Tag Archives: विजासन माई दरबार बंद

मां विजयासन मंदीर सलकनपुर के 500 साल के इतिहास में पहली बार चैत्र नवरात्र में माता के भक्त नहीं कर सकेंगे दर्शन


मुलतापी समाचार

सीहोर जिले में कोराना वायरस का एक भी मरीज की पुष्ठि नहीं हुई है और यह फैले नहीं इसलिए जिला कलेक्टर ने लगाई रोक

वर्तमान समय में मंदिर की स्थिति

सलकनपुर मां विजासान मंदिर में एक भी भक्‍त नहीं

आज मंगलवार को भूतड़ी अमावस्या पर क्षेत्र के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल आंवलीघाट पर भी स्नानदान के लिए लगाई रोक

व्यवस्था के लिए 150 से 200 पुलिस बल तैनात

रेहटी। बीते वर्ष आवंली घाट पर चैत्र नवरात्री के दौरान सरकनपुर मंदिर पर भीड़

Image result for सलकनपुर

बीते वर्ष भूतड़ी अमावस्या पर दिखी थी इतनी भीड़

सीहोर। रेहटी ।मां विजयासन धाम शक्तिपीठ सलकनपुर में चैत्र नवरात्र में माता के श्रद्धालु दर्शन नहीं कर पायेंगे। मां विजयासन के 500 साल के इतिहास में यह पहली बार हो रहा है कि चैत्र नवरात्र में यहां आने वाले हजारों लाखो श्रद्धालु दर्शन नहीं कर सकें गे। क्षेत्र के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल आंवलीघाट पर भी भूतड़ी अमावस्या पर मेला लगता है। जहां नर्मदा क्षेत्र के प्रसिद्ध आंवलीघाट नेहलाई, बाबरी, डिमावर, गांजीत, पथोडा, जाजना, जहाजपुरा सहित कई घाटों पर भूतडी अमावस्या पर चैत्र नवरात्र के एक दिन पहले लाखों लोग जमा होते हैं। इतनी भीड़-भाड़ वाली जगह पर कोरोना वायरस संक्रमण न हो इसके लिए जिला कलेक्टर ने मंगलवार को पड़ने वाली भूतडी अमावस्या पर स्नानदान के लिए रोक लगा दी है।

सलकनपुर में सोमवार से ही माता के पट बंद कर दिए गए हैं जो 31 मार्च तक बंद रहेंगे। यह मां विजयासन के 500 साल के इतिहास में पहली बार हो रहा है कि 100 से अधिक देशों में कोरोना वायरस की महामारी तेजी से फै ल रही है। जिसमें भारत में भी इस महामारी का प्रकोप चल रहा है। कलेक्टर अजय गुप्ता के अपील पत्र के अनुसार सीहोर जिले में अभी तक कोरोना वायरस का एक भी प्रकरण सामने नहीं आया है। जबकि सलकनपुर मंदिर व मेला में अन्य प्रदेशों से बड़ी संख्या में लोग आते हैं। जहां कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका है। कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी और स्थानीय लोगों व मंदिर व्यवस्था से जुड़े लोगों की सुरक्षा और स्वास्थ को दृष्टिगत रखते हुए श्रद्धालुओं ओर दर्शानार्थीयों से उन्होंने अपील की है कि देवी जी की आराधना अपने-अपने निवास स्थान से करें। मां विजयासन देवी धाम सलकनपुर में आने वाले श्रद्धालुओं पर 31 मार्च तक रोक लगी रहेगी जिसे आगामीआदेश तक बढाई जाएगी । वहीं माता के पट भी बंद रहेंगे।

मां विजयासन के पट बंद रहेंगे लेकि न चैत्र नवरात्र संपन्न होगी

कलेक्टर के आदेशानुसार मंगलवार को भूतड़ी अमावस्या पर प्रसिद्ध नर्मदा तट आंवलीघाट पर रोक लगाने के बाद मां विजयासन धाम सलकनपुर में 31 मार्च तक श्रद्धालु माता के दर्शन नही कर सकें गे, लेकि न नवरात्र यहां पूरी विधि विधान से संपन्न होगी। श्री देवी जी मंदिर समिति ट्रस्ट सचिव आरके दुबे ने बताया कि नवरात्र के पहले दिन बुधवार को घट स्थापना के साथ चैत्र नवरात्र शुरु होंगे और मां विजयासन की चार बार आरती भी चैत्र नवरात्र में प्रतिदिन होगी। जबकि आम दिनों में तीन बार ही माता की आरती होती है। चैत्र नवरात्र में सुबह 5.30 बजे पहली आरती इसके बाद पाठ करने के बाद दूसरी आरती करीब सुबह 11.00 बजे, तीसरी आरती सुबह 11.45 बजे और शाम की आरती 7.30 बजे संपन्न होगी। इसके साथ ही माता के भक्तों द्वारा जो चैत्र नवरात्र में नौ दिनों के लिए ज्योति स्थापना करवाते है ज्योति स्थापना भी होगी। वहीं सप्तमी की रात को महानिशा पूजा (हवन) भी संपन्न कराया जाएगा। श्री दुबे ने बताया कि आरती के लिए और ज्योति स्थापना के लिए यहां के पंडे एक-एक ही काम करेंगे और माता के पट बंद रहेंगे।

150 से 200 पुलिस बल रहेगा तैनात

आवंलीघाट में आज भूतड़ी अमावस्या पर स्नान के लिए रोक लगाने के लिए और मां विजयासन जाने वाले श्रद्धालुओं को मंदिर जाने से रोकने के लिए 150 से 200 पुलिस बल चप्पे-चप्पे परप लगाया गया है। जिसमें एक एडिसनल एसपी, तीन एसडीओ, छः टीआई भी शामिल हैं।