Tag Archives: हरदा

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका द्वारा घर घर जाकर पोषण आहार वितरण, माक्स वितरण, जागरूकता कार्य किया


महिला एवं बालविकास की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हरदा की फ़ोटो

मुलतापी समाचार

हरदा। कोरोना के संकट काल से उभरने हेतु शासन केे कई विभागों के द्वारा विभिन्न प्रकार से आपदा से बचाव हेतु कार्य किये जा रहे है। इन्ही के साथ महिला एवं बाल विकास विभाग का मैदानी क्षेत्र जिसमें आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका की भूमिका भी पीछे नहीं है। इसी कतार में जिला हरदा अंतर्गत महिला एवं बाल विकास परियोजना खिरकीया, सेक्टर चारूवा के अंतर्गत आने वाली आंगनवाड़ी केन्द्र हरिपुरा माल की कार्यकर्ता श्रीमती ममता सोनी व सहायिका सीमा सल्लाम द्वारा अपने कर्तव्य को पूर्ण निष्ठा के साथ किया जा रहा है।

इनके द्वारा कई जनहित के कार्य भी किये जा रहे है जैसे – सोशल डिस्टेंसिग के बारे में सभी को अवगत कराया जा रहा है। अपने कार्य क्षेत्र में, खुद बहुत अधिक धनी ना होकर भी लोगों की सेवा के लिये स्वयं के द्वारा बनाये गये मास्क का वितरण बहुत से गरीब लोगों के लिये कर रही है और दिये गये मास्क का उपयोग घर से बाहर निकलते समय आवष्यक रूप से करने की सलाह दी जा रही है।

जिसके कारण लोगों को अपने घर से निकलने पर शासन द्वारा दिये गये निर्देषो का पालन करने में मदद मिल रहीं हैं। आंगनवाड़ी केन्द्र के सभी हितग्राहियों को पूरक पोषण आहार एवं रेडी टू ईट जिसमें स्वयं के द्वारा सत्तु, लड्डू एवं मटरी तैयार कर घर-घर जाकर वितरण किया जा रहा है साथ ही जरूरतमंद व्यक्ति को भी इसका लाभ दिया जा रहा है। इसके अलावा अपने क्षेत्र चारूवा में लगने वाले मेले में बाहर से आये हुए लोग जो लाॅक डाउन की वजह से गांव में फस गए उन्हें भी टी0एच0आर0 व रेडी टू ईट वितरण कर मदद की जा रही है।

खांसी-बुखार होने पर ग्राम वासियों को अपनी जल्द से जल्द स्वास्थ्य जांच करवाने के लिये जागरूक किया जा रहा है साथ ही अपने ग्राम में किसी अन्य व्यक्ति के बाहर से आने की सूचना की जानकारी देने के लिये भी बोला जा रहा है। अपने कार्यक्षेत्र में सभी को समझाइष दी जा रही है कि लाॅकडाउन के समय बिना अति-आवष्यक कार्य के लिये घर से बाहर न निकले घर पर ही रहें। गर्मी के दिनांे में पक्षियों के लिये भी दाना-पानी की व्यवस्था आंगनबाडी कार्यकर्ता एवं सहायका के द्वारा की जा रहीं है।

इस महामारी के दौर में स्वच्छता को लेकर सभी को जागरूक किया जा रहा है कि अपने आसपास सफाई रखें एवं साबुन द्वारा अपने हांथों को बार-बार धोएं। कोरोना महामारी के समय में शासन द्वारा दिये गये निर्देषो का पालन करें यह बताया जा रहा हैं। कोरोना महामारी से जहां पूरा विष्व जूझ रहा है, और लोगांे में इस बीमारी का भय बडता जा रहा हैं।

ऐसे समय मंे वरिष्ठ अधिकारियों का मार्गदर्षन प्राप्त कर आंगनबाडी कार्यकर्ताओं व सहायिकाआंे द्वारा सोषल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए अपने कर्तव्यों के निर्वाहन के साथ-साथ समाज सेवा के कार्यांे को पूर्ण निष्ठा के साथ किया जा रहा हैं।

हरदा में ट्रक चालक और उसके साथी को किसानों ने गेहूं की बोरी चुराते पकड़ा


कार्रवाई

सेवा सहकारी समिति मर्यादित हंडिया का मामला

खरीदी केंद्र से गेहूं वेयरहाउस ले जा रहा था वाहन चालक,

चालक की चोरी पकड़ाने पर पंचनामा कार्रवाई करते हुए।

मुलतापी समाचार

हरदा/हंडिया। बुधवार को सेवा सहकारी समिति मर्यादित हंडिया के खरीदी केंद्र से वेयरहाउस तक परिवहन के दौरान गेहूं चोरी का मामला सामने आया है। गेहूं परिवहन के दौरान ट्रक चालक व उसके साथी को चोरी की घटना का अंजाम देते ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ा है। इसके बाद पहुंचे समिति के पदाधिकारियों ने पंचनामा बनाने की कार्रवाई की। नेशनल हाइवे पर ग्राम तलाई टप्पर के पास बुधवार को करीब 1 बजे ग्रामीणों ने ट्रक क्रमांक एमपी 33 एच 0787 के चालक को 50-50 किलोग्राम वजन दो बोरी ट्रक से निकालते हुए देखा। इसके बाद समिति के अधिकारियों को सूचित किया। इसके बाद पहुंचे समिति के पदाधिकारियों ने पंचनामा बनाकर थाने में एफआईआर कराने के लिए आवेदन दिया है। चालक महाराष्ट्र के अनंतपुर निवासी माधव बताया जा रहा है। वहीं ट्रक चालक को डायल 100 के जवान अपने साथ थाने लेकर गए। साथ ही गेहूं की दो बोरी भी जब्त की गई।

सेवा सहकारी समिति मर्यादित हंडिया के प्रबंधक जयप्रकाश पाटिल ने बताया कि बुधवार को दोपहर करीब 12 बजे हंडिया खरीदी केंद्र से सलूजा कंपनी का ट्रक क्रमांक एमपी 33 एच 0787 खेड़ा स्थित वेयरहाउस के लिए समर्थन मूल्य पर खरीदे गए गेहूं की 500 बोरी या 250 क्विंटल गेहूं रवाना हुआ। इसके बाद दोपहर 1 बजे तलाई टप्पर के पास ट्रक से 2 बोरी निकालकर खेत में छुपाते हुए चालक को ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ लिया। इसके बाद समिति के पदाधिकारियों को सूचना दी गई। इसके बाद पंचनामा बनाने की कार्रवाई की गई। साथ ही डायल 100 बुलाकर चालक को पुलिस हिरासत में सौंप दिया गया। वहीं गेहूं की बोरी जब्त की गई। वहीं ट्रक को रोड पर ही खड़ा कराया गया।

MP – विराट भारत के चित्र से कोरोना योद्घाओं के प्रति व्यक्त की कृतज्ञता


एपीसी विवेक शर्मा द्वारा बनाया गया विराट भारत का चित्र।

हरदा। कोरोना वायरस संक्रमण एक विश्वव्यापी महामारी का रूप ले चुका है। इस महामारी के विरुद्घ लड़ाई में समूचा देश एक अग्रणी योद्घा के रूप में खड़ा है। इस लड़ाई में देश के डॉक्टर, पुलिस, सेना, सफाईकर्मी, वैज्ञानिक, मीडियाकर्मी, समाजसेवी एवं सभी नागरिक कंधे से कंधा मिलाकर शासन तथा प्रशासन के साथ सहभागिता कर रहे हैं। जिला शिक्षा केन्द्र में पदस्थ सहायक परियोजना समन्वयक विवेक कुमार शर्मा ने विराट भारत दर्शन का चित्र बनाकर एक अलग अंदाज में कोरोना योद्घाओं के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की है। इस चित्र में उन्होंने देशव्यापी लॉकडाउन, उचित शारीरिक दूरी का सुरक्षा चक्र, जरुरतमंदों को भोजन, स्वच्छता, सही जांच एवं कलम को अस्त्र के रूप में व्यक्त किया है। श्री शर्मा का कहना है कि सभी कोरोना योद्घाओं के योगदान एवं हम सभी के अनुशासन से हम निश्चित ही कोरोना पर विजय प्राप्त करेंगे।

कोटा से सकुशल घर पहुंचे हरदा जिले के 7 विद्यार्थी


कलेक्टर-एसपी ने विद्यार्थियों से की मुलाकात

एसपी एवं कलेक्टर बच्चों से चर्चा करते हुए।

हरदा। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए घोषित देशव्यापी लॉकडाउन में कोटा राजस्थान से प्रदेश के विद्यार्थियों को लाने के लिए राज्य शासन द्वारा व्यवस्था की जा रही है। इस व्यवस्था के तहत जिले के 7 विद्यार्थी गुरुवार सुबह हरदा पहुंचे। कलेक्टर अनुराग वर्मा, पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार अग्रवाल, अपर कलेक्टर प्रियंका गोयल ने शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज पहुंचकर विद्यार्थियों से मुलाकात की। कलेक्टर वर्मा ने विद्यार्थियों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि सभी विद्यार्थी होम क्वारंटाइन में रहेंगे। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वे घर पर भी अलग कमरे में रहें। परिजनों से दूरी बनाए रखे। 14 दिन का क्वारंटाइन पूरा करें। यदि इस बीच सर्दी, खांसी या बुखार जैसी कोई समस्या होती है तो तत्काल प्रशासन को सूचित करें।

उल्लेखनीय है कि ये विद्यार्थी 22 अप्रैल को कोटा से रवाना होकर राजगढ़ जिले के ब्यावरा पहुंचे थे। ब्यावरा में जिला प्रशासन राजगढ़ द्वारा सभी विद्यार्थियों की स्क्रीनिंग की गई तथा उनके लिए भोजन की व्यवस्था की गई। तत्पश्चात नोडल अधिकारी नायब तहसीलदार महेंद्र चौहान के नेतृत्व में गई टीम निर्धारित बस में विद्यार्थियों को हरदा लेकर आई। हरदा में पॉलिटेक्निक कॉलेज परिसर में मेडिकल टीम द्वारा सातों विद्यार्थियों तथा नोडल अधिकारी चौहान एवं उनकी टीम की स्क्रीनिंग की गई। बस, अधिकारियों के वाहन एवं विद्यार्थियों के सामान को भी सैनिटाइज किया गया। विद्यार्थियों को सकुशल उनके परिजनों को सौंप दिया गया है। एसडीएम एचइस चौधरी ने बताया कि सभी विद्यार्थियों से उनकी लोकेशन के लिए सार्थक मोबाइल एप डाउनलोड करवाया गया है। उन्हें होम क्वारंटाइन में रहने के लिए निर्देशित किया गया है, टीम द्वारा निरंतर उनकी निगरानी की जाएगी।

20 अप्रैल तक मंडी नहीं करेंगे गेहूं की खरीदी, बैठक में व्यापारियों ने दी सहमति, बाद में ज्ञापन सौंपा


एसडीएम ने मंडी में अनाज खरीदी के लिए व्यापारियों ने से की चर्चा

एसडीएम के सामने व्यापारियों ने दी सहमति, कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा, कहा- नहीं करेंगे गेहूं की खरीदी

20 अप्रैल तक मंडी में खरीदी कार्य नहीं करेंगे व्यापारी

मुलतापी समाचार

हरदा। समर्थन मूल्य पर बुधवार से गेहूं खरीदी का कार्य शुरू हो जाएगा। इसके लिए प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन को 3 मई तक जारी रखने का एलान कर दिया है। इन सब के बीच किसानों की परेशानी को देखते हुए जिला प्रशासन ने व्यापारियों से मंडी में खरीदी कार्य शुरू करने के लिए मंगलवार को मंडी प्रांगण के विश्राम गृह में सुबह 11 बैठक का आयोजन किया। जिसमें एसडीएम हरिसिंह चौधरी, मंडी सचिव किशोर माहेश्वरी सहित दो दर्जन से अधिक व्यापारी शामिल हुए।

बैठक में व्यापारियों ने भी खरीदी कार्य शुरू करने पर अपनी सहमति प्रदान की। इस दौरान मंडी सचिव द्वारा भी मंडी में खरीदी व्यवस्था के नियम बना दिए गए। दोपहर करीब 1 बजे बैठक खत्म हो गई। इसके बाद व्यापारियों ने कलेक्टर के नाम कलेक्ट्रेट में और मंडी सचिव को ज्ञापन सौंपा, जिसमें 20 अप्रैल तक खरीदी कार्य नहीं करने में अपनी असमर्थता जता दी। हालांकि सुबह बैठक में खरीदी कार्य को लेकर नियम भी बना दिए गए थे। व्यापारियों का मानना है, कि प्रधानमंत्री द्वारा 20 अप्रैल तक सख्ती से साथ लॉकडाउन के पालन करने को कहा गया है, ऐसी स्थिति में खरीदी करना मुश्किल होगा।

ग्रेन मर्चेंट एसोसिएशन ने सौंपा ज्ञापनः ग्रेन मर्चेंट एसोसिएशन द्वारा कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें बताया कि मंगलवार दोपहर 11 बजे एसडीएम ने बैठक का आयोजन किया। जिसमें व्यापारियों ने मंडी को सुचारू रूप से चलाने में सहमति दी है। लेकिन कलेक्टर द्वारा जारी 28 मार्च के आदेश में यह लिखा गया था, कि अनाज आदि को लॉकडाउन से मुक्त रखा गया है। इसके विपरीत सौभाग्य लक्ष्मी फूड्स के ऊपर अनुचित प्रकार से कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज करवा दी गई है। जिसे निरस्त कर सिर्फ मंडी शुल्क वसूल किया जाए। साथ ही व्यापारियों ने 20 अप्रैल तक खरीदी में असमर्थता जताई है।

हम्मालों ने भी काम नहीं करने लिखकर दियाः दोपहर में एसडीएम की बैठक के बाद तवा हम्माल मजदूर पंचायत समिति द्वारा मंडी सचिव को लिखित आवेदन दिया गया। जिसमें बताया कि 15 अप्रैल से मंडी में हम्माली कार्य करने को कहा जा रहा है, लेकिन इस पर हम्मालों ने अपनी अस्वीकृति दी है। संगठन ने बताया कि जिले में धारा 144 लगी हुई है। जगह-जगह पुलिस पूछताछ कर रही है। हम्माली काम से रोज मंडी में देर रात तक आना-जाना लगा रहता है। सुरक्षा की दृष्टि से काम करने में असमर्थता जताई है।

बैठक में यह तय हुआ था

1. रोजाना मंडी में 100 किसानों को बुलाया जाएगा।

2. कलेक्ट्रेट तरफ का मंडी गेट बंद रखा जाएगा।

3. किसानों को सेंटमेरी स्कूल के गेट के पास टोकन दिया जाएगा।

4. एक ट्रॉली पर दो किसान ही मान्य किए जाएंगे।

5. सुबह 8 बजे से पहले मंडी में ट्रॉली लाना प्रतिबंधित रहेगा।

6. किसानों को मोबाइल पर एसएमएस भेजकर बुलाया जाएगा।

7. कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए मास्क अनिवार्य होगा।

जिले की चारों मंडियों के व्यापारियों ने लिखकर दिया है, जिसमें 20 अप्रैल तक खरीदी कार्य करने में व्यापारियों ने असमर्थता जताई है। साथ ही तवा हम्माल संघ द्वारा भी खरीदी कार्य में हिस्सा नहीं लेने की बात लिखकर दी है। बिना हम्मालों के मंडी में कार्य करना असंभव है। आगामी 20 तारीख तक व्यापारियों ने खरीदी कार्य बंद रखने का लिखकर दिया है।

किशोर माहेश्वरी, मंडी सचिव हरदा

दुष्कर्म के आरोपी की ट्रेन से कटकर मौत, पुलिस की बाइक से कूदकर भागे, हरदा ; दो कांस्टेबल सस्पेंड


हरदा जिले में सिरोली थाना अपने अच्छे कार्यों के लिए भी जाना जाता है। -फाइल फोटो

पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया गया था दुष्कर्म के आरोपी को

कोर्ट ले जाते समय बाइक से कूदकर भागा और चलती ट्रेन में चढ़ते समय में गिरा

हरदा. जिले में पेशी के लिए ले जाते समय पुलिस की गिरफ्त से छूटकर भागे दुष्कर्म के एक आरोपी के ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर लेने मामले में दो कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया है। मामले की मजिस्ट्रियल जांच होगी। एसपी ने कलेक्टर को रिपोर्ट भेज दी है। घटना की सूचना के बाद उसके परिजन शाम 7 बजे जिला अस्पताल पहुंचे। उन्होंने पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाया।

ये भी पढ़े

एसपी हरदा भगवत सिंह बिरदे ने सोमवार को बताया कि इस मामले में पुलिस आरक्षक सरजू उईके और सुमित रावत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर लाइन अटैच कर दिया गया है। वहीं, इस पूरे मामले की मजिस्ट्रियल जांच के लिए हरदा कलेक्टर को पत्र लिखा गया है साथ ही विभागीय जांच भी करने के निर्देश दिए गए हैं।

आरोपी चलती ट्रेन में चढ़ने की कोशिश में नीचे आया 
एसपी बिरदे ने बताया कि आरोपी संतोष काजले नाबालिग बालिका को मार्च में भगा कर ले गया था। तभी से फरार था। शनिवार रात सिराली पुलिस ने संतोष (23) को रेप और नाबालिग के अपहरण के आरोप में उसके घर से गिरफ्तार किया था। आरक्षक बाइक से न्यायालय में पेश करने के लिए सिराली थाने से उसे लेकर आ रहे थे। रविवार को उसे कोर्ट में पेश करने के लिए सिराली थाने का कांस्टेबल सरजू उइके व सुमित रावत बाइक पर बीच में बैठाकर हरदा ला रहे थे। वे दोपहर करीब 3 बजे मसनगांव रेलवे फाटक के पास पहुंचे। तभी 11038 अप पुणे-गोरखपुर सुपर फास्ट के आने का समय था। वह आरक्षकों को धक्का देकर भागा और चलती ट्रेन में चढ़ने की कोशिश में में उसकी ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई।

परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही के आरोप लगाए 
वहीं, मृतक संतोष काजले के परिजनों ने पुलिसकर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा मचाया और कहा है कि थाने से उन्हें इस बात की सूचना नहीं दी गई थी कि रविवार को ही संतोष को न्यायालय ले जाया जा रहा है। पुलिस ने परिजनों को आज संतोष को अदालत में पेश करने की बात कही थी।

Manmohan Pawar (Sampadak) Khabr News send kare WhatsApp no.- 9753903839