Tag Archives: कॉंग्रेस पार्टी के विद्यायक का आया बयान

कांग्रेस के पास गांधी परिवार के अलावा विकल्प नही है के जवाब पर कहा


विकल्प का कोई प्रश्न ही नही है जबसे सोनिया जी अध्यक्ष बनी तबसे ही वह वर्किंग कमेटी के मश्वरे से ही सारे कार्य करती है। हमारी पार्टी की पहचान सोनिया जी से जुड़ी है।

राहुल गांधी पर कहा

राहुल गांधी ने वो किआ जो सीनियर ने कहा, सबसे से राय लेकर ही राहुल जी ने फैसला किया है। लोगो की ये गलत धारणा है कि राहुल अपने मन से बोलते है।

खत लिखे जाने को लेकर कहा

हमारी प्रजातंत्रिल पार्टी है। BJP में कार्य समिति की नही चलती सिर्फ 1 व्यक्ति की चलती है। मध्यप्रदेश की भी कार्य समिति बनना चाहिये ओर उसका जो फैसला हो वो अध्यक्ष को लागू करना चाहिये।

कमलनाथ को लेकर उठ रहे सवालों के जवाब में कहा

मैं सारे सीनियर लीडर का सम्मान करता हूँ। मेरा मानना है की एक व्यक्ति सब कुछ नही चला सकता। इसलिए एक कार्य समिति प्रदेश व ज़िले में भी होना चाहिए।

आगामी चुनाव को लेकर कहा

2024 में हम केंद्र ने सरकार बनाएंगे बस हमे अपनी कार्यसमिति में बदलाव लाना होगा।मध्यप्रदेश में भी हम सरकार बनाएंगे।

ग्वालियर में हो रहे सदस्यता अभियान पर भी कसा तंज

भाजपा कह रही है 75000 कार्यकर्ता भाजपा में गए तो में पूछना चाहता हु की वो हज़ारो लोग कोन थे जो बाहर प्रदर्शन कर रहे थे।

आगामी उपचुनाव को लेकर कहा

मेरा अनुमान है हम 18 से 20 सीट जीतेंगे। शिवराज जी पूरे प्रदेश की बाड़ का निरीक्षण करने के बजाय ज्योतिरादित्य पर ही टिके हुए है। शिवराज जी की भूल होगी अगर वह ज्योतिरादित्य सिंधिया के दम पर चुनाव लड़ें।

बिसाहूलाल सिंह के सवालों का दिया जवाब

बि साहूंलाल खुद अपनी चिंता करे उनका जीतना ही अब मुश्किल है।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को ही कांग्रेस अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष बनाने के सवाल पर कहा

एक व्यक्ति का कोई सवाल नहीं है। कमलनाथ जी ऐसे व्यक्ति है कि उनकी कार्यशैली सबको साथ लेकर चलने की है।

BJP में जाने के सवालों पर कहा

मैं चुनाव लड़ने से पहले BJP में गया था, सिंधिया चुनाव बाद भाजपा में गए है। मन मैने दल विधायक या सांसद बनाकर नही बदला था।

राजा महाराजा के सवालों पर कहा

हमने झांसी की रानी का साथ दिया है। हमारी भावना देश हित की रही है। शिवराज ओर महाराज की जोड़ी की दुदर्शा होगी चुनाव के बाद।

चांचौड़ा को जिला बनाये जाने पर कहा

अभी सरकार देख रही है कि उपचुनाव में क्या होगा। शिवराज जी जब सत्ता में नही थे तब बोले थे ज़िला बनाने के लिए। लेकिन वह उपचुनाव में अब ग्वालियर की ज़मीन खिसक गई है। जनता विरोध में आगई है।