Tag Archives: Bhopal

#covid_19 वायरस के बारे में अफवाह फैलाने वाले पर हो कार्यवाही – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने की कोरोना के फैलाव को रोकने के उपायों की विस्तृत समीक्षा

शिवपुरी में भी कर्फ्यू लगाने के निर्देश

कोरोना वायरस संक्रमण के संबंध में अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध कार्रवाई करें

भोपाल: मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहां मंत्रालय में दूसरे दिन प्रदेश में कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के उपायों की विस्तृत समीक्षा की। समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्वालियर एक और शिवपुरी में एक प्रकरण पॉजिटिव पाया गया है। इसे गंभीरता से लेते हुए उन्होंने शिवपुरी में भी कर्फ्यू लगाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कोरोना को फैलाव को रोकने लिये चेन तोड़ना जरूरी है। स्थानीय संक्रमण से इसका फैलाव हर हालत में रोकना होगा। उन्होंने कहा कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है। सबके सहयोग से ही इस पर काबू पाया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के संबंध में अफवाहें फैलाने और अवैज्ञानिक जानकारी फैलाने वालों के विरूद्ध कार्रवाई करें। कॉल सेंटर में काम कर रहे अमले को लोगों को सटीक जानकारी देने के लिये निर्देश दें। उन्होंने कोरोना के फैलाव की रोकथाम के लिये वैज्ञानिक जानकारी के प्रसार में मीडिया से भी सहयोग देने का आग्रह किया है। उन्होंने चिकित्सा सेवा के क्षेत्र में काम कर रहे निजी अस्पतालों में उपलब्ध अमले से भी सहयोग देने को कहा है। उन्होंने कहा कि जिन राष्ट्रीय उदयानों, पर्यटन क्षेत्रों का भ्रमण कर विदेशी मेहमान लौटे हैं, उन क्षेत्रों में सघन जांच करें।

समीक्षा बैठक में बताया गया कि भोपाल मेमोरियल अस्पताल और अनुसंधान सेंटर को राज्य स्तरीय कोविड 19 संस्थान घोषित किया गया है। अब तक कुल नौ पॉजिटिव प्रकरणों का पता चला है। ये प्रकरण चार जिलों में हैं। ग्वालियर, भोपाल और जबलपुर में पहले से कर्फ्यू है। कुल 26 प्रकरण जांच के लिये भेजे गये हैं और 1920 की निगरानी की जा रही है। जिन जिलों में विदेशी नागरिक आये थे, वहां शहरी क्षेत्रों में घर—घर जाकर जांच की जा रही है और निगरानी रखी जा रही है। मुख्यमंत्री ने ऐसे संभावित घरों और क्षेत्रों को तत्काल अलग रखने के निर्देश दिये ताकि वहां रहने वाले किसी के संपर्क में नहीं आयें। दस डिस्टिलरी को सेनीटाइजर बनाने के लिये कहा गया है ताकि वह स्थानीय तौर पर ही आसानी से उपलब्ध हो जाये।

बैठक में चिकित्सा सलाह के अनुसार सभी अधिकारियों के बैठने की व्यवस्था लगभग एक मीटर के अंतर पर की गई थी। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी और सभी संबंधित विभागों के अपर मुख्यसचिव एवं प्रमुख सचिव उपस्थित थे।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

मध्यप्रदेश #covid_19 मरीजो की संख्या हुई 09


मध्यप्रदेश : 2 और लोग Corona पॉजिटिव, कुल 9 मामले हुए

भोपाल : मध्य प्रदेश में ग्वालियर और शिवपुरी में 2 कोरोना पॉजिटिव मिलने से संक्रमितों की संख्या 9 हो गई है। इसके पहले 6 जबलपुर और एक भोपाल में संक्रमित मरीज मिला है। मंगलवार रात से घरेलू विमान सेवाएं भी बंद हो जाएंगी। अभी तक 43 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया। प्रदेश में प्रभावित देशों से आए 1,269 लोगों की पहचान कर ली गई है। इनमें से 758 को घरों में आइसोलेशन कर रखा गया है। 425 यात्रियों का सर्विलेंस पूरा हो चुका है। वहीं, 100 संभावित केसों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।
ग्वालियर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने बताया कि 2 संदिग्धों की जांच रिपोर्ट में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें एक ग्वालियर का है, जो हाल ही में खजुराहो से लौटा था। दूसरा शिवपुरी का रहने वाला, जो पिछले दिनों दुबई से लौटा था। दोनों कोरोना संक्रमितों में एक को ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल में आइसोलेशन में रखा गया, जबकि दूसरे को शिवपुरी के जिला अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड बनाकर रखा गया है।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

‌‌‌‌‌”लाॅक डाउन”यह आदेश 23 मार्च 2020 से 31 मार्च 2020 तक लागू रहेगा।


बैतूल: लॉक डाउन-
————
पानी के केन, किराना, फल, सब्जी की सप्लाई-विक्रय दोपहर 12 से दोपहर 3 बजे तक की जा सकेगी
—————
दोपहिया-चौपहिया एवं अन्य वाहनों का आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा
—————-
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री राकेश सिंह ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के दृष्टिगत जिले में प्रभावशील लॉकडाउन के दौरान आमजन को अत्यावश्यक वस्तुओं की उपलब्धता में सहूलियत दी गई है। इस दौरान दोपहिया-चौपहिया एवं अन्य वाहनों का आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। इस व्यवस्था का कड़ाई से पालन कराया जाएगा।

इस संबंध में जारी आदेशानुसार पानी के केन, किराना, फल, सब्जी की सप्लाई विक्रय दोपहर 12 बजे से दोपहर 3 बजे तक की जा सकेगी।

नागपुर-भोपाल हाईवे पर स्थित पेट्रोल पम्प निर्बाध खुले रहेंगे तथा जिले के शेष पेट्रोल पम्प दोपहर 12 बजे से दोपहर 3 बजे तक ही खुले रहेंगे।

समस्त गैस एजेंसियां अपने निर्धारित समय पर खुली रहेंगी। गोडाउन से गैस का वितरण नहीं किया जाएगा। गोडाउन से गैस की होम डिलेवरी किए जाने की छूट रहेगी। प्लांट से गोडाउन तक पहुंचने हेतु उपयोग में आने वाले वाहनों को आने-जाने की छूट रहेगी।

जिले की समस्त शासकीय उचित मूल्य की दुकानें प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से दोपहर 3 बजे तक खुली रहेगी तथा वेयर हाउस एवं केरोसिन डिपो से थोक डीलर द्वारा राशन दुकानों में पहुंचाने वाले केरोसिन/खाद्यान्न वाहनों को आने-जाने की छूट रहेगी।

डॉक्टर्स के क्लीनिक एवं मेडिकल स्टोर्स, पशु चिकित्सालय में कार्य करने वाले कर्मचारी उक्त प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

नगरपालिका/नगर पंचायतों के समस्त आवश्यक सेवाएं यथा साफ-सफाई, वेस्ट डिस्पोजल, पेयजल, प्रकाश व्यवस्था में लगे कर्मचारी एवं वाहन प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया, टेलीकॉम इन्टरनेट, पोस्टल सेवायें प्रतिबंध से मुक्त रहेगी।

जिले में दो एवं चार पहिया वाहन से आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा और अत्यावश्यक परिस्थिति से संबंधित कार्यपालिक मजिस्ट्रेट से अनुमति प्राप्त की जा सकेगी। अगर किसी व्यक्ति को जिले से बाहर निकलना है तो संबंधित थाना क्षेत्र से निर्धारित प्रारूप में अनुमति पास प्राप्त करेंगे।

विधि व्यवस्था से संबंधित पदाधिकारी/कर्मी, पुलिस, स्वास्थ्य (निजी एवं शासकीय चिकित्सा संस्थानों में कार्यरत समस्त अधिकारी/कर्मचारी), अग्निशमन सेवा, राशन दुकान, रेल, बस अड्डा, पेयजल आपूर्ति एवं बिजली विभाग, नगरीय प्रशासन विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, नगर सैनिक, होमगार्ड, आपदा प्रबंधन, प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक्स मीडिया के अधिमान्य पत्रकार, डाक सेवाएं, उक्त कार्यालयों को उपरोक्त प्रतिबंधों से बाहर रखा गया है।

कोल माइन्स में कोयले का उत्पादन जारी रहेगा तथा इसमें लगे वाहनों को परिवहन से छूट रहेगी। संस्थान प्रबंधन द्वारा संक्रमण को रोकने हेतु आवश्यक सुरक्षा मापदण्ड का पालन सुनिश्चित किया जाए।

यह आदेश आम जनता को संबोधित है। चूंकि वर्तमान में ऐसी परिस्थितियां नहीं है और न ही यह सम्भव है कि इस आदेश की पूर्व सूचना प्रत्येक व्यक्ति को दी जाए। अत: यह आदेश एक पक्षीय पारित किया जाता है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। एपीदेमिक डिसिस एक्ट 1897 के तहत मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी किए गए नियम 23.03.2020 की कंडिका 10 के अंतर्गत भारतीय दण्ड संहिता की धारा 187, 188, 269, 270, 271 के अंतर्गत दंडनीय है एवं उल्लंघन कर्ता के विरूद्ध इन धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जा सकती है।

यह आदेश 23 मार्च 2020 से 31 मार्च 2020 तक लागू रहेगा।

आदेशानुसार जिला कलेक्टर बैतूल

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

मध्यप्रदेश में #covid_19 के मरीजों की संख्या हुई 4 बढ़कर 6


भोपाल: प्रदेश में रविवार को एक महिला सहित 2 और लोग कोरोना वायरस (Corona virus) से संक्रमित पाए गए। इसी के साथ मध्यप्रदेश में इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 6 हो गई है। कोरोना के खतरे को देखते हुए 9 जिलों में लॉकडाउन कर दिया गया।
रविवार को जो दो लोग इस वायरस के लिए संक्रमित पाए गए हैं, उनमें भोपाल में 26 वर्षीय एक छात्रा और जबलपुर में 40 वर्षीय एक पुरुष शामिल हैं। भोपाल में कोविड19 का यह पहला मामला है, जबकि जबलपुर में पांचवा मामला है।

मध्यप्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस का पहला मामला आया। इस दिन चार लोग जबलपुर शहर में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। उनमें दुबई से लौटे जबलपुर के एक कारोबारी परिवार के तीन सदस्य और जर्मनी से वापस आया एक व्यक्ति शामिल है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार जो व्यक्ति रविवार को जबलपुर में संक्रमित पाया गया है, वह 2 दिन पहले जबलपुर के संक्रमित पाए गए कारोबारी की दुकान में काम करता है। उसे भी जबलपुर शहर के पृथक वार्ड में रखा गया है। यह कारोबारी दुबई से आने के बाद अपनी दुकान खोलकर उसमें बैठा था। भोपाल में कोराना वायरस के लिए संक्रमित पाई गई छात्रा लंदन से आई थी।

इसके मद्देनजर मध्यप्रदेश सरकार ने एहतियात तौर पर भोपाल एवं जबलपुर सहित 9 जिलों को लॉकडाउन कर दिया है। इन दोनों जिलों के अलावा, सात अन्य जिल सिवनी, बालाघाट, बैतूल, ग्वालियर, छिन्दवाड़ा, रतलाम और नरसिंहपुर हैं। इन 9 जिलों में से नरसिंहपुर में 14 दिनों तक शटडाउन रहेगा, जबकि भोपाल में तीन दिन यानी 72 घंटे का लॉकडाउन किया गया है और बाकी सात जिलों को दो या तीन दिनों तक बंद किया जाएगा।

इसके अलावा, अत्यावश्यक सेवा से जुड़े अमले को छोड़कर मध्यप्रदेश के समस्त सरकारी कार्यालयों एवं संस्थाओं में कार्यरत अमले को अस्थाई रूप से 31 मार्च तक अपना कार्यालयीन कार्य अपने निवास स्थान से करने के आदेश जारी किए हैं।

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

राजाभोज एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस युवती संदिग्ध मिलने का मामला


भोपाल: युवती को जेपी अस्पताल में उपचार के लिए भेजा

आइसोलेशन में रखा जाएगा युवती को

19 साल की है कोरोना संदिग्ध

एयर इंडिया की फ्लाइट पुणे हुई रवाना

एयर इंडिया की दिल्ली फ्लाइट सुबह 10 दिल्ली बजे आई थी भोपाल

दिल्ली से भोपाल सफर करके आई थी यात्री

राजाभोज टर्मिनल पर चेकअप के दौरान महिला में मिले कोरोना वायरस के लक्षण

फ्लाइट को राजाभोज एयरपोर्ट पर किया गया था होल्ड

फ्लाइट को किया गया सेनिटाइज

पायलट और एयरपोर्ट ऑथोरिटी के अधिकारियों की चर्चा के बाद फ्लाइट ने भरी पुणे के लिए उड़ान

शिवा पवार मुलतापी समाचार बैतूल

MP भोपाल रेलवे स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का स्लोप ढहा, करीब 5 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका


Multapi samachar

Breaking news

  • भोपाल स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 2-3 पर हादसा हुआ।
  • मलबे से निकाले गए लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।
  • घटना के कारण गाड़ियों को रोका गया आउटर पर

हादसा 2-3 नंबर प्लेटफॉर्म पर हुआ, तब तिरुपति निजामुद्दीन एक्सप्रेस खड़ी हुई थीएफओबी से प्लेटफॉर्म की ओर जाने वाला स्लोप गिरा, नीचे बैठे कई लोग चपेट में आए

मुलतापी समाचार

भोपाल मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पुराने स्टेशन पर गुरुवार को फुटओवर ब्रिज (एफओबी) के स्लोप का एक हिस्सा ढह गया। घटना के वक्त स्टेशन पर काफी लोगों की भीड़ थी। इसके मलबे में करीब 5 लोगों के दबे होने की आशंका है। पुलिस और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी राहत-बचाव कार्य में जुटे हैं। कुछ घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सूत्रों के मुताबिक, हादसा 2-3 नंबर प्लेटफॉर्म पर हुआ। उस वक्त तिरुपति निजामुद्दीन एक्सप्रेस खड़ी हुई थी। फुटओवर ब्रिज के नीचे कुछ स्टॉल भी लगे हुए थे। हादसे के बाद रेलवे प्रशासन ने आम यात्रियों के लिए एफओबी को बंद कर दिया।