Tag Archives: छिन्‍दवाडा

देवगढ़ की ऐतिहासिक बावलियों और कुंओं का मनरेगा के तहत जीर्णोध्दार कर धरोहरों को सहेजने और जल-संरक्षण का नवाचार


देवगढ़ की ऐतिहासिक बावलियों और कुंओं का मनरेगा के तहत जीर्णोध्दार कर धरोहरों को सहेजने और जल-संरक्षण का नवाचार

छिन्दवाड़ा ज़िले से लगभग 40 किलोमीटर दूर मोहखेड़ विकासखंड के देवगढ़ गाँव में सुरम्य पहाड़ियों में देवगढ़ का किला स्थित है। मध्य भारत में गोंडवाना साम्राज्य के वैभव और समृध्दि से जुडा इसका इतिहास आज भी अपनी गौरवशाली विरासत को बयान करता है। यहां तत्कालीन परिस्थिति अनुसार जल संरक्षण की अनेक संरचनायें देखने को मिलती है, लेकिन समय के दौर के साथ ये जल संरचनायें जीर्ण-शीर्ण अवस्था में है। कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गजेंद्र सिंह नागेश के मार्गनिर्देशन में एकीकृत जल ग्रहण प्रबंधन मिशन और मनरेगा के अंतर्गत इन जल संरचनाओं का जीर्णोध्दार कर उन्हें मूल स्वरूप में ही नया रूप प्रदान करने की कार्ययोजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। नवाचार के अंतर्गत इस कार्ययोजना के पूर्ण होने से जहां देवगढ़ की ऐतिहासिक बावलियों का जीर्णोध्दार होगा, वहीं ऐतिहासिक धरोहर को सहेजने और जल संरक्षण का कार्य हो सकेगा।


परियोजना अधिकारी एकीकृत जल ग्रहण प्रबंधन मिशन सुश्री नीलू चौबितकर द्वारा जानकारी दी गई है कि देवगढ़ का किला व उसके आसपास 900 बावली और 800 कुयें है जिन्हें तत्कालीन शासकों ने बनवायें थे । अभी तक 46 बावलियों और 12 कुओं की खोज की जा चुकी है। निर्धारित कार्ययोजना में मनरेगा के अंतर्गत प्रथम चरण में 29.18 लाख रूपये की लागत से 7 बावलियों का जीर्णोध्दार कार्य किया जा रहा है तथा व्दितीय चरण में 79.35 लाख रूपये की लागत से 14 बावलियों का जीर्णोध्दार कार्य किया जायेगा । इस कार्य से जहां मनरेगा के अंतर्गत मजदूरों को कार्य मिल रहा है और उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो रही है, वहीं देवगढ़ की जल संरचनायें सुधरने से इस क्षेत्र में जल संरक्षण की दिशा में एक उल्लेखनीय कार्य होगा जिससे भविष्य में खेती करने में मदद मिलेगी और पीने के लिये भी पानी की उपलब्धता रहेगी ।

प्रदीप डिगरसे बैतूल

सहेली के साथ छत पर पैर लटाकाए बैठी थी लड़की तभी भाई ने की ऐसी शैतानी और फिर… देेखें Video


भाई की शैतानी की वजह से लड़की छत से नीचे गिर जाती है.

मुलतापी समाचार

भाई एक कुर्सी ले आया और नीचे कुर्सी रख कर उस पर चढ़ गया और बहन के पैरों में गुदगुदी करने लगा. इस वजह से बच्ची का बैलेंस बिगड़ गया और वह सीधे स्कूटर से टकराती हुई जमीन पर गिर पड़ी. 

छ‍िन्‍दवाडा: सोशल मीडिया पर यूं तो अक्सर ही कई तरह के वीडियो वायरल होते रहते हैं जो लोगों को पसंद भी आते हैं और उनका मनोरंजन भी होता है. हालांकि, इसी बीच एक वीडियो सामने आया है, जहां एक बच्ची अपनी दोस्त के साथ कमरे के बाहर छत पर बैठे हुए नजर आ रही है लेकिन तभी वह स्कूटर से टकराते हुए नीचे गिर जाती है. हालांकि, इस घटना में बच्ची को किसी तरह की चोट या खरोंच भी नहीं आई. 

दरअसल, यह घटना मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के छिंदवाड़ा में स्थित छोटे बाजार इलाके की है. यहां एक बच्ची अपनी सहेली के साथ पहली मंजिल पर कमरे के बाहर छत पर बैठी थी और तभी उसका छोटा शैतानी करने लगा.

भाई एक कुर्सी ले आया और नीचे कुर्सी रख कर उस पर चढ़ गया और बहन के पैरों में गुदगुदी करने लगा. इस वजह से बच्ची का बैलेंस बिगड़ गया और वह सीधे स्कूटर से टकराती हुई जमीन पर गिर पड़ी. 

हालांकि, इस घटना में बच्ची को किसी भी तरह की कोई चोट नहीं आई. 

छिंदवाड़ा में कोरोना संक्रमित की मौत से जिले में डर का माहोल, खोज जारी


बस यात्रा कर पहुंचा था छिंदवाडा. राहुल बस

मुलतापी समाचार

बैतूल। छिंदवाड़ा जिले के कोरोना संक्रमित मरीज की मौत होने की खबर से जिले के प्रशासन में भी खलबली मच गई है। प्रशासन को मृतक के संबंध में यह जानकारी मिली कि वह इंदौर से राहुल बस में सवार होकर बैतूल-मुलताई के रास्ते छिंदवाड़ा गया था। इस जानकारी के बाद प्रशासन ने बस की बुकिंग लिस्ट के आधार पर चिचोली के पास एक गांव के 2 लोगों का पता लगाया जिन्होंने उसी दिन बस में सफर किया था। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पहुंची और दोनों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया एवं सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। बस में बुकिंग के अलावा बीच रास्ते से कितने लोग सवार हुए और कहां पर उतरे होंगे इसे लेकर प्रशासन चिंतित हो गया है।

Chhindwara: 9 संदिग्धों के सेम्पल जांच के लिए जबलपुर लैब भेजे गए


कोरोना वायरस के मरिजों के फाइल फोटो

मुलतापी समाचार Chhindwara News

छिंदवाड़ा। शहर के अमन मोहल्ला स्थित एक धार्मिक स्थल में छत्तीसगढ़ के कोरबा से आए लोगों का मंगलवार को स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान 9 लोग संदिग्ध मिले है। एहतियात के तौर पर इन सभी लोगों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में लाकर भर्ती कराया गया है। आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कराए गए सभी लोगों के सेम्पल के लिए गए है। अस्पताल प्रबंधन द्वारा रात को ही सेम्पल जांच के लिए जबलपुर मेडिकल कॉलेज भेजे गए।


अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि रविवार को अमन मोहल्ला स्थित एक धार्मिक स्थल में कुछ लोगों के ठहरने होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद यहां स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजकर दस लोगों की जांच कराई गई। यहां छत्तीसगढ़ के कोरबा निवासी 9 लोग मिले है। जिनका स्वाव और ब्लड सेम्पल जांच के लिए जबलपुर मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। गुरुवार को सेम्पल की जांच रिपोर्ट आने तक एहतियात के तौर पर सभी जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। सभी लोग पिछले 10 से 12 दिनों से धार्मिक स्थल में ही रह रहे थे। जिसका रिकार्ड पुलिस और प्रशासन के पास भी नहीं था।

बड़कुही से तीन को भेजा जिला अस्पताल-
बड़कुही पुलिस ने मंगलवार को तीन लोगों को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा है। पुलिस ने बताया कि परिवार का मुखिया दिल्ली में आयोजित बैठक में शामिल होकर बीती 10 मार्च को बड़कुही लौटा था। एहतियात के तौर पर पुलिस ने दिल्ली से लौटे शख्स, उसकी पत्नी और एक अन्य को स्वास्थ्य जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा है।


सौंसर से एक संदिग्ध को भेजा जिला अस्पताल-
सौंसर के गोटी गांव से एक संदिग्ध को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। वह चेन्नई की एक कंपनी में काम करता था। 20 दिन पूर्व वह अपने गांव आया था। पिछले 12 दिनों से बीमार संदिग्ध को होम आईसोलेशन में रखा गया था। जिसे एहतियात के तौर पर मंगलवार को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। चिकित्सकों की टीम द्वारा संदिग्ध की जांच की जा रही है।


दिल्ली से लौटे लोगों को तलाश रही पुलिस-

दिल्ली में एक धार्मिक संगठन की बैठक में शामिल होने प्रदेश से भी कई लोग गए थे। बताया जा रहा है कि पुलिस और प्रशासन यह जानकारी जुटा रहा है कि छिंदवाड़ा जिले से कितने लोग इस बैठक में शामिल होने गए थे। ऐसे लोगों की तलाश कर पुलिस उनका स्वास्थ्य परीक्षण करा रही है। मंगलवार को दिल्ली से लौटे बड़कुही के एक शख्स और उसके पूरे परिवार का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है।

सामूहिक विवाह सम्मेलन गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल


छिन्दवाड़ा – नव-दंपत्ति देश की संस्कृति, परम्परा व आदर्शों को अपने जीवन में आत्मसात करने का संकल्प लें-मुख्यमंत्री श्री नाथ

छिन्दवाड़ा में मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह एवं दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना अंतर्गत के सामूहिक विवाह सम्मेलन में 3 हजार 353 जोड़ों का विवाह संपन्न।

सामूहिक विवाह सम्मेलन गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल

“विविधता में एकता की भावना समाहित करने वाले इस देश में विभिन्न धर्म, जाति, संप्रदाय के लोग आपसी भाई-चारे के साथ रहते है। यह देश की सबसे बड़ी शक्ति है। यही हमारी अमूल्य धरोहर है। इसी परम्परा का निर्वहन करते हुए विभिन्न धर्म, जाति के लोग आज इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम में सम्मिलित हो रहे हैं।” ये विचार प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आज पुलिस ग्राउंड छिंदवाड़ा में मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह एवं दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत सामूहिक विवाह सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन में आकर मैं बेहद खुश हूं। उन्होंने 3 हजार 353 जोड़ों को नये जीवन की शुरूआत के लिए बधाई देते हुए कहा कि इस यात्रा में नव-दंपत्ति यह संकल्प लें कि वे सच्चाई का साथ देंगे, समाज के मूल्यों को बनाये रखेंगे और देश की संस्कृति, परम्परा व आदर्शों को अपने जीवन में आत्मसात करेंगे।
मुख्यमंत्री श्री नाथ ने कहा कि इस सम्मेलन में हिंदू, मुस्लिम, बौध्द परम्पराओं- रस्मों के अनुसार विवाह कार्यक्रम किये जा रहे हैं। उन्होंने 4 दशक पहले शुरू हुई उनकी यात्रा का उल्लेख करते हुए कहा कि छिंदवाड़ा को किस तरह आने वाली पीढ़ी के लिए विकसित किया जाये, यह उनका स्वप्न था। वर्तमान युवा पीढ़ी इंटरनेट से जुड़ी है। ज्ञान ही सबसे बड़ी शक्ति है जिसका उपयोग कर जीवन को सफल बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि 40 साल पहले के छिंदवाड़ा का परिदृश्य वर्तमान छिंदवाड़ा से काफी भिन्न था। तत्कालीन समय में छिंदवाड़ा में पेयजल, सड़क, विद्युत आपूर्ति आदि की समस्याएं थी। वर्तमान समय में जिले के युवाओं को किस प्रकार रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जाये, आम जन को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता और शिक्षा के क्षेत्र का विकास मुख्य चुनौती है। इस चुनौती से निपटने के लिए युवा वर्ग को आगे आना होगा, तभी बेहतर एवं विकसित छिंदवाड़ा के माध्यम से प्रदेश एवं राष्ट्र निर्माण संभव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि जिले के लोगों ने हमेशा सच्चाई का साथ दिया है। आपके स्नेह, विश्वास और शक्ति से ही छिंदवाड़ा की नई पहचान बनती रहेगी। उन्होंने बताया कि वर्ष 2014 में जिले में मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति हुई थी और उनके द्वारा तत्कालीन समय में माचागोरा बांध के माध्यम से किसानों के लिए सिंचाई सुविधाओं को बेहतर बनाने का प्रयास किया गया था। वर्तमान में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाया जा रहा है। अब लोगों को अपने इलाज के लिए नागपुर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी, बल्कि अब स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए मरीज नागपुर से छिंदवाड़ा की तरफ रूख करेंगे। कृषि विश्वविद्यालय, प्रशिक्षण केन्द्र, छिंदवाड़ा यूनिवर्सिटी शुरू हो चुकी है। जिले में रेलवे सुविधाएं, स्किल सेंटर विकास का प्रतीक है। यह सभी जिले के विकास का नया इतिहास बनाएंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की क्रय शक्ति बढ़ाने के लिए कृषि क्षेत्र को मजबूती प्रदान कर नई क्रांति लाई जाएगी। आपके इस विश्वास पर खरे उतरेंगे और वचनपत्र के अनुसार सारे वचन निभाये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री नाथ ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना, इंदिरा गृह ज्योति योजना का भी विशेष उल्लेख किया।


सांसद श्री नकुलनाथ ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें खुशी है कि सरकार ने अपने वचन को बखूबी निभाया है। पेंशन सहायता, कन्यादान विवाह की राशि को दोगुनी की गई है। दिव्यांग जोड़ों को एक लाख रूपये, दोनों दिव्यांग जोड़ों को दो लाख रूपये एवं सामान्य जोड़ों को 51 हजार रूपये की राशि प्रदान की जा रही है। गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल हो चुके इस सम्मेलन को मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के प्रयासों से ही सफलतापूर्वक संपन्न किया गया है। उन्होंने इसके लिये जिला प्रशासन और नगर निगम को भी बधाई दी।


प्रदेश के सामाजिक न्याय, नि:शक्तजन और अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया ने कहा कि सरकार बनते हुये मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने किसान फसल ऋण माफी की फाईल पर हस्ताक्षर किये और उसके बाद कन्यादान विवाह की राशि दुगुनी की। कन्यादान विवाह की राशि पारदर्शिता के साथ वधुओं के खाते में पहुंचाई जा रही है। विगत एक वर्ष में प्रदेश विकास के मॉडल के रूप में उभरकर सामने आया है।

प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुखदेव पांसे ने अपने संबोधन में कहा कि आज इस ऐतिहासिक दिन में सबसे बड़ा पुण्य का कार्य प्रदेश सरकार के मुखिया के नेतृत्व में संपन्न हो रहा है। वर्तमान सरकार में कृषकों के हितों, स्वास्थ्य सुविधाओं, युवाओं को रोजगार आदि को ध्यान में रखा जा रहा है। विद्यालयीन छात्र-छात्राओं को एक साल के इस कार्यकाल में अनेक सौगातें प्रदान की गई है। विकास को लेकर छिन्दवाड़ा अब प्रदेश की दूसरी राजधानी बनने जा रहा है। कार्यक्रम की शुरूआत में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गजेन्द्र सिंह नागेश द्वारा स्वागत भाषण प्रस्तुत किया गया।


सामूहिक विवाह सम्मेलन गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल- मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के मुख्य आतिथ्य में पुलिस ग्राउंड में आयोजित इस सामूहिक विवाह सम्मेलन में 3 हजार 353 जोड़ो का विवाह संपन्न हुआ जिसमें 114 दिव्यांग जोड़े भी शामिल थे। मुख्यमंत्री श्री नाथ को गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड साउथ एशिया के हेड श्री आलोक कुमार ने छिन्दवाड़ा के सामूहिक विवाह सम्मेलन के गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड का प्रमाण पत्र प्रदान किया। श्री आलोक कुमार ने बताया कि इसके पूर्व सिंगरोली जिले में 2 हजार 290 जोड़ो का विवाह संपन्न हुआ था। छिन्दवाड़ा में आयोजित सामूहिक विवाह सम्मेलन इस रिकॉर्ड को ध्वस्त किया है।


कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री श्री नाथ और अन्य अतिथियों द्वारा दिव्यांग युवक-युवती परिचय पुस्तिका का विमोचन भी किया गया। इस पुस्तिका में 600 जोड़ो की जानकारी संकलित है। कार्यक्रम में पुरोहितों द्वारा मंत्रोच्चारण कर विवाह की रस्म पूरी की गई। मुख्यमंत्री श्री नाथ वर-वधुओं के बीच पहुंचकर व उन पर पुष्पवर्षा कर उन्हें नये जीवन की बधाई और शुभकामनायें दी।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री श्री दीपक सक्सेना, राज्य कृषि सलाहकार परिषद के सदस्य श्री विश्वनाथ ओकटे, विधायकगण सर्वश्री सुजीत चौधरी, निलेश उइके, सुनील उइके, कमलेश शाह व विजय चौरे, अन्य जनप्रतिधिगण, मुख्यमंत्री के ओ.एस.डी.श्री संजय श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के उप सचिव श्री अनुराग सक्सेना, संभागीय आयुक्त श्री रविन्द्र कुमार मिश्रा, डी.आई.जी.श्री मिथिलेश शुक्ला, कलेक्टर डॉ.श्रीनिवास शर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री विवेक अग्रवाल, अतिरिक्त कलेक्टर श्री राजेश शाही, नगर निगम आयुक्त श्री इच्छित गढ़पाले और राजस्व अनुविभागीय अधिकारी श्री अतुल सिंह सहित वर-वधु व उनके परिजन, पत्रकार एवं बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे।

छिन्दवाडा में मुख्य गणतंत्र दिवस समारोह पर परेड सलामी लेते हुयें मंत्री पांसे


मुलतापी समाचार

छिंदवाड़ा -: आज छिन्दवाडा में मुख्य गणतंत्र दिवस समारोह पर मध्यप्रदेश शासन में पीएचई मंत्री एवं छिन्दवाडा प्रभारी मंत्री सुखदेव पांसे परेड सलामी लेते हुयें.

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री सुखदेव पांसे ने प्रदेश के नागरिकों को गणतंत्र दिवस की बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। पांसे ने अपने शुभकामना संदेश में पानी की बचत पर विशेष ध्यान देने के लिए नागरिकों का आह्वान किया है।

जुन्‍नारदेव में पोषण मिशन अंंतर्गतफिट इंडिया सेमिनार का आयोजन


सौभाग्य फिटनेस जिम के संचालक योगेश राठौर एवं योग प्रशिक्षक राजीव श्रीवास्तव ने किया संबोधित

विकासखंड समन्वयक कपिल नागरे के साथ-साथ पर्यवेक्षक, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता महिलाएं एवं किशोरी बालिका

छिंदवाड़ा मुलतापी समचार। परियोजना जुन्नारदेव में पोषण मिशन अंतर्गत फिट इंडिया एवं पोषण सेमिनार का आयोजन स्थानीय जनपद सभाकक्ष में किया गया। इस सेमिनार को सुबह के फिटनेस जिम के संचालक योगेश राठौर एवं योग प्रशिक्षक राजू श्रीवास्तव ने संबोधित किया।


योगेश राठौर ने फिटनेस के तीन मंत्र, व्यायाम पोषण एवं आराम के बारे में विस्तार से बताया साथ ही सूक्ष्म व्यायाम एवं मोटापा कम करने हेतु व्यायाम ओं का सजीव प्रशिक्षण आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं किशोरी बालिकाओं को दिया। राजीव श्रीवास्तव ने अष्टांगिक योग के बारे में विस्तार से बताया तथा प्राणायाम एवं योगी जांगिग का सजीव प्रशिक्षण दिया। दोनों ही वक्ताओं ने जीवन में फिटनेस के महत्व पर प्रकाश डाला तथा जीवन में शारीरिक स्वास्थ्य के साथ मानसिक स्वास्थ्य, आंतरिक स्वास्थ्य एवं आध्यात्मिक स्वास्थ्य का ध्यान रखने हेतु नुक्से बताएं तथा तनाव मुक्त जीवन जीने की कला से अवगत कराया। परियोजना अधिकारी प्रेरणा मर्सकोले को लेने पोषण के साथ व्यायाम का महत्व बताया गया। दोनों ही वक्ताओं ने भविष्य में भी आवश्यक सहयोग एवं प्रशिक्षण सत्र आयोजित करने हेतु आश्वासन दिया गया। कार्यक्रम का संचालन परियोजना समन्वयक अमित चतुर्वेदी ने किया। कार्यक्रम के परियोजना जामई 2 के अधिकारी प्रेम नारायण गढ़ेेवाल एवं विकासखंड समन्वयक कपिल नागरे के साथ-साथ पर्यवेक्षक, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता महिलाएं एवं किशोरी बालिका बड़ी संख्या में उपस्थित थी।

मनमोहन पंवार (संपादक)

मुलतापी समाचार

9753903839

multapisamachar@gmail.com


मुलताई से छिंदवाड़ा मुख्य मार्ग पर नहीं है स्पीड ब्रेकर, होते रहते है भयानक हादसे के शिकार


स्पीड ब्रेकर नहीं होने से बड़ी परेशानी।

दुनावा। मुलतापी समाचार

मुलताई -छिंदवाड़ा मुख्य्मार्ग जिले के सबसे व्यस्ततम मार्गो में से हैं जिस पर भारी भरकम वाहन और बसे भी चलती है। इन वाहनों के बीच गांव से तेजी से गुजरने से दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। गांव के बीच से गुजरने वाले मुख्य मार्ग पर कोई गति अवरोधक या गति सीमा बोर्ड नहीं है, जिससे आए दिन दुर्घटना होती हैं। दुनावा ग्राम के बीच से गुजरने वाले मुलताई से छिंदवाड़ा मुख्य्मार्ग पर आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं। मार्ग से 50 से 100 फीट की दूरी पर स्कूल व कालेज हैं। बाजार भी मुख्य मार्ग से ही सटा हुआ है।प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं मुलताई से सुखदेव पांसे के मंत्री बनने के बाद से मार्ग पर आवागमन आधिक हो गया है। इसमें कई बार मंत्रियों के काफिले और बड़े अधिकारियों की गाड़ियां भी बिना किसी गति सीमा का पालन किये बिना गुजरते देखे जा सकते हैं।

पातालकोट एक्सप्रेस, फिरोजपुर तक जायेगी, छत्तीसगढ़ से अमृतसर कोच हटेगा


बैतूल। मुलतापी समाचार

छिंदवाड़ा से सराय रोहिल्ला तक चलने वाली पातालकोट एक्सप्रेस मई महीने से फिरोजपुर तक चलेगी। इसके अलावा छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में आमला से लगने वाला अमृतसर कोच भी लगना बंद हो जाएगा, इससे रेलवे का समय बचने के साथ ही यात्रियों को भी घंटों इंतजार नहीं करना होगा।

अभी छिंदवाड़ा से सराय रोहिल्ला तक पहुंचने के बाद पातालकोट एक्सप्रेस को 2-3 घंटे खड़े रहने के बाद नए नंबर से सराय रोहिल्ला से फिरोजपुर तक चलाया जाता है। इससे यदि किसी को सीधे फिरोजपुर तक जाना हो तो 2 बार रिजर्वेशन चार्ज देना पड़ता है और घंटों इंतजार भी करना पड़ता है। अब इस ट्रेन को सीधे छिंदवाड़ा से फिरोजपुर तक चलाया जाएगा। इससे एक ही बार में सीधे फिरोजपुर तक रिजर्वेशन कराया जा सकेगा और 2 बार रिजर्वेशन चार्ज नहीं देना होगा। अलग बर्थ मिलने पर सराय रोहिल्ला में कोच बदलने की जरुरत भी नहीं पड़ेगी। रेलवे ने इस संबंध में 31 दिसंबर को आदेश जारी किए हैं। चूंकि 4 महीने तक अग्रिम आरक्षण कराया जा सकता है। इसलिए संभवतः 29, 30 अप्रैल तक के भी रिजर्वेशन किए जा चुके होंगे। इसलिए यह व्यवस्था 1 मई से लागू हो जाएगी। इस ट्रेन के फिरोजपुर तक पहुंचने से पेंचवैली पैसेंजर से छिंदवाड़ा से अमृतसर कोच लगकर आने और फिर आमला से यह कोच छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में लगाने की आवश्यकता भी नहीं रह जाएगी। इसलिए यह व्यवस्था भी मई से समाप्त हो जाएगी। यह अतिरिक्त कोच अब छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में ही लगेगा। इससे पूरे सफर में एक अतिरिक्त कोच छत्तीसगढ़ में मिल सकेगा। इस कोच के यात्रियों को आमला में अधिकांश समय घंटों तक इंतजार करना होता था। इसके अलावा रेलवे को भी शंटिंग के लिए एक इंजन की व्यवस्था रखना होता था। अब इन सबकी जरुरत भी नहीं पड़ेगी।

मुलतापी समाचार

कु चेतना पवार ने खेला राष्ट्रीय स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता


धर्मपुरी, तमिलनाडु में हो रही है प्रतियोगिता में हिस्‍सा लिया

कु चेतना डोंगरे ने किया घर-परिवार, प्रशिक्षण संस्थान, गांव, समाज और ज़िले का नाम रोशन

उमरानाला । स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय प्रतियोगिता अंडर-19 के अंतर्गत वॉलीबॉल में कु चेतना डोंगरे का चयन राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता के लिए हो गया है।

“वंदे मातरम”स्पोर्ट ट्रेनिंग सेंटर उमरानाला में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली छात्रा कुमारी चेतना डोंगरे धर्मपुरी, तमिलनाडु में 21 से 25 दिस. 2019 के मध्य आयोजित प्रतियोगिता में भाग लिया। उसकी टीम और उसकी सफलता के लिए शुभकामनाएं प्रेषित करने का अनुरोध है ।

Manmohan Pawar (Sampadak) Khabr News send kare WhatsApp no.- 9753903839

पत्रकार बनने का सुनहरा अवसर संपर्क करें मुलतापी समाचार 9753903839 multapisamachar.com