Tag Archives: भोपाल मध्यप्रदेश

इस्तीफों और सदस्यता का दौर जारी


=ताजा खबर=
महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया।

इस्तीफा की कॉपी

मध्य प्रदेश की सरकार में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह समर्पित सभी 20 मंत्रियों ने दिया इस्तीफा।

आज शाम 6 बजे बीजेपी में शामिल हो सकते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया

सिंधिया समर्पित विधायक

1. महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा। 2. आज ही जॉइन कर सकते हैं बीजेपी। 3. पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कांग्रेस ने महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी से निकाला। 4. बेंगलुरु पहुंचे सभी 19 विधायकों ने ई-मेल के जरिए स्पीकर को इस्तीफा सौंपा। 5.  मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव अक्षय सक्सेना ने सिंधिया समर्थन में आस्था रखते हुए अपने सभी पदों से दिया इस्तीफा।

सिंधिया समर्थक 19 विधायकों ने दिया इस्तीफा देने वालों में 6 मंत्री भी शामिल

इमरती देवी (महिला और बाल विकास मंत्री), प्रद्युम्न सिंह तोमर (खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री), प्रभु राम चौधरी (शिक्षा मंत्री), गोविंद सिंह राजपूत (परिवहन मंत्री), तुलसी सिलावट (स्वास्थ्य मंत्री), महेंद्र सिंह सिसोदिया (मंत्री), भूपेश भदौरिया मेहगांव विधायक, रघुराज सिंह कंसाना मुरैना विधायक, जसपाल सिंह जग्गी अशोक नगर विधायक, बृजेंद्र सिंह यादव मुंगावली विधायक, रक्षा संतराम सिरोलिया भांडेर विधायक, विधायक हरदीप डंग, विधायक मुन्नालाल गोयल, विधायक सुरेश धाकड़ शिवपुरी, विधायक गिरीराज दंडोतिया, विधायक कमलेश जाटव, विधायक जसवंत जाटव।

किसने क्या कहा

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि विधायकों को तोड़ना और सरकार गिराना बीजेपी की नीति है,मध्य प्रदेश में सरकार अब नहीं बचेगी। कांग्रेस विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा कि कांग्रेस की सरकार रहेगी। कांग्रेस विधायक तरुण भनोट ने कहा कि हमारे पास पूरे नंबर है समय आने पर साबित करेंगे।। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा “हैप्पी होली”। कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने कहा हमारे पास नंबर नहीं है हम विपक्ष में बैठेंगे,अगले चुनाव में फिर जीत कर आएंगे। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जनादेश का अपमान किया और अपने निजी स्वार्थ के लिए पार्टी छोड़ी।।

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सिंधिया के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस का आंतरिक मामला है। बीजेपी नेता यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की घर वापसी हुई है।

बीजेपी ज्वाईन, इस्तीफों का दौर जारी

अनूपपुर के कांग्रेस विधायक बिसाहूलाल सिंह ने ज्वाइन की बीजेपी। इंदौर शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद टंडन, इंदौर के पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल को लिखी चिट्ठी सिंधिया समर्पित छह मंत्रियों को मंत्रिमंडल से हटाने की मांग रखी मांग। बेंगलुरु की होटल में रुके सभी विधायकों ने बेंगलुरु डीजीपी से सुरक्षा की मांग की है।

मप्र की राजनीति में आया भूचाल


भोपाल — मध्यप्रदेश की राजनीति में कल बड़ा दिन साबित हुआ कमलनाथ सरकार के 20 मत्रियों ने देर शाम हुई बैठके के बाद इस्तीफे सौप दिये हैं। बताया गया की मंगलवार को मंत्रिमंडल का फिर से गठन होगा। खबर ये भी है की ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट के मंत्रियो ने इस्तीफा नहीं दिया है। इसके बाद सियासी भूचाल चरम पर है देर शाम कमलनाथ सरकार के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा मीडिया के सामने आये और उन्होंने कहा की सरकार को कोई खतरा नहीं है बल्कि सरकार और मजबूती के साथ खड़ी होगी।मुख्यमंत्री कमलनाथ को प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों ने अपने इस्तीफे  सौंप दिए हैं। ये सभी कमलनाथ समर्थक और अन्‍य मंत्री हैं जबकि सिंधिया समर्थक 8 मंत्री बैठक में मौजूद नहीं थे।

मंत्री सज्‍जन सिंह वर्मा ने बताया कि 20 मंत्रियों ने अपने इस्‍तीफे सीएम को सौप दिए है और अब वे अपने अगले निर्णय के लिए स्वतंत्र है। वर्मा ने कहा कि चार बार फ्लोर टेस्‍ट में भाजपा मुंह की खा चुकी है। उन्‍होंने कहा कि सिंधिया कहीं नहीं गए। यह सरकार पूरे पांच साल चलेगी। आज शाम 5 बजे विधायक दल की बैठक बुलाई गई है।

महिला दिवस पर अतिथि विद्वानों ने किया मुण्डन


अतिथि विद्वानों ने कराया मुण्डन

मुलतापी समाचार

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के शाहजहानी पार्क में आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला अतिथि विद्वानों व पुरुष अतिथि विद्वानों ने मुंडन करवाया। यहां बीते 90 दिनों से अतिथि विद्वानों द्वारा मध्यप्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन जारी हैं। अतिथि विद्वान नियमितिकरण की मांग को लेकर पिछले 3 महीनों से धरने पर बैठे हैं, लेकिन अब तक मप्र सरकार की ओर से इस संबंध में कोई कार्यवाही नहीं की गई है।
तीन माह से समय समय पर सरकार के नेता और मंत्रीयों द्वारा अतिथि विद्वानों के पास आकर उन्हें भरोसा तो दिलाते रहे हैं, लेकिन उनके द्वारा की गई मांगों को अभी तक पूरा नहीं किया जा सका हैं। इसी से नाराज होकर आज महिला दिवस पर महिला अतिथि विद्वानों सहित पुरुष अतिथि विद्वानों ने भी मुंडन करवाया।

कटनी से आई अतिथि विद्वान नीना सिंह ने मुंडन के बाद बातचीत के दौरान बताया कि तमाम कोशिशों के बावजूद सरकार की ओर से सकारात्मक रवैया नहीं आने पर ही हमें ये कदम उठाना पड़ा। इससे पहले भी महिला अतिथि विद्वान डॉ. शाहीन खान ने 19 फरवरी को और लक्सारी दास ने 2 मार्च को मुंडन कराया था। नीमा सिंह ने बताया कि उन्होंने सरकार की शोषणकारी नीति के कारण मुंडन कराया है।

इस दौरान एक अर्थी का भी निर्माण किया गया, जिस पर मप्र शासन के नाम से पर्चे लगे हुए थे। इसके साथ ही वहां शिक्षक भर्ती की अर्थी लिखा एक पोस्टर भी लगाया गया।

उनका कहना था कि हमारी मांगे तो मुख्यरूप से वहीं हैं जो इस सरकार ने वादा किया था, लेकिन इसके बावजूद सरकार की ओर से अपना वादा पूरा नहीं किया जा रहा है। जिसके चलते सभी अतिथि विद्वान महिला अतिथि विद्वानों ने आह्वान किया है कि यदि राज्य सरकार ने वचनपत्र अनुसार हमारा नियमितीकरण का वादा नही निभाया तो हम दिल्ली की ओर कूच करेंगे और अपने आंदोलन को विस्तृत करते हुए अगला मुंडन दिल्ली में किया जाएगा।

हाईस्कूल परीक्षा में आये आपत्तिजनक प्रश्न निरस्त करने के आदेश जारी


Multapi Samachar

भोपाल – कार्यालय माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश, भोपाल जनसंपर्क अधिकारी श्री एसके चौरसिया द्वारा विदित कराया गया है कि 07/03/2020 को हाईस्कूल परीक्षा में सामाजिक विज्ञान के पेपर में विषय विशेषज्ञ द्वारा प्रश्न पत्र के प्रश्न क्रमांक 4 सही जोड़ी मिलाइए के भाग स के उत्तर के जोड़ी मिलान के भाग V में आजाद कश्मीर का उल्लेख किया गया है। इसी प्रकार प्रश्न क्रमांक 26 भारत के मानचित्र में निम्नलिखित को दर्शाइए के भाग (iii) में आजाद कश्मीर का उल्लेख किया गया है, जो विसंगति पूर्ण होकर आपत्तिजनक है।

इस प्रकरण में प्रश्न पत्र सेट करने वाले श्री नितिन सिंह जाट (उ.मा.शि.) शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, रायसेन एवं प्रश्न पत्र मॉडरेट करने वाले श्री रजनीश जैन, व्याख्याता, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तेंदूखेड़ा नरसिंहपुर द्वारा अपेक्षित सतर्कता नहीं बरती गई तथा त्रुटिपूर्ण एवं लापरवाही पूर्वक कार्य करने के कारण दोनों शिक्षकों को आयुक्त लोक शिक्षण संचनालय संचालनालय द्वारा निलंबित कर दिया गया है ।

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा इन दोनों से प्रश्नों को भी निरस्त कर दिया गया है तथा प्रश्न पत्र का मूल्यांकन अब 90 अंकों से किया जाएगा इस प्रश्न में इस संबंध में मूल्यांकन अधिकारियों को प्रथक से निर्देश जारी किए जा रहे है।

महिला दिवस पर होगी सभी ग्राम पंचायतों में “सबला महिला सभा”


भोपाल – 8 मार्च को महिला दिवस पर सभी ग्राम पंचायतों में सबला महिला सभा का आयोजन किया जाएगा। जिसमें महिलाओं के सामाजिक व आर्थिक उत्थान पर विशेष चर्चा होगी।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि 8 मार्च को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर प्रदेश की 22 हजार 812 ग्राम पंचायतों में ”सबला महिला सभा” का आयोजन किया जाएगा। महिलाओं के सामाजिक, आर्थिक विकास, लोक परम्पराओं तथा सामाजिक कुरीतियों जैसे विषयों पर चर्चा की जाएगी। प्रत्येक ”सबला महिला सभा” के सफल आयोजन के लिए एक शासकीय महिला अधिकारी या कर्मचारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

मंत्री श्री पटेल ने कहा कि पंचायत राज व्यवस्था में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी दर्ज कराने के उद्देश्य से वचन-पत्र में भी महिला ग्राम-सभाओं के आयोजन का वचन दिया गया था। इसी क्रम में प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष में दो अवसर पर विशेष ग्राम सभा के रूप में 8 मार्च को ”सबला महिला सभा” और 19 नवम्बर को ‘प्रियदर्शनी महिला सभा” के आयोजन का निर्णय लिया गया है।

अपर मुख्य सचिव ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि प्रदेश में ”सबला महिला सभा” के सफल आयोजन की सभी तैयारियाँ पूर्ण कर ली गई है। सबला महिला सभा पूरे प्रदेश में एक साथ की जाएगी। मुख्य सभा छिन्दवाड़ा जिले में आयोजित की जाएगी। इसमें मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ और पंचायत एंव ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल विशेष रूप से उपस्थित रहेंगें। उन्होंने बताया कि सबला महिला सभा की अध्यक्षता महिला सरपंच, महिला पंच या वरिष्ठ महिला सदस्य द्वारा की जाएगी। सभा के स्थान और समय की सूचना मुनादी द्वारा ग्राम पंचायत क्षेत्र में दी जाएगी। उन्होंने बताया कि सभा में विचार के लिए रखे जाने वाले विषयों का निर्धारण भी कर दिया गया है।

सबला महिला सभा में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा महिलाओं, बालिकाओं एवं बच्चों के स्वास्थ्य कार्यक्रमों पर चर्चा की जाएगी। सभा में सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग द्वारा संचालित कल्याणी पेंशन, कन्या अभिभावक पेंशन सहित विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों पर चर्चा की जाएगी। महिला सशक्तिकरण, बालिकाओं के जन्म को प्रोत्साहित करने वाले कार्यक्रमों पर भी चर्चा के निर्देश दिए गए हैं।
श्री श्रीवास्तव ने कहा कि सबला महिला सभा का कार्रवाई विवरण लिपिबद्ध करने तथा उस पर कार्रवाई सुनिश्चित कराने के निर्देश भी दिए गए हैं।

मध्यप्रदेश की राजनीति में इस्तीफों और बैठकों का दौर जारी


विधायक हरदीप सिंह डंग का सोशल मीडिया पर इस्तीफा

भोपाल – हॉर्स ट्रेडिंग मामले को लेकर मध्यप्रदेश के सियासी गलियारों में मचे भूचाल का थमने का नाम ही नहीं ले रहा है, इसी बीच सुवासरा विधायक हरदीप सिंह डंग के इस्तीफे की खबर सामने आई है।

वही दूसरी ओर विधायक हरदीप सिंह डंग के इस्तीफे की खबर के बाद सीएम कमलनाथ ने देर रात मंत्रिमंडल की आपात बैठक बुलाई है। बताया जा रहा है कि बैठक में मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, डॉ.गोविंद सिंह, मंत्री लाखन सिंह और मंत्री सुरेंद्र सिंह हनी बघेल, मंत्री पी सी शर्मा, मंत्री विजयालक्ष्मी साधौ, के साथ भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी, संजय पाठक, शरद कौल भी बैठक में मौजूद हैं।

मुलतापी समाचार बैतूल

गेहूँ खरीदी की पंजीयन तिथि बढ़ी


राज्य शासन ने किसानों की सुविधा के लिये समर्थन-मूल्य पर गेहूँ खरीदी की पंजीयन की अंतिम तिथि में वृद्धि कर दी है। पूर्व में निर्धारित अंतिम तिथि 28 फरवरी को बढ़ाकर 2 मार्च कर दिया गया है। अब किसान भाई ई-उर्पाजन पोर्टल पर 2 मार्च तक अपना पंजीयन कर सकेंगे।

मुलतापी समाचार बैतूल

अग्रिम बिजली बिल भुगतान करने पर मिलेगी छूट


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के भोपाल, होशंगाबाद, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के निम्न दाब उपभोक्ता बिजली बिल की राशि का ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन अग्रिम भुगतान भी कर सकते हैं। यह राशि कितनी भी हो सकती है। अग्रिम राशि जमा करने की कोई सीमा नहीं है। उपभोक्ताओं द्वारा जो अग्रिम राशि जमा की जाएगी, उसमें उपभोक्ता के चालू बिजली बिल की राशि को समायोजित कर शेष राशि पर माह के आखिर में एक प्रतिशत छूट प्रदान की जाएगी।

ऑनलाइन भुगतान पर 20 रूपये तक छूट

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने निम्न दाब उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान कर अधिकतम 20 रूपये तक अपने बिल में छूट प्राप्त कर सकते हैं। इसी प्रकार, उच्च दाब उपभोक्ता ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान कर अधिकतम एक हजार रूपये की छूट प्राप्त कर सकते हैं।
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बताया है कि यदि कोई उपभोक्ता ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान करता है, तो उसके द्वारा कुल जमा किए गए बिल पर आधा प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट अधिकतम 20 रूपये तक होगी और न्यूनतम 5 रूपये होगी। इसी प्रकार जो उच्च दाब उपभोक्ता ऑनलाईन बिजली बिल का भुगतान करते हैं, तो उनके द्वारा कुल जमा किए गए बिजली बिल पर आधा प्रतिशत छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट अधिकतम एक हजार तक हो सकती है।

ऑनलाईन भुगतान के विकल्प

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के निम्न दाब उपभोक्ताओं को ऑनलाइन बिजली बिलों के भुगतान की सुविधा एम.पी.ऑनलाईन, एटीपी मशीन, कॉमन सर्विस सेन्टर, कंपनी पोर्टल (नेट बैंकिंग, क्रेडिट/डेबिट कार्ड, यूपीआई, ईसीएस, ईबीपीएस, बीबीपीएस, कैश कार्ड एवं वॉलेट आदि) पेटीएम एप एवं उपाय मोबाइल एप एवं कम्पनी की वेबसाइट portal.mpcz.in के माध्यम से उपलब्ध है। उपभोक्ता अपने क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, कैश कार्ड या 50 से अधिक बैंकों की इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से बिजली बिलों का भुगतान कर सकते हैं।

मुलतापी समाचार