Tag Archives: कृषि विभाग

कृषि विज्ञान केंद्र पर बकरियों की उन्नत नस्ल सिरोही होंगी उपलब्ध


बकरियों की उन्नत नस्ल की कृषि विज्ञान केन्द्र पर उपलब्धता

बैतूल,  

मुलतापी समाचार

कृषि विज्ञान केन्द्र में इन  दिनों बकरियों की उन्नत नस्ल ‘‘सिरोही’’ जिले में बकरियों की नस्ल सुधार कार्यक्रम हेतु लाई गई है। इस नस्ल की विशेषता यह है कि यह द्विउद्देश्यीय नस्ल है। इसकी नस्ल की  बकरियां 1-1.5 लीटर दूध प्रतिदिन तो देती ही है, साथ ही इसका वजन काफी होता है। अत: यह नस्ल दूध एवं मांस दोनों के लिए उपयोगी है। यह नस्ल राजस्थान सिरोही जिले की होने की वजह से यह नाम रखा गया है। यह नस्ल दिखने में काफी सुंदर होती है। मुख्यत: यह हिरण के समान चितकबरी होती है। दूसरा यह कि इस  नस्ल का एक वर्ष में ही 100 किलो से अधिक वजन का हो जाता है। इस नस्ल की बकरियां साल में दो से तीन बच्चें जनती हैं।

कृषि विज्ञान केंद्र के कार्यक्रम समन्वयक  डॉ विजय वर्मा ने बताया कि पूर्व में जिले के किसानों को इस नस्ल की बकरियों को लेने के लिए कीरतपुर जाना पड़ता था, लेकिन अब कृषि विज्ञान केन्द्र बैतूल में अगले वर्ष तक यहां के किसानों को उपलब्धता आरंभ हो जाएगी। साथ ही नस्ल सुधार हेतु जो किसान अपनी बकरियों को सिरोही नस्ल के बकरे से क्रास (प्रजनन) करवाना चाहते हैं, यह सुविधा भी केन्द्र आने वाले समय में आरंभ कर देगा।

किसान न्यूज- मानसून आने के पस्चात ही करें बुआई- कृषि विभाग


Multapi Samachar

मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश में 20से 30जून तक मानसून आने की संभावना है। अभी फसलों की बुआई न करें, मानूसन आने के पश्चात ही बुआई करें। अभी फसलों की बुआई करने के बाद यदि 10 से 15 दिनों तक वर्षा नहीं होती है, तो फसलों का अंकुरण प्रभावित होकर पुनः बुआई की स्थिति निर्मित हो सकती है। ये फसलें कम अवधि की होने के कारण अभी बोनी करते है, तो 3 माह में पककर तैयार हो जाएगी अर्थात सिंतबर में इनकी कटाई होगी। अगर वर्षा जारी रही, तो इनकों समेटने में भारी परेशानी होगी। जिले में सभी क्षेत्रों में पर्याप्त वर्षा होने पर ही खरीफ फसलों की बुआई करें।।
कृषि विभाग मध्यप्रदेश सरकार