Tag Archives: स्वास्थ्य जांच

मुलताई सामुदायिक अस्पताल में मास्क की कमी, सैनिटाइजर भी उपलब्ध नहीं, रिस्क लेकर इलाज कर रहे डाॅक्टर – पांसे


Multai Newas कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर सरकारी अस्पताल में की गई व्यवस्था का जायजा लेने बुधवार को विधायक सुखदेव पांसे

मुलताई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहूंचे विधायक पांसे ने बीएमओ. से चर्चा कर देखी समस्या

मुलतापी समाचार

कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर सरकारी अस्पताल में की गई व्यवस्था का जायजा लेने बुधवार को विधायक सुखदेव पांसे पहुंचे। विधायक पांसे ने बीएमओ डॉ. उदय तोमर और डॉ. पल्लव अमृतफले से चर्चा की। चर्चा के दौरान विधायक पांसे ने बीएमओ डॉ. तोमर से किट के संबंध में पूछा। इस पर बीएमओ ने बताया आज ही पांच किट प्राप्त हुई हैं। इसके पहले किट नहीं थी। विधायक ने अस्पताल में आने वालों और स्टाफ के लिए मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी ली।

बीएमओ ने बताया जिले से 200 मास्क प्राप्त हुए हैं। सैनिटाइजर की कमी है। विधायक पांसे ने कहा उन्होंने दो हजार मास्क अस्पताल भेजे थे। इस पर बीएमओ ने बताया सभी मास्क का वितरण किया जा चुका है। विधायक पांसे ने कहा वह पूरे क्षेत्र में मास्क और सेनेटाइजर का वितरण स्वयं के व्यय पर कर रहे हैं।

बाहर से गांवों में आने वालों पर रखी जा रही नजर

बीएमओ डॉ. तोमर ने बताया क्षेत्र के गांवों में बाहर से लगातार लोग आ रहे हैं। ऐसे लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है। सभी को घरों में रहने की समझाइश दी है। बीएमओ ने बताया कुछ गांवों से शिकायत मिली थी, बाहर से आने वाले घरों में नहीं रह रहे हैं। इस स्थिति में अब गांव में ही आशा, एएनएम, सचिव और कोटवार की टीम बनाई है। यह टीम बाहर से आने वालों पर नजर रखेगी। बाहर घूमने वालों की सूचना तत्काल देगी।

किसी भी प्रकार की समस्या होने पर अवगत कराएं: विधायक

अस्पताल को सैनिटाइजर भी उपलब्ध कराएंगे

पांसे ने कहा लोगों की जान बचाने वाले डॉक्टर को ही किट सहित अन्य सुविधा नहीं मिल रही है। ऐसे में डॉक्टर कैसे इलाज करेंगे। सरकार किसी प्रकार की सुविधा और सामग्री उपलब्ध नहीं करा रही। ऐसे में पूरा मप्र भगवान भरोसे ही चल रहा है। विधायक ने क्षेत्र में बाहर से आए लोगों के संबंध में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा क्षेत्र के लोगों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। दवाइयां सहित अन्य सामग्री पर्याप्त मात्रा में रखें। किसी भी प्रकार की दिक्कत और समस्या आने पर उन्हें अवगत कराएं। बीएमओ ने बताया क्षेत्र में दूसरे नगरों से तीन हजार से अधिक लोग आए हैं। जिनकी स्क्रीनिंग की जा चुकी है। 550 लोगों को होम क्वारेंटाइन में रखा गया है।

गांव और अस्पताल में हो लोगों की स्क्रीनिंग

बीएमओ डॉ. तोमर ने बताया बाहर से आए लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है। जिस गांव में बड़ी संख्या में बाहर से लोग आए हैं वहां टीम भेजकर स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके अलावा सरकारी अस्पताल के हॉल में भी स्क्रीनिंग की व्यवस्था की है। बुधवार को 68 लोगों की स्क्रीनिंग जारी थी। स्क्रीनिंग करने के बाद फॉलोअप भी लिया जा रहा है। अभी तक बाहर से आए हुए अधिकांश लोग सामान्य पाए गए हैं।

video Multapisamachar.com YouTube chenal

अस्पताल प्रशासन कर रहा नजरअंदाज कोरोना के प्रति बड़ी लापरवाही, हो सकती हैं बडी घटना


मुलतापी समचार

मुलताई समुदायिक स्वास्थ केन्द्र की फ़ोटो है जहाँ बाहर गांव शहर से लोग कोरोना चेक करने भीड लगाकर धूप में घंटे खड़े रहते है

यह मुलताई का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है जहां मरीजों और कोरोना की जांच के लिए बाहर से आगे लोग घंटे लम्बी लाइन में खड़े रहते हैं टाइमिंग 8:00 बजे 10:30 बजे तक उसके बाद भी मुख्य डॉक्टर का पता नहीं यहां कोरोना वायरस के प्रति न हीं हॉस्पिटल मैनेजमेंट डॉक्टर सजग हैं और ना ही पबल्कि, कोई सोशल डिस्टेंस नहीं, कोई सेनेटाइजर की व्यवस्था नहीं, लोग भीड़ लगाकर खड़े रहते हैं यह सब देख कर बड़ा आश्चर्य हो रहा है यहां सारे विश्व के देश कोरोना के लिए लड़ रहा है वही यहाँ बहुत लापरवाही की जा रही है।

कोई सुविधा नही मुलताई सामूदायिक हॉस्पिटल मुलताई में पर्ची काटने के लिए घण्टों लाईन में भीड लगाकर खड़े रहते मरीज


यह खबर अगर कोई मुलताई के सीनियर अधिकारी देख रहा हो तो यहां पुलिस प्रशासन की मदद से लोगों में कम से कम सोशल डिस्टेंस का ख्याल रखा जाए और हॉस्पिटल में डैली सेनेटाइजर की व्यवस्‍था की जाए एवंं पर्ची बनाने वालाेें की संख्‍या बडाई जाए और इस विषय को गंभीरता सेे लेवे यहां अभी भी लोग बिल्कुल भी सजग नहीं है रोना के प्रति ज्यादा से ज्यादा शेयर करें जनता मेें जागरुक होंंवेे।

गांव गांव में कोरोना वायरस की जांच


मुलतापी समाचार

मुलताई स्वास्थ्य विभाग द्वारा आज ग्राम महिलाडी में मुलताई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की टीम द्वारा कोरोनावायरस की जांच की गई गांव के बाहर से आए लोगों शहरों भोपाल नागपुर इंदौर से आए खासतौर से लोगों की जांच की गई साथ ही गांव में रह रहे अन्य सभी लोगों की जांच की गई स्वास्थ्य विभाग को अंदेशा था कि गांव में बाहरी शहरों से लोग पलायन कर आ रहे हैं उनकी सूचना पर गांव के लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई इसी तरह स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बताया कि हर गांव की जांच होना प्रारंभ कर दिया गया है खास तौर पर जो बाहर से आ रहे हैं उन लोगों की जांच प्राथमिकता से की जाएगी

वह सभी लोग जो इंदौर भोपाल नागपुर से गांव आ रहे हैं उन्हें हिदायत दी गई है कि वह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्वयं से आकर करुणा की जांच करावे और 15 दिन तक आशी लेशन कैरोटीन अपने घर में सदस्यों से दूरी बनाकर रखें बार बार हाथ धोएं संक्रमण के फैलाव से बच्चे मुलतापी समाचार