Tag Archives: उत्‍तर प्रदेश

Agra : सब्जी बेचने वाला निकला corona COVID-19 पॉजिटिव, 2000 लोग होम क्वारंटाइन


COVID-19: संक्रमित मरीज पहले ऑटो चलाता था, लेकिन Lockdown की वजह से वह सब्जी बेचने लगा था.

मुलतापी समाचार

आगरा। ताज नगरी आगरा में कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण विकराल रूप लेने लगा है. जिस तरह से जिले में संक्रमण फ़ैल रहा है उससे कम्युनिटी स्प्रेड का खतरा भी उत्पन्न हो रहा है. शहर के फ्रीगंज के चमन लाल बाड़े में सब्जी बेचने वाले में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद जिला प्रशासन व स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मचा हुआ है. आनन-फानन में प्रशासन ने चमन लाल बाड़ा इलाके को सील करते हुए करीब 2000 लोगों को होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) कर दिया है.

बताया जा रहा है कि संक्रमित मरीज ऑटो चलाता था, लेकिन लॉकडाउन की वजह से वह सब्जी बेचने लगा था. बीमार पड़ने पर जब उसका कोरोना टेस्ट हुआ तो वह पॉजिटिव पाया गया. अब जिला प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती उसके संपर्क में आए लोगों को ट्रेस करने की है. फिलहाल इलाके के 2000 लोगों को एहतियातन क्वारंटाइन कर दिया गया है, लेकिन सबसे बड़ी चुनौती यह है कि वह संक्रमित कैसे हुआ. सवाल यह भी है कि अगर वह ऑटो चलाने के दौरान संक्रमित हुआ तो वह सवारी कौन थी? उसे खोजना भी एक चुनौती है. साथ ही वह किन-किन लोगों के सम्पर्क में आया इस पर भी जिला प्रशासन को माथापच्ची करनी होगी.

आगरा में सर्वाधिक 241 मरीज
आगरा उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा कोरोना हॉटस्पॉट के रूप में उभरकर सामने आया है. शनिवार को संक्रमण के 45 नए मामले आने के साथ जिले में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 241 हो गई है. ताज नगरी में मिले नए मरीज कोरोना मरीजों के संपर्क में आए थे. वहीं, आगरा में कोरोना वायरस संक्रमण से अब तक 5 लोगों की मौत हुई है. डॉक्टर्स कहते हैं हालात कम्यूनिटी संक्रमण जैसे हो सकते हैं. आपको बता दें कि आगरा में सबसे पहले शू कारोबारी का परिवार संक्रमित हुआ था. इसके बाद धीरे-धीरे कोरोना पाजिटिव की संख्या बढ़ रही थी. अचानक जमातियों ने शहर को डरा दिया, जबकि अब तक 78 जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं. इसके अलावा सार्थक हॉस्पिटल, एसआर हॉस्पिटल और फिर पारस हास्पिटल ने हालात बिगाड़ दिए. पारस में अब तक 70 से ज़्यादा कोरोना पाजिटिव मिले हैं और जो 45 की नई लिस्ट आयी है उसमें भी पारस के 21 कोरोना मरीज़ शामिल हैं.

आगरा में लॉकडाउन का पालन नहीं हो रहा
ज़िला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमा दिन रात युद्ध स्तर पर लगा ही था कि एसएन मेडिकल कॉलेज के 3 डॉक्टर और 4 वार्ड ब्‍वॉय कोरोना पॉजिटिव पाए गए. एक वार्ड बॉय के ज़रिए 5 लोग संक्रमित हुए. आगरा में लगातार विस्फोटक हालात के बीच पल-पल सीएम योगी ख़बर ले रहे हैं. हालांकि, राहत की बात ये है कि जो नए मामले आए हैं, उनमें ज़्यादातर पहले से क्‍वारंटाइन हैं. आगरा प्रशासन की तमाम कोशिशों के बाद भी शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या पर लगाम नहीं लग रही है, जबकि इंटेलिजेंस की रिपोर्ट के मुताबिक आगरा में लॉकडाउन का पालन नहीं हो रहा है, इस वजह से हालात और खराब होते जा रहे हैं.

अयोध्या / रामलला के दर्शन करेंगे कॉमनवेल्थ राज्यों के स्पीकर व सभापतिदेशों का दल फेसले के बाद पहला अंतरराष्ट्रीय दल दर्शन करने आयेगा


After the decision of the Supreme Court, Ayodhya will go to the Parliamentary Committee representatives of the Commonwealth countries; Will visit Ramlala

18 जनवरी को आने वाले इस दल में प्रतिनिधियों के साथ राज्यों के स्पीकर व सभापति भी शामिल 16 से 19 जनवरी को लखनऊ में कॉमनवेल्थ देशों के भारतीय ससंदीय प्रतिनिधियों का सम्मेलन है

Multapi Samachar

लखनऊ. 18 जनवरी को कॉमनवेल्थ देशों के प्रतिनिधियों के साथ विभिन्न राज्यों के स्पीकर व सभापति अयोध्या का भ्रमण करने जाएंगे। वह रामलला के भी दर्शन करेंगे। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद अयोध्या जाने वाला यह पहला अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल होगा। संसदीय सम्मेलन में भाग लेने वाले सभी सदस्यों को अयोध्या भ्रमण का कार्यक्रम पहली बार रखा गया है। भ्रमण के दौरान सदस्यों को अयोध्या की पौराणिकता से रूबरू कराया जाएगा।

लखनऊ में होगा सम्मेलन, ओम बिड़ला करेंगे अध्यक्षता
उप्र में कॉमनवेल्थ देशों के भारतीय ससंदीय प्रतिनिधियों का सम्मेलन 16 से 19 जनवरी के दौरान लखनऊ में प्रस्तावित है। सम्मेलन की अध्यक्षता लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला करेगें। राज्यसभा के उपसभापति भी शामिल होगें। सम्मेलन में भारतीय क्षेत्र के देश सभी राज्यों की विधानसभाओं के प्रतिनिधियों के साथ कॉमनवेल्थ देशों के सभी 7 अन्य क्षेत्रीय समितियों के 2 या 3 संसदीय प्रतिनिधि ‘आब्जर्बर’के रूप में शामिल होगें।

लोकसभा-राज्यसभा की टीम शामिल होगी
इस सम्मेलन में देश के राज्यों के विधानसभाओं के अध्यक्ष व विधान परिषदों के सभापति व सचिव भी शामिल होगें। लोकसभा व राज्यसभा के 25-25 सदस्यों की टीम भी होगी। यह आयोजना देश की लोकसभा द्वारा आयोजित होना है। उप्र विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे इसके सचिव बनाए गए है।

18 जनवरी को है अयोध्या भ्रमण का कार्यक्रम
प्रतिनिधियों के बीच 16 से 19 जनवरी को संसदीय प्रणाली के विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श कार्यक्रम के साथ 18 जनवरी को अयोध्या भ्रमण का भी कार्यक्रम तय किया गया है। कुल 141 सदस्यों में से 120 ने लखनऊ आने की सहमति दे दी है। इस टीम में कॉमनवेल्थ क्षेत्रीय उपसमिति के लगभग 20 विदेशी प्रतिनिधि भी होगें।

134 साल पुराने मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया था फैसला

अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद पर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया था। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने सर्वसम्मति से यह फैसला सुनाया था। इसके तहत अयोध्या की 2.77 एकड़ की पूरी विवादित जमीन राम मंदिर निर्माण के लिए दे दी गई।

तीन महीने में ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया था

शीर्ष अदालत ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए 3 महीने में ट्रस्ट बने और इसकी योजना तैयार की जाए। चीफ जस्टिस ने मस्जिद बनाने के लिए मुस्लिम पक्ष को 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन दिए जाने का फैसला सुनाया, जो कि विवादित जमीन की करीब दोगुना है। चीफ जस्टिस ने कहा कि ढहाया गया ढांचा ही भगवान राम का जन्मस्थान है और हिंदुओं की यह आस्था निर्विवादित है।

AMU की मस्जिद का मौलवी गिरफ्तार 9 साल की बच्ची के साथ किया रेप


मस्जिद के मौलवी पर 9 साल की नाबालिग के साथ डरा-धमकाकर दुष्कर्म करने का मामला

9 साल की बच्ची से रेप के आरोप में AMU की मस्जिद का मौलवी गिरफ्तार
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी मौलवी मोहम्मद अफजाल पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

मुलतापी समाचार

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की मस्जिद में नमाज पढ़ाने वाले मौलाना मोहम्मद अफजाल पर 9 साल की नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म का आरोप लगा है.

मौलाना नाबालिग को घर पर कुरान और उर्दू पढ़ाने जाता था

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की मस्जिद के मौलवी पर 9 साल की नाबालिग के साथ डरा-धमकाकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. मामले में पुलिस में महिला थाने में मुकदमा दर्ज कर आरोपी मौलवी को गिरफ्तार कर लिया है.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की मस्जिद में नमाज पढ़ाने वाले मौलाना मोहम्मद अफजाल पर 9 साल की नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म का आरोप लगा है. बताया जा रहा है मौलाना नाबालिग को घर पर कुरान और उर्दू पढ़ाने जाता था. इस दौरान मौलाना ने मासूम को डरा-धमकाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. जब घटना की जानकारी परिजनों को हुई थी तो पीड़ित बच्ची की मां ने तहसील दिवस में शिकायत दर्ज कराई. शिकायत के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी मौलवी के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्यवाई शुरू की और आरोपी मौलवी को गिरफ्तार कर लिया.

मामले में एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि एएमयू में मोउजिन के पद पर तैनात मौलवी मोहम्मद अफजाल द्वारा 9 साल की नाबालिग के साथ डरा-धमकाकर दुष्कर्म के मामले में मुकदमा दर्ज कर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है.

मुलतापी समाचार न्‍युज नेटवर्क