारा दस करोड़ रुपए की लागत से राजडोह नदी पर सेतु का निर्माण कार्य किया जा रहा है,जो अपने निर्धारित समय से दो वर्ष के विलंब से चल रहा है।

गांववासियों को अभी भी विश्वास नहीं हो पा रहा है कि यह सेतु बनकर तैयार होगा।गांव के केऊलाल यादव ने बताया कि उन्होंने अपने 48 वर्ष के जीवन में इस तरह की बारिश और बाढ़ इसके पूर्व नहीं देखी। जनवरी माह में बारिश होना उन्होंने पहली बार देखा है। उन्होंने बताया कि 35 वर्ष से ग्रामीण लोग सेतु निर्माण का इंतजार कर रहे हैं। लगता है कि इस बार सेतु निर्माण से आवागमन का लाभ ग्रामीणों को मिल सकता है ।लेकिन बेमौसम बारिश की वजह से ग्रामीणों को एक छोर से दूसरे छोर पहुंचने में खासी मशक्कत करनी पड़ रही है।

मुलताई को जिला बनाने एवं ताप्ती को प्रदूषण मुक्त करने का प्रयास


नववर्ष पर नागरिकों को शासन प्रशासन से बंधी नई उम्मीदें

ताप्ती की सीवर लाईन बनने की लोगों को है उम्मीद।

मुलताई के जिला बनने की उम्मीद। ताप्‍ती सरोवर किनारे हो वेल गार्डन ।

ताप्‍ती सरोवर में बुर्ज पर हो राजा भोज विराजमान

मुलताई। मुलतापी समाचार

नए साल में नगर के जागरूक युवाओं तथा सेवाभावी संगठनों के अनुसार वर्ष 2020 में सबसे पहले मुलताई को जिला बनाने के लिए ही शासन-प्रशासन को गंभीरता से प्रयास करना चाहिए ताकि वर्षों से अवरूद्ध नगर के विकास को नई दिशा मिल सके। इसके लिए नगर के जागरूक लोगों के साथ ही विभिन्ना संगठन भी सक्रिय हैं लेकिन इसके बावजूद शासन प्रशासन का अपेक्षित सहयोग नहीं मिल रहा है इसलिए वर्ष 2020 में मुलताई को जिला बनाने की मुुहीम तेज हो सकती है। नव वर्ष पर नगर सहित पूरे क्षेत्र वासियों को अब शासन-प्रशासन से नई उम्मीदें बंध गई हैं। पुराने वर्ष के गुजरने के साथ ही लोगों ने भी पुराने मुद्दों को नव वर्ष में नये सिरे से सामने लाने एवं उनको क्रियान्वित कराने की आस बांधी है। नव वर्श में लोगों को यह उम्मीद है कि नगर हित में एैसे कई कार्यों को अंजाम तक पहुंचाया जाए जो नगर के विकास के साथ-साथ धार्मिक आस्था से भी जुड़े हुए है। नागरिकों के अनुसार नव वर्ष में शासन प्रशासन को मुलताई को जिला बनाने के बेहतर प्रयास करने होंगे क्योंकि जिला बनाने से जहां नगर सहित पूरे क्षेत्र का विकास जुड़ा हुआ है वहीं रोजगार की नई संभावनाएं भी बन सकती है। ऐसी स्थिति में मुलताई को जिला बनाने से जहां शिक्षित युवाओं का नगर से पलायन रूकेगा वहीं जिला बनने से नगर सहित पूरे क्षेत्र को विकास होना तय है। नागरिकों के अनुसार पुराने वर्ष में लोगों की जागरूकता से मुलताई को जिला बनाने का मुद्दा सामने तो आया लेकिन शासन-प्रशासन का सहयोग नहीं मिलने से फिलहाल जिला बनाने की मांग ठंडे बस्ते में पड़ी हुई नजर आ रही है।

ताप्ती सरोवर को प्रदूषणमुक्त करना जरूरी ताप्ती को प्रदूषणमुक्त करने की मांग वर्षों से की जा रही है। वहीं ताप्ती जल आवक मार्ग से अतिक्रमण हटाने के लिए भी कई बार जागरूक नागरिक सामने आ चुके हैं लेकिन शासन प्रशासन की लापरवाही के कारण जन जन की आस्था का केन्द्र ताप्ती सरोवर में ना तो गंदगी आना बंद हुई और ना ही अतिक्रमण हटाया जा सका। नये वर्ष में ताप्ती भक्तों को शासन-प्रशासन से उम्मीदें है कि सीवर लाईन प्रोजेक्ट के माध्यम से ताप्ती सरोवर में समाहित होने वाली गंदगी को अलग किया जा सके ताकि दूर-दूर से पवित्र नगरी आने वाले श्रद्धालु एवं तीर्थ यात्री बिना किसी झिझक एवं संकोच के मां ताप्ती के पवित्र जल का आचमन कर सकें। जन-जन की आस्था का केंद्र ताप्ती सरोवर को प्रदूषण मुक्त कराने के तमाम प्रयास के बावजूद भी आज तक ताप्ती सरोवर प्रदूषण मुक्त नहीं हो पाया है जिससे लोगों में रोष व्याप्त है। नये वर्ष पर लोगों को यह शासन-प्रशासन से उम्मीदें है कि ताप्ती को प्रदूषण मुक्त करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएं।

कामधेनू चौक बनाया जा रहा है जहां गो माता की प्रतिमा स्थापित की जाऐगी, ट्रांसफार्मर बना रोडा


चौक के निर्माण में ट्रांसफार्मर बन सकता है परेशानी

दो वर्षों से स्मृति भवन के पास से नही हटाया जा सका ट्रांसफार्मर

मुलताई। वह ट्रांसफार्मर जिसे दो सालों से नहीं हटवा नहीं पाया गया हैे।

मुलताई। मुलतापी समाचार

नगर में प्रथम पुलिया के पास सूरजमल स्मृति भवन के सामने कामधेनू चौक बनाया जा रहा है जहां गो माता की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। उक्त स्थल पर लगा ट्रांसफार्मर चौक बनने में परेशानी खड़ी कर सकता है। पूर्व में भी जब नगर पालिका द्वारा बागीचे के लिए उक्त जगह का चयन किया गया था तभी से लोगों ने पहले वहां स्थित ट्रांसफार्मर हटाने की मांग की गई थी। नगर पालिका द्वारा ट्रांसफार्मर हटाने के लिए प्रक्रिया भी प्रारंभ की गई थी तथा विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों द्वारा उक्त स्थल पर कई बार नपाई आदि भी की गई जिससे लग रहा था कि शीघ्र ही वहां से ट्रांसफार्मर हटा दिया जाएगा। लेकिन विगत दो वर्षों में विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों द्वारा कई बार निरीक्षण करने के बावजूद ट्रांसफार्मर नही हटाया जिसे लेकर लोगों में रोष व्याप्त है। बताया जा रहा है कि जब तक ट्रांसफार्मर नही हटाया जाएगा तब तक चौक बनने में परेशानी हो सकती है। इसलिए पहले नगर पालिका द्वारा ट्रांसफार्मर हटाया जाना जरूरी है लेकिन दो वर्ष बाद भी ट्रांसफार्मर नही हटाया जा सका।

ट्रांसफार्मर हटाने के लिए नपा गंभीर नहीं: नगर पालिका द्वारा प्रथम पुलिया के पास बागीचा विकसित करने सहित अब कामधेनू चौक का भी निर्माण किया जा रहा है जहां लोगों का आवागमन बना रहेगा। ऐसी स्थिति में वहां ट्रांसफार्मर का होना खतरे से खाली नहीं है लेकिन इसके बावजूद नगर पालिका ट्रांसफार्मर हटाने के प्रति गंभीर नजर नही आ रही है। नगर पालिका द्वारा जिस जगह को विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है वहां बाधक बने ट्रांसफार्मर को हटाने की प्राथमिकता होना चाहिए, लेकिन दो वर्ष में भी ट्रांसफार्मर नहीं हटाए जाने से ऐसा प्रतित हो रहा है कि नपा को इस कार्य में कोई रूचि नहीं है।

हटाए जाएंगे दो ट्रांसफार्मर : प्रथम पुलिया के पास से ट्रांसफार्मर हटाने के संबंध में जब सीएमओ राहुल शर्मा से चर्चा की गई तो उन्होंने स्वीकार किया कि नगर पालिका की प्राथमिकताएं बदलने से ट्रांसफार्मर हटाने में विलंब हुआ है। उन्होंने कहा कि नववर्ष में स्मृति भवन के पास की जगह पर बागीचा भी विकसित करने की योजना है इसलिए अब गंभीरता से ट्रांसफार्मर हटाने के लिए प्रयास किए जाएंगे। सीएमओ शर्मा के अनुसार फव्वारा चौक से भी एक ट्रांसफार्मर हटाया जाना है, जो फिलहाल खतरनाक स्थिति में खड़ा हुआ है, इसके लिए भी नगर पालिका द्वारा हटाने की प्रक्रिया प्रारंभ की जा रही है।

मनमोहन पंवार (संपादक) मुलतापी समाचार 9753903839

जामसांवली से मांडवी जा रही जीप पलटी, 6 घायल


नागपूर रोड पर चैनपुर के पास हुई दुर्घटना

मुलताई। दुर्घटना में वाहन पलट गया।

मुलताई। मुलतापी समाचाार

जामसांवली से हनुमान जी के दर्शन कर लौट रही यात्रियों से भरी जीप ग्राम चैनपुर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिससे जीप में सवार 6 लोग घायल हो गए। घायलों को मुलताई के सरकारी अस्पताल में लाकर भर्ती किया गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद घायलों को जिला अस्पताल रेफर किया गया। बताया जा रहा है कि जीप में सवार ग्रामीण जामसांवली से मांडवी आठनेर जा रहे थे इसी दौरान फोरलेन मार्ग पर चैनपुर के पास हादसा हुआ। दुर्घटना के संबंध में संजीवनी के दुर्गेश पंवार तथा पायलट सतीष जौजरे ने बताया कि दुर्घटना की सूचना मिलते ही वे दुर्घटना स्थल पहुंचे जहां जीप पलटने से घायल रितेश पिता भूरा 26 वर्ष, कमलेश पिता रामदीन 30 वर्ष, सुनील पिता दयाराम 28 वर्ष, धीरज पिता लीलाधर 28 वर्ष, राजेश पिता भैया 40 वर्ष तथा अंकित पिता लखन 24 वर्ष को सरकारी अस्पताल मुलताई लाया गया। बताया जा रहा है कि नववर्ष पर ग्राम मांडवी से ग्रामीण जामसांवली के चमत्कारी हनुमान मंदिर गए थे जहां से लौटते समय हादसा हुआ। गौरतलब है कि मंगलवार रात को भी बैतूल मार्ग पर ग्राम उभारिया के पास एक पिकअप पलटने से उसमें सवार लगभग 18 ग्रामीण घायल हो गए थे जो मुलताई में मेला करने के बाद ग्राम सेहरा वापस जा रहे थे। इसी दौरान ग्राम उभारिया के आगे पिकअप पलट गई। इधर नववर्ष की पूर्व संध्या पर हुए हादसे के बाद नये वर्ष पर भी जीप पलटने के कारण हादसा हुआ है। लगातार दुर्घटनाओं का कारण फिलहाल खराब मौसम एवं कोहरा बताया जा रहा है वहीं दुर्घटनाओं से लोगों में भय व्याप्त है।

मनमोहन पंवार

9753903839

मुलताई को नंबर वन बनाने मंत्री ने किया लोगों से आव्हान -स्च्छता हेतु


स्वच्छता में मुलताई को नंबर वन बनाने मंत्री ने किया लोगों से आव्हान

साफ-सफाई रखने का दिया संदेश

मुलताई। लोगों को स्वच्छता का संदेश देते पांसे।

मुलताई। मुलतापी समाचार

स्वच्छता सर्वेक्षण में मुलताई को प्रदेश में नंबर वन बनाने के लिए मंत्री सुखदेव पांसे ने लोगों से आव्हान किया है। उन्होंने कहा कि नगर को साफ एवं स्वच्छ रखने की जिम्मेदारी नगर पालिका के साथ-साथ हम सभी की भी है। प्रदेश में नंबर वन बनने से मां ताप्ती का नाम पूरे प्रदेश में रोशन होगा। उन्होंने कहा कि कचरा गाड़ी में कचरा डालना, सड़क पर कचरा नहीं फैलाना और अपने आसपास सफाई रखना ही इस अभियान में आम लोगों का बड़ा योगदान हो सकता है। पांसे ने स्वच्छता अभियान को लेकर नगर पालिका द्वारा किए जा रहे कार्यो की सराहना की। उन्होंने कहा कि नपा द्वारा अच्छा काम किया जा रहा है, इसमें सभी को सहयोग करना चाहिए। सीएमओ राहुल शर्मा ने बताया कि मुलताई में सुबह के साथ-साथ शाम एवं रात में भी उक्त अभियान चलाया जा रहा है। स्वच्छता विभाग के कर्मचारी भी अपनी ड्यूटी समय के अलावा दो घंटे अतिरिक्त समय देकर इस अभियान को सफल बनाने में लगे हुए है। उन्होंने ने भी आम लोगों से इस अभियान में भागीदारी सुनिश्चित करने का आव्हान किया है।

ताप्ती महोत्सव में आएंगे बड़े कलाकार


फरवरी के अंतिम सप्ताह में मनाया जाएगा ताप्ती महोत्सव

मुलताई। ताप्ती उद्गम स्थल पर मनाया जाएगा ताप्ती महोत्सव।

मुलताई। मुलतापी समाचार

ताप्ती उद्गम स्थल पर हर साल धूमधाम से ताप्ती महोत्सव मनाया जाता है। पिछले साल कैबिनेट मंत्री सुखेदव पांसे ने ताप्ती महोत्सव की तिथियां घोषित करवाई थी, जिसमें फरवरी माह में ताप्ती महोत्सव मनाया जाना घोषित किया गया था। इस बार फरवरी माह के अंतिम सप्ताह में भव्यता से ताप्ती महोत्सव मनाने के लिए संस्कृति विभाग द्वारा कलेक्टर बैतूल को पत्र भेजा जा चुका है। ताप्ती महोत्सव में इस बार बड़े कलाकार मुलताई आ सकते है। मंत्री पांसे द्वारा इसके लिए संस्कृति विभाग के उच्चाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। बड़े कलाकारों में लोगों को पहली पसंद सोनू निगम, कुमार सानू, श्रेया घोषाल, नेहा कक्कर जैसे कलाकार हैं। हर बार की तरह इस बार भी तीन दिवसीय ताप्ती महोत्सव मनाया जाएगा।

जिले की जीवनदायनी ताप्ती नदी के तट पर ताप्ती महोत्सव मनाने की शुरूआत कैबिनेट मंत्री सुखदेव पांसे के पिछले कार्यकाल में हुई थी। पांसे द्वारा विधानसभा में सवाल उठाकर तत्कालीन संस्कृति एवं जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा से इसकी घोषण करवाई थी, तब से अब तक लगातार ताप्ती महोत्सव मनाया जा रहा है,लेकिन इसकी तिथियां निश्चित नहीं थी। हर साल की इस समस्या को देखते हुए पांसे द्वारा पिछले साल इसकी तिथियां निश्चित की गई थी और तय किया गया था कि फरवरी माह के अंतिम सप्ताह में हर साल ताप्ती महोत्सव मनाया जाएगा। अब क्योंकि ताप्ती महोत्सव के आयोजन में लगभग दो महीने का समय बचा है, ऐसे में ताप्ती महोत्सव को लेकर गतिविधियां प्रारंभ हो गई है। संस्कृति विभाग से कलेक्टर को आयोजन के संबंध में पत्र आ चुका है। ऐस में भव्य स्तर पर इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। मंत्री पांसे ने बताया कि उनके द्वारा संस्कृतिक विभाग के अधिकारियों से चर्चा की गई है एवं कहा गया है कि अच्छे कलाकार ताप्ती महोत्सव में शिरकत करें। इधर विधायक प्रतिनिधि नितेश साहू ने बताया कि मंत्री पांसे द्वारा संस्कृति विभाग को पत्र भेजा जा चुका है। उनके द्वारा बड़े से बड़े कलाकारों को ताप्ती महोत्सव के लिए आमंत्रित करने का आग्रह किया है एवं भव्य स्तर पर ताप्ती महोत्सव मनाया जाएगा।

एक्सीलेंस स्कूल मैदान पर ही कार्यक्रम आयोजित करने की मांग

नगर के लोगों का कहना है कि ताप्ती महोत्सव एक्सीलेंस स्कूल मैदान पर आयोजित किया जाना चाहिए, क्योंकि दाल मिल मैदान दूर हो जाता है। ऐसे में एक्सीलेंस स्कूल मैदान पर ही भव्यता के साथ ताप्ती महोत्सव मनाया जाना चाहिए। सूत्रों के अनुसार इस साल भी कार्यक्रम एक्सीलेंस स्कूल मैदान पर ही आयोजित किया जाएगा। विधायक प्रतिनिधि नितेश साहू ने बताया कि तीन दिवसीय कार्यक्रम में रोजाना अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, जिसकी रूपरेखा तैयार हो रही है।

सच का प्रवाह