Tag Archives: दीपक प्रज्वलित

माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति के आह्वाण पर पूरे ताप्तीचंल में सुबह – शाम 7 बजे एक साथ हजारो दीपक पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती के नाम पर जल उठे.


कोरोना सैै‍निकों के प्रति धन्‍यवाद स्‍वरूप एवं ताप्‍ती जी के नाम जलाएं घरों में दीपक

Multapi Samachar

बैतूल, (मध्यप्रदेश). आज माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति के आह्वाण पर पूरे ताप्तीचंल में सुबह – शाम 7 बजे एक साथ हजारो दीपक पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती के नाम पर जल उठे. लोगो ने अपने घरो के पूजा घरो , घर के आंगन में लगे तुलसी के पौधे के नीचे , ताप्ती जी के छायाचित्रो एवं ताप्ती मंदिरो, में अपनी आस्था एवं के दीपक जलाए. यह क्रम माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति मध्यप्रदेश की अपील के बाद ताप्तीचंल में बसे बैतूल जिले के दस जनपदो की सभी 556 ग्राम पंचायतो के 1,473 गांवो में रहने वाली तथा बैतूल, मुलताई, चिचोली, आमला, सारनी, भैसदेही, आठनेर, बैतूल बाजार की शहरी जनता के घरो , आंगनो, पूजा स्थलो में देखने को मिली. घर की वयोवद्ध माता से लेकर छोटी बेटियों एवं बहनो ने उक्त दीपक इस सोमवार दिनांक 20 अप्रेल 2020 को प्रात: स्नान – ध्यान कर माँ पुण्य सलिला सूर्यपुत्री ताप्ती के नाम का सुबह 7 बजे एवं शाम 7 बजे जला कर माँ ताप्ती के प्रति आभार व्यक्त करते हुए जलाए. उल्लेखनीय है कि जिले के ताप्ती भक्तो की ऐसी आस्था एवं विश्वास है कि माँ पुण्य सलिला सूर्यपुत्री के तेज एवं तप के कारण बैतूल जिले में ग्रीष्म ऋतु के माह अप्रेल की 20 तारीख के बाद बैतूल जिला पूर्ण रूप में कोरोना नामक महामारी के प्रकोप से मुक्त होकर आरेंज से ग्रीन में आ जाएगा।


माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति के प्रदेश अध्यक्ष रामकिशोर पंवार के अनुसार बैतूल जिले ने प्रधानमंत्री के आह्वान पर ताली एवं थाली बजाने के आद 9 मिनट के लिए बिजली का लॉक डाउन करके दीपक जला चुके है. पहली बार जिले की जनता को एक साथ हजारो की संख्या में अपने – अपने घरो एवं आंगन में मोक्ष दायनी, संकट हरिणी, पाप नाशिनी, पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जिसके पावन जल का जिले की आधी से ज्यादा आबादी पेयजल के रूप में उपयोग करती है उस आधी आबादी को पूरी आबादी ने माँ ताप्ती का आभार मानते हुए माता रानी के सम्मान में एक दीया जलाया. जननी से बड़ी जन्मभूमि होती है और जननी और जन्मभूमि के आंचल में अमृत रूपी दुध की धारा बहाने वाली माँ सूर्यपुत्री ताप्ती के प्रति हमें सदैव कृतज्ञ रहना चाहिए. श्री पंवार ने विश्वास जताया कि बैतूल जिले की धर्म प्रेमी जनता जिले की सीमा में लगभग 250 किलो मीटर के क्षेत्र में बहने वाली माँ ताप्ती के सम्मान में दीया जलाने के लिए जिले की धर्म प्रेमी जनता का आभार माना.
Ramkishor Pawar

ग्राम हेटी के युवकों द्वारा जलाए गए मंदिरों में दिए


ग्राम हेटी में दुर्गा मंदिर पर भवानी सेवा समिति के सभी युवकों द्वारा चलाए गए दिए किया पीएम मोदी जी के आह्वान का भव्य स्वागत

कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ जंग में रविवार को फिर एक बार मध्यप्रदेश के बैतूल जिले  में भी अपनी सशक्‍त मौजूदगी दर्ज कराई है। रात नौ बजते ही 9 मिनट के लिए लोगों ने अपने घरों की बत्तियां बुझाकर दीये-कैंडिल, टॉर्च या मोबाइल लाइट से रोशनी फैलाई।

वही ग्राम हेटी के  बच्चे से लेकर युवा व महिलाएं भी घर की छत, गैलरी में दिए प्रज्वलित कर देश के प्रति अपनी जागरूकता का परिचय दिया वही कई स्थानो  में रंगोली भी बनाई गई ओर जोरदार आतिशबाजी भी की गयी मानो ऐसा एहसास हो रहा था जैसे आज दीपावली की रात हो साथ में लोगों ने शंख और झांझर बजाई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर एकजुटता दिखाने के मौके पर सभी ने  पूरे समर्पण से कोरोना से लड़ी जा रही लड़ाई में अपनी भूमिका तय कर रहे हैं। हालांकि पीएम मोदी की अपील पर इस बीच सोशल डिस्‍टेंसिंग का पूरा ध्‍यान रखा गया। इधर दीया जलाने के दौरान एल्‍कोहल वाला सेनिटाइजर इस्‍तेमाल न करने की सलाह दी गई है।

फिर मनाई दिवाली तेज हवा बुंदा बांदी के बीच मन का विश्वास नहीं डगमगाए


मुलताई में ताप्ती वार्ड में दीपक जगमगाये

मुलतापी समाचार

मुलताई। कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ जंग में रविवार को फिर एक बार मध्यप्रदेश के बैतूल जिले  में भी अपनी सशक्‍त मौजूदगी दर्ज कराई है। रात नौ बजते ही 9 मिनट के लिए लोगों ने अपने घरों की बत्तियां बुझाकर दीये-कैंडिल, टॉर्च या मोबाइल लाइट से रोशनी फैलाई।

वही बैतूल मुलताई में भी  बच्चे से लेकर युवा व महिलाएं भी घर की छत, गैलरी में दिए प्रज्वलित कर देश के प्रति अपनी जागरूकता का परिचय दिया वही कई स्थानो  में रंगोली भी बनाई गई ओर जोरदार आतिशबाजी भी की गयी मानो ऐसा एहसास हो रहा था जैसे आज दीपावली की रात हो साथ में लोगों ने शंख और झांझर बजाई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर एकजुटता दिखाने के मौके पर सभी ने  पूरे समर्पण से कोरोना से लड़ी जा रही लड़ाई में अपनी भूमिका तय कर रहे हैं। हालांकि पीएम मोदी की अपील पर इस बीच सोशल डिस्‍टेंसिंग का पूरा ध्‍यान रखा गया। इधर दीया जलाने के दौरान एल्‍कोहल वाला सेनिटाइजर इस्‍तेमाल न करने की सलाह दी गई है।

ताप्ती वार्ड में दीपक जलाएं
मुलतापी समाचर कार्यालय में पूरे परिवार के साथ जलाए दीपक।

रामनवमी एवं चैत्र नवरात्रि पर घरों में दीपक प्रज्वलित किये, देश मे  लॉकडाउन समय सेवाकर्मीयों का धन्यवाद किया


रामनवमी के पावन अवसर पर घर के बाहर दीपक से सजाया

बैतूल -रामनवमी पर्व पर लोगो ने लॉक डाउन का पालन कर अपने घरों के सामने दीप जला कर मनाई । जब भगवान श्रीराम चन्द्र जी का जन्म हुआ तब पूरी अयोध्या नगरी में घर-घर दीप प्रज्ज्वलित कर खुशियाँ मनाई गई थी और जब प्रभु श्रीराम 14 वर्ष का वनवास पूर्ण करके अयोध्या में लौटे थे तब भी घर-घर दीप प्रज्वलित कर उनका भव्य स्वागत किया गया था । आज श्रीराम नवमी के शुभ अवसर पर बैतूल जिले के गंज स्थित टैगोर वार्ड में भी घर-घर दीप प्रज्ज्वलित कर भारत को विश्वगुरु बनाने की मंगल कामना के साथ सभी के उत्तम स्वास्थ्य व आयु में वृद्धि  हेतु प्रभु श्रीराम जी से प्रार्थना की गई। युवा सेवा संघ बैतूल के जिलाध्यक्ष व समाजसेवी राजेश मदान ने बताया कि देश भर में सोशल मीडिया के माध्यम से सभी से श्रीराम नवमी की शाम को अपने अपने घर मे अपने परिजनों के ही साथ श्रीरामनवमी का पर्व हर्सोल्लास से मनाने व सभी की खुशहाली हेतु शाम को घर-घर दीप प्रज्ज्वलित करने की अपील की गई थी।

रामनवमी के पावन पर्व पर बच्चों ने दीपक जलाएं

संजय पवार ने बताया

सारनी। भगवान् राम जी और नवरात्रि नवमी के दिन दीपकों को प्रज्वलित कर महामारी का अंत और मानव जाति जीव जंतु पशु पक्षियों की वातावरण पर्यावरण संरक्षण व मानव संसाधन की रक्षा प्राकृतिक सौंदर्य के लिए प्रार्थना करते हुए वर्तमान कोरोना वाईरस कोविड19 जैसी घातक बीमारी से पीड़ित इंसानों के सुधार और आगे यह महामारी न फैले जगत जननी भुवनेश्वरी मां दुर्गा और भगवान् विष्णु के अवतार राम भगवान् से प्रार्थना करते हुए संसार के प्राणियों की रक्षा के लिए और हमारे भारत देश की रक्षा के लिए समर्पित होकर दीपों की ज्योत जलाकर प्रार्थना की ।