Tag Archives: #betul

क्षत्रिय पवार समाज के पूर्व सैनिक संघ का नववर्ष मिलन समारोह हुआ संपन्न।


क्षत्रिय पवार समाज के पूर्व सैनिक संघ का नववर्ष मिलन समारोह केसर बाग में हुआ संपन्न।

1965, 1971 और 1999 के ऑपरेशन विजय कारगिल में सम्मिलित पूर्व सैनिकों को किया गया सम्मानित।

बैतूल। सतपुड़ा की सुरम्य वादियों और मांँ ताप्ती की गोद में बसे बैतूल जिले में 65 से अधिक जल, थल और वायु सेना के सैनिक एवं उनके परिवार के सदस्यों द्वारा 9 जनवरी 2022 को केसरबाग बैतूल में नववर्ष मिलन समारोह का आयोजन किया गया।

जिसमें 1965 और 1971 की लड़ाई में शामिल थाना साईंखेड़ा के कैप्टन एल. आर. पवार, 1965 के युद्ध में शामिल सिपाही किशोर कुमार खवसे, 1971 में जूनियर वारंट ऑफिसर गणपति पवार, नायक शिवजी कोड़ले, 1999 ऑपरेशन विजय में सूबेदार भरत देशमुख,

नायब सूबेदार हरिराम पवार, हवलदार घुडन पवार सहित समाज के फिजियोथेरिपिस्ट डॉक्टर संदीप परिहार को जिला क्षत्रिय पवार समाज संगठन बैतूल के जिलाध्यक्ष बाबूलाल कालभोर, उपाध्यक्ष बाबूराव पवार, कोषाध्यक्ष मुन्नालाल डहारे एवं पवार समाज के पत्रकार रामकिशोर पवार, शंकर पवार, प्रदीप डिगरसे, जगदीश चंद्र पवार द्वारा सम्मानित किया गया।

साथ ही जिले के सभी पवार पत्रकारों नन्दकिशोर पवार, मनोज देशमुख, हेमंत पवार, अजय पवार, मोहित पवार, अमित गोलू पवार, रानू हजारे को भी सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम पूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष हरिराम पवार की अध्यक्षता में जिला क्षत्रिय पवार समाज के पदाधिकारियों, पूर्व सैनिक संघ के पदाधिकारीयों और पत्रकार बंधुओं की उपस्थिति में आयोजित किया गया।

जिला क्षत्रिय पवार समाज के मिडिया प्रभारी प्रदीप डिगरसे ने बताया कि कार्यक्रम का आरंभ मांँ गढ़कालिका और चक्रवर्ती सम्राट राजा भोज का पूजन और आरती के साथ किया गया। इस अवसर पर छोटे बच्चों द्वारा विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। प्रतिभागी बच्चों को पूर्व सैनिकों के द्वारा पुरस्कृत भी किया गया।

इस अवसर पर रामकिशोर पवार पत्रकार द्वारा वर्ष 2022 के ताप्ती हलचल कलैन्डर, हस्त लिखित पुस्तक “अजब गाँव की गजब दास्तां” और कहानियों का संग्रह “काला गुलाब” को सभी सैनिक बंधुओं को वितरित की गई। और अगले नववर्ष तक जिले के सभी सैनिकों के जीवन पर एक पुस्तक का प्रकाशन कर समर्पित करने की बात कही।

पत्रकार शंकर पवार, कैप्टन एल.आर. पवार, बाबूलाल कालभोर ने अपने उद्बोधन के माध्यम से अपने अनुभव को साझा किए। इस अवसर पर कोरोना के समय काल के गाल में समाये सभी मृत आत्माओं की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा गया।

कार्यक्रम के सफल समापन पर सभी सैनिक बंधुओं ने केशर बाग के संचालक अतीत पवार का आभार और धन्यवाद प्रेषित किया। संचालन श्रीमती रेखा पवार ने एवं आभार प्रदर्शन केप्टन एल. आर. पंवार द्वारा किया गया।

आयोजन को सफल बनाने में सैनिक हेमंत गोहिते, गजानन पवार, नारायणराव पवार, प्रवीण पवार, पूरण पवार, केवराम पवार, बन्नूलाल हिगवें, अशोक पवार सहित सभी सैनिकों का सराहनीय योगदान रहा।

मध्यप्रदेश पंचायत चुनाव का ऐलान


मध्य प्रदेश की ग्राम पंचायतों में आदर्श आचार संहिता लागू

52 जिलो में जिला पंचायत सदस्य 859
जनपद पंचायत सदस्य 6035
सरपंच 23835
के 3 चरणों मे होंगे चुनाव।

दिनाँक – 6 जनवरी 2022
प्रथम चरण में – 9 जिले की 85 जनपद में चुनाव

दिनाँक- 28 जनवरी 2022
दूसरे चरण में – 7 जिले की 110 जनपद पंचायत।

दिनाँक- 16 फ़रबरी 2022
तीसरे चरण में -36 जिलो की 118 जनपद पंचायत में होंगे चुनाव

बची हुई 114 ग्राम पंचायत के चुनाव अगले साल मई में होंगे।

मतदान का समय- सुबह – 7 बजे से 3 बजे तक।

23 फ़रबरी को आयेंगे परिणाम

पाहुनी पवार का इंडिया टीम ट्रायल्स में हुआ चयन, राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में जीते एक रजत और दो कांस्य पदक


बैतूल । बैतूल जिले के मुलताई नगर की बेटी पाहुनी पंवार ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल कर जिले को गौरवान्वित किया है। 64 वीं राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में निशानेबाज पाहुनी पवार ने एक रजत पदक और दो कांस्य पदक जीतकर क्षत्रिय पवार समाज का नाम रोशन किया है। इस विजय के बाद पाहुनी पवार का इंडिया टीम ट्रायल्स के लिए चयन हुआ है। पाहुनी पवार के चयन होने पर पिता प्रकाश पवार, माता नूपुर पवार, नाना शिवचरण कालभोर, नानी दुर्गा कालभोर, जिला क्षत्रिय पवार समाज के जिलाध्यक्ष बाबूलाल कालभोर, उपाध्यक्ष बीआर पवार, मुन्नालाल डहारे, हरिराम पवार, लीलाधर कालभोर, जेए कालभोर, विजय डिगरसे, आशीष पवार, नीरज पवार सहित समाज के लोगों ने बधाई दी है।

उल्लेखनीय है कि भोपाल में 64 वीं राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप 2021 का आयोजन किया गया था। जिसमें क्षत्रिय पवार समाज की मुलताई निवासी पाहुनी पंवार ने शामिल होकर महिला वर्ग में 10 मीटर एयर राइफल क्वालिफिकेशन राउंड में अपना दबदबा कायम रखते हुए उसने 627.7 अंक बटोरे। अब पाहुनी का इंडिया टीम ट्रायल्स में चयन हुआ है। समस्त क्षत्रिय पवार समाज संगठन के द्वारा शुभकामनाएं, बधाई और उज्जवल भविष्य की कामना की है।

खेड़ीसाँवलीगढ़ के पास हुआ हादसा, बारात में घुसी बस 1 की मौत 2 गम्भीर।


खेड़ीसाँवलीगढ़ के पास हुआ बड़ा हादसा सड़क किनारे जा रही बारात में बस घुसी, 1 की मौत 2 गम्भीर,
शादी की खुशियां मातम में बदली, खेड़ी- कनारा के बीच मौडी़ के पास बड़ा हादसा
 

बैतूल। जिला मुख्यालय से करीब 12 किलोमीटर दूर स्थित खेड़ीसाँवलीगढ़ और कनारा के बीच परतवाड़ा मार्ग पर शुक्रवार देर शाम एक बस ने सड़क से जा रही बारातियों को चपेट में लिया। इस हादसे में 1की मौत, 2 लोगों गम्भीर रूप से घायल और हादसे में कई अन्य बाराती भी घायल हो गए। दुर्घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुँच गए है।

घायलों को जिला अस्पताल लाया गया घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सिमाला प्रसाद, टीआई रत्नाकर हिंगवे सहित प्रसाशनिक अधिकारी अस्पताल पहुँचे। घायलों में 2 डिप्टी रेंजर – सुरेंद्र धुर्वे, शोभाराम मवासे, वन विभाग में चौकीदार गुड्डू उइके की मौत हो गयी एवं रोंढा के लीलाधर कालभोर और जितेश पवार घायल हुए है, रोंढा के रवि पवार की थी शादी वन विभाग में नाकेदार के पद पर पदस्थ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बारात ग्राम रोंढा के पवार समाज की थी जो मौडी़ ग्राम में पहुँची थी। खेड़ी के आगे भैंसदेही से बैतूल की ओर आ रही बस ने बारातियों को चपेट में ले लिया, इससे 1की मौत,  2 लोग गम्भीर और कुछ अन्य के घायल होने की खबर है। बस चालक दुर्घटना के बाद फरार हो गया है।

जिला स्तरीय रैंकिंग में घोड़ाडोंगरी मॉडल हायर सेकेंडरी स्कूल प्रथम, नरखेड़ द्वितीय एवं सेमझिरा तृतीय स्थान पर


बैतूल। कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस के निर्देश पर जिले में संचालित शैक्षणिक संस्थाओं की कराई गई रैंकिंग में प्राप्त अंकों के आधार पर शासकीय मॉडल उच्चतर माध्यमिक विद्यालय घोड़ाडोंगरी प्रथम, शासकीय हाईस्कूल नरखेड़ द्वितीय एवं शासकीय हाईस्कूल सेमझिरा तृतीय स्थान पर रहे हैं। सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्रीमती शिल्पा जैन ने बताया कि जिला प्रमुख अधिकारियों के माध्यम से जिला स्तरीय रैंकिंग मापदण्डों के आधार पर स्कूलों का निरीक्षण कराया गया था, जिसमें उपरोक्त स्कूलों की रैंकिंग का आकलन किया गया है।

✍️संवाददाता-प्रदीप डिगरसे बैतूल✍️

खस्ताहाल मार्गों का शीघ्र डामरीकरण करें सरकार: विधायक निलय डागा।


अनूपूरक बजट में शामिल करने के लिए विभागीय मंत्री एवं कार्यपालन यंत्री को विधायक ने लिखा पत्र 

बैतूल। विधानसभा क्षेत्र की खस्ताहाल सड़कों के डामरीकरण की मांग को लेकर कांग्रेस विधायक निलय डागा ने विभागीय मंत्री एवं लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को पत्र लिखकर आगामी अनुपूरक बजट में विधानसभा क्षेत्र की खस्ताहाल सड़कों को शामिल करने की मांग की है। गौरतलब है कि विधायक श्री डागा ने पूर्व में भी विधानसभा क्षेत्र की खस्ताहाल सड़कों पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री एवं विभागीय मंत्री को पत्र प्रेषित कर खस्ताहाल सड़कों की स्थिति से अवगत कराया है लेकिन मामले में अब तक कार्यवाही होती नहीं देख उन्होंने पुनः डामरीकरण का मुद्दा उठाया है। विभागीय मंत्री एवं कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग बैतूल को प्रेषित पत्र में विधायक ने विधानसभा क्षेत्र बैतूल अन्तर्गत बैतूल / आठनेर क्षेत्र में कुल 35 मार्ग निर्माण कार्य की स्वीकृति के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजा है। वहीं इनमें से प्राथमिकता के आधार पर उन्होंने 18 मार्गों का चयन किया है। 

इन मार्गों को अनुपूरक बजट में शामिल करने की मांग

शाहपुर से लम्टी मार्ग हनुमान मंदिर तक, काजीजामठी से जैतापुर मार्ग माचना नदी पर ब्रीज सहित, रतनपुर से बुंडाला मार्ग, जूनावानी जोड से चारबन पहुंच मार्ग, मिलानपुर से गर्जन्या मार्ग, ग्राम सूरगांव में पण्डरी महाजन के खेत से रोंढा पहुंच मार्ग, खापा जोड से छिंदवाड सवासन्त, रोंढा से भवानीतेढा मार्ग, खेडी अचंलपुर नाके से कोसमी औद्योगिक क्षेत्र तक, हाईवे से ग्राम साकादेही तक, रामनगर माचना से बाजपुर तक, उमरी से बैतूल मलकापुर मुख्य मार्ग तक, केलापुर से बैतूल मलकापुर मुख्य मार्ग तक, सिंगनवाडी से बाजपुर तक, बाजपुर से आरूल मल्कापुर मार्ग, ग्राम सातनेर से भीवापुर मार्ग, बोथी से सिहारढाना तक, आठनेर से गुप्तेश्वर मार्ग निर्माण के प्रस्ताव को प्राथमिकता के आधार पर वित्तीय वर्ष 2021-22 के अनुपूरक बजट में शामिल करवाने की मांग विधायक द्वारा की गई है।

खस्ताहाल सड़कों से परेशान है ग्रामीण

गौरतलब है कि बैतूल एवं आठनेर ब्लॉक के दर्जनों ग्रामों में खस्ताहाल सड़कों से ग्रामीण परेशान है। सरकार की अनदेखी का खामियाजा कदम-कदम पर यहां के ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है। सरकार की अनदेखी के चलते ग्रामीण क्षेत्रों में खस्ताहाल मुख्य मार्ग इन दिनों ग्रामवासियों की परेशानी का सबब बना हुआ है। खस्ताहाल सड़क से परेशान ग्रामीणों की सुध लेते हुए विधायक निलय डागा ने पूर्व में भी मुख्यमंत्री, विभागीय मंत्री को पत्र लिखकर ग्रामीणों की समस्याओं से अवगत कराया है। खस्ताहाल सड़क से हो रही परेशानी से अनेकों बार ग्राम पंचायत प्रशासन से लेकर शासन प्रशासन को अवगत कराया जा चुका है। उसके बावजूद प्रशासनिक उदासीनता के कारण ग्रामवासी परेशानी से जूझने को मजबूर हैं। विधायक ने ग्रामीणों की समस्या को देखते हुए 18 मार्ग का प्राथमिकता के आधार पर डामरीकरण कराने की मांग की है।

नरखेड़ के पास भीषण हादसा, 5 लोगों की मौत, 15 से ज्यादा घायल


मुलताई। मुलताई से प्रभात पट्टन मार्ग पर ग्राम नरखेड़ के पास तेज रफ्तार से आ रहे कंटेनर ने बस को टक्कर मार दी , जिसमे बस में सवार यात्रियो में से 3 लोगो की घटना स्थल पर ही मौत 2 अन्य की भी बाद में मौत हो गयी और 15 से ज्यादा लोगों के घायल होने की संभावना है, जिन्हें घटना स्थल पर पहुँचे ग्रामीणो ने नजदीकी स्थित मुलताई शासकीय अस्पताल और बैतूल चिकित्सालय में रेफर कर दिया गया है, उसमें से कुछ लोगो की हालत नाजुक आ बताई जा रही है । बस चालक की नागपुर ले जाते समय मौत हो गई है।

घटना स्थल पर ग्राम नरखेड़ के लोगों ने बताया की प्रभात पट्टन की तरफ से मुलताई जा रहे तेज रफ्तार से कंटेनर ने प्रभात पट्टन जा रही बस को जोरदार टक्कर मार दी गयी। बस बुरी तरह से छतिग्र्स्त हो गयी है, बस वंडली से प्रभातपट्टन जा रही थी, इसमे कुल 40 सवारी थी । जिसमें से 3 लोगो की मौत हो गयी बाकी घायलों को 108 को सूचना देते हुये उन्हे प्राथमिक उपचार के लिए शासकीय अस्पताल मुलताई और बैतूल चिकित्सालय में रेफर कर किया गया है ।  घटना स्थल पर पहुँचे लोगों ने डायल 100 को सूचना दी मौके पर डायल 100 के पुलिस करने ने घटना स्थल का पंचनामा बनाया ।

मुलताई प्रभात पट्टन मार्ग पे नरखेड़ गांव में हुआ दर्दनाक हादसा 4 लोगो की मौत 12 लोगों के घायल- देखें वीडियों


प्रभातपट्टन  मार्ग पर ग्राम नरखेड़ के पास मोड़ पर   विपरित दिशा से आ रहे ट्रक और बस में  भिड़ंत हो गई।  भिड़ंत  में चार लोगों की मौत हो गई एवं 12 लोग घायल हुए है | नारखेड़ के पास बस और ट्रक की जोरदार भिड़ंत में  दोनो वाहन  पलट गए  दुर्घटना में  बस में सवार लोग घायल हो गए  बुधवार दोपहर 11.45 बजे के दरमियान प्रभात पट्टन की ओर से मुलताई आ रही निजी कंपनी की बस और  वरु ड की ओर जा रहे ट्रक में ग्राम नरखेड के पास मोड़ पर भिड़ंत हो गई भिड़ंत के बाद दोनों वाहन पलट गए दुर्घटना में  बस में सवार  यात्री  घायल हो गए दुर्घटना के लगभग आधा घंटा बाद  एंबुलेंस पहुंची जब तक ग्रामीणों ने बस में फंसे यात्रियों को बाहर निकालकर निजी वाहन से सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए पहुंचाया | मुलताई टी आई सुनील लाटा ने बताया कि  दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गई है एवं 10 से अधिक यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए हैं वही घायल हो गए है दो से तीन यात्रियों की हालत गंभीर बनी हुई है

“अजब गांव की गजब दास्तां – रोंढा” पुस्तक का सांसद श्री डी डी उइके ने किया विमोचन


बैतूल। जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम रोंढा में रविवार को रामकिशोर दयाराम पंवार लिखित पुस्तक “अजब गांव की गजब दास्तां” का विमोचन बैतूल-हरदा-हरसूद सांसद श्री डीडी उइके और रामकिशोर पवार की माँ श्रीमती कसिया बाई पवार की गरिमामयी उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

रामकिशोर ने अपने गांव के बारे किताब लिख कर देश – दुनियां को रोंढ़ा के बारे में वह जानकारी देने का काम किया है। जिसे आने वाली पीढ़ी को गांव के बारे में पता चल सकेगा, कि यह गांव कितना समृद्ध एवं विकासशील था।

बैतूल-हरदा-हरसूद संसदीय क्षेत्र से सासंद श्री डीडी उइके ने ग्राम रोंढ़ा में पहली बार शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर रोंढ़ा में आयोजित पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में मां सरस्वती एवं पुण्य सलिला मां सूर्यपुत्री ताप्ती की पूजा अर्चना और दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

कार्यक्रम में आमंत्रित सभी अतिथियों का पुष्पमाला से स्वागत सत्कार होने के बाद पत्रकार / लेखक रामकिशोर दयाराम पंवार रोंढ़ावाला की पुस्तक “अजब गांव की गजब दास्तां” का विमोचन करते हुए मध्यप्रदेश – महाराष्ट्र की सीमा पर बसे आदिवासी बाहुल्य बैतूल जिले से चुने गए भाजपा सासंद श्री दुर्गादास उइके ने अपने धारा प्रवाह भाषण में कहा कि जन्म देने वाली माँ की महिमा का बखान करते हुए कहा कि मै उन सौभाग्यशाली लोगों में से एक हूँ, जिसने अपने और लेखक रामकिशोर दयाराम पंवार के माता – पिता के संग चार धामों की यात्रा की है।

लेखक और उसके परिवार के साथ-साथ अपने पुराने सबंधो का जिक्र करते हुए सांसद ने कहा कि आज के कार्यक्रम में उपस्थित लेखक की माता श्रीमति कसिया बाई पंवार को सम्बोधित करते हुए कहा कि माँ की मौजूदगी किसी भी कार्यक्रम में चार चाँद लगा देती है। माता – पिता की सेवा का सौभाग्य हर किसी को नहीं मिलता है। जननी और जन्मभूमि दोनो माता है। आज रामकिशोर पंवार ने अपनी जन्मभूमि की महिमा को किताब का रूप देकर उसका कर्ज अदा कर दिया है। सासंद श्री उइके ने कहा कि माँ की महीमा अपरमपार है।

पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में ग्राम रोंढ़ा में जन्मे दो दर्जन से अधिक शासकीय सेवानिवृत एवं शासकीय सेवारत लोगो तथा सेना के सेवानिवृत सैनिको का शाल श्री फल से सम्मान किया। गांव से निकल कर गांव की पहचान बनाने वाले, जिनका सम्मान किया गया वे अपने सम्मान को पाकर भाव विभोर हो गए।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से महाकौशल की संस्कारधनी नगरी जबलपुर से पधारे अंतराष्ट्रीय कवि माथुरकर जबलपुरी, पवार समाज संगठन के जिलाध्यक्ष बाबूलाल कालभोर, रोंढ़ा के श्री गुलाबराव कालभोर, श्री दीलिप ओमकार, श्री अशोक बारंगे, श्री चन्द्रशेखर मुल्लू देवासे, श्री मिसरू देवासे, बैतूल के नामचीन अधिवक्ता श्री प्रशांत गर्ग, ग्राम रोंढ़ा में पढ़े पूूर्व जिला भाजपा महामंत्री एवं शासकीय अधिवक्ता बलराम कुंभारे, अधिवक्ता संजय शुक्ला, पत्रकार सुनील पलेरिया,

मुलताई से जगदीश चन्द्र पवार, श्री कमल पवार, भाजपा मीडिया प्रभारी अखलेश परिहार, युवा कवि अजय पवार, इंजीनियर अनिल डिगरसे, सहायक इंजीनियर लक्ष्मण पवार, सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी श्री दिनेश डिगरसे, लाडो फाऊडेंशन के अनिल यादव पहलवान, रेडक्रास सोसायटी के अध्यक्ष डाँ अरूण जयसिंहपुरे, श्री वायुसेना में कार्यरत रहे कैप्टन अशोक पंवार, मुन्नालाल डहारे, जनकलाल कड़वे, श्यामराव देशमुख जामठी,

ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष तरूण कालभोर,जनपद सदस्य ललीत बांरगे, तरूण पाठा, सुभाष कालभोर, विजेन्द्र पाठा, रमेश डिगरसे, जगदीश खपरिये, पत्रकार नीतिन अग्रवाल, राज मालवीय, मनोज अतुलकर, गौदन कालभोर, चन्द्रेश ओमंकार, युगेश देशमुख, कल्लू कोड़ले, प्रवीण चौधरी, संतोष कालभोर, राजेश तावरे, दयाराम चौधरी, मोहन डोंगरदिये, तोषण खपरिये, अनुकुल डिगरसे, रोशन देशमुख, सचिन हजारे, दुर्गाप्रसाद कसरादे आदि उपस्थित थे।

कार्यक्रम का संचालन श्री बी. आर. पंवार शिक्षक एवं श्री संजय पठाडे शेष और आभार प्रदर्शन श्री प्रदीप डिगरसे रोंढा द्वारा किया गया।

धूमधाम से निकलेगी माँ ताप्ती की चुनरी यात्रा, सैंकडों जगह होगा स्वागत


ताप्ती मैया के आशीर्वाद ने विधायक के संकल्प को निभाया, धूमधाम से निकलेगी चुनरी यात्रा, सैंकडों जगह स्वागत

बैतूल। सूर्यपुत्री मां ताप्ती के पूजन-अभिषेक का यदि किसी ने संकल्प लिया तो मां स्वयं आगे बढ़कर उसका संकल्प पूर्ण कराती है। कुछ ऐसा ही बैतूल विधायक निलय डागा के मामले में हुआ। एक ओर जब शासन-प्रशासन ने कार्तिक पूर्णिमा के मेले आदि तक पर प्रतिबंध लगा दिया था तब विधायक ने पत्रकार वार्ता में सीना ठोंककर कहा था कि वो हर हाल में मां ताप्ती को चुनरी चढ़ाने जाएंगे चाहे इसके लिए उन्हें जेल क्यों न जाना पड़े। लेकिन मां ताप्ती की कृपा विधायक पर कुछ ऐसी बरसी कि स्वयंमेव शासन ने सभी मेले-ठेले और धार्मिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध हटा दिए।
बुधवार की शाम ऐसे आदेश आते ही बैतूल जिले के धार्मिक संस्थानों और संस्थाओं ने खुशी जताई और मां ताप्ती का इसे चमत्कार ही माना कि ऐतिहासिक चुनरी यात्रा के ठीक पहले उसने शासन को दुरस्त कर दिया। आखिर सबकी नाराजगी इसी बात को लेकर थी कि एक ओर तो प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के लिए लाखों लोग जुटाए जा रहे हैं वहीं धार्मिक मेलों आदि पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। बैतूल विधायक श्री निलय डागा और जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनील शर्मा गुड्डू ने तो बाकायदा पत्रकार वार्ता लेकर शासन-प्रशासन की इस दोमुंही नीति का विरोध किया था। विरोध का यह दांव वायरल हुआ और मां ताप्ती के आगे शासन को घुटने टेकने पड़े।


इस संबंध में जब विधायक श्री निलय डागा से बात की गई तो उन्होने कहा कि वे प्रतिवर्ष कार्तिक पूर्णिमा पर मां ताप्ती को चुनरी चढ़ाने जाते हैं। इस साल जब शासन-प्रशासन ने प्रतिबंध की बात की तो लोगों का आक्रोशित होना स्वाभाविक था। जहां तक मेरी बात है तो मां के सम्मान के लिए जेल जाना या कोई प्रताड़ना सहना बड़ी बात नहीं है। हम कभी नियम नहीं तोड़ते लेकिन बेवजह के अत्याचार को सहन करना भी अधर्म है।


आम लोगों के अलावा सभी धर्म व मंदिर संस्थान से जुड़े लोगों ने भी चुनरी यात्रा को अब और धूमधाम से मनाने का निश्चय किया है।

मां ताप्ती चुनरी यात्रा का जगह-जगह होगा स्वागत

विधायक श्री निलय डागा और उनकी धर्मपत्नी श्रीमती दीपाली डागा के नेतृत्व में करीब 24 किमी की यह माँ ताप्ती चुनरी पद यात्रा 19 नवंबर शुक्रवार को प्रातः 7 बजे लल्ली चौक स्थित मंदिर में पूजन के साथ आरंभ होगी। इसके बाद प्रातः 7 बजे लल्ली चौक, 7.15 बजे थाना चौक, 7.30 बजे अखाड़ा चौक टिकारी, 8.00 बजे कारगिल चौक सदर, 8.15 बजे गेंदा चौक, 8.30 बजे डान बास्को, 8.40 कर्बला घाट माचना, 8.45 फोरलेन चौराहा, 9.00 धनोरा,9.30 बजे परसोड़ा,9.45 बजे भडुस,10.30 महदगांव ,11.00 डहरगांव,11.30 खेड़ी,12.00 मौड़ी कनारा, 1.00 लोहा पुल,1.30 ताप्ती घाट पहुंचेगी। यहां चुनरी अर्पण के बाद केरपानी स्थित हनुमान मंदिर के दर्शन पूजन के लिए यात्री जाएंगे और इसके साथ ही यात्रा का समापन होगा।